RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन

Rajasthan Board RBSE Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन

RBSE Solutions for Class 8 Science

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन

RBSE Class 8 Science कार्बन और ईंधन Intext Questions and Answers

पृष्ठ 191.

पाठगत प्रश्नोत्तर

प्रश्न 1.
दैनिक जीवन के विभिन्न क्रियाकलापों में ऊर्जा के स्रोत के रूप में ईंधन का उपयोग किया जाता है। निम्नलिखित सारणी में अंकित कार्य के सामने उसमें प्रयुक्त ईंधन का नाम लिखिए।
उत्तर:
सारणी : विभिन्न कार्यों में प्रयुक्त ईंधन
RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन 1

पृष्ठ 195.

प्रश्न 2.
जलती हुई मोमबत्ती पर कोई पात्र ढकने पर आप क्या देखते हैं?
उत्तर:
मोमबत्ती बुझ जाती है।

RBSE Class 8 Science कार्बन और ईंधन Text Book Questions and Answers

सही विकल्प का चयन कीजिए

Question 1.
कोयले का प्रकार जिसमें कार्बन की अधिकतम मात्रा ………………
(अ) पीट
(ब) लिग्नाईट
(स) एन्थ्रासाइट
(द) बिटुमेनी
उत्तर:
(स) एन्थ्रासाइट

Question 2.
पेट्रोलियम के प्रभाजी आसवन में वाष्पशील पदार्थों के निकल जाने पर शेष रहता है ………………
(अ) स्नेहक तेल
(ब) मोम
(स) डामर
(द) डीजल
उत्तर:
(स) डामर

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन

Question 3.
कार्बन का क्रिस्टलीय अपररूप है ………………
(अ) लकड़ी का कोयला
(ब) काजल
(स) जांतव चारकोल
(द) ग्रेफाइट
उत्तर:
(द) ग्रेफाइट

रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए

  1. घरों में काम आने वाला द्रव ईंधन ………………. है।
  2. ग्रेफाइट में प्रत्येक कार्बन परमाणु अपने निकटतम के ………………. कार्बन परमाणुओं से जुड़ा होता है, जबकि हीरे में प्रत्येक कार्बन परमाणु अपने निकटतम के ……………… कार्बन परमाणुओं से जुड़ा होता है।
  3. दहन प्रक्रिया के लिए ………………. आवश्यक है।

उत्तर:

  1. LPG
  2. तीन, चार
  3. ऑक्सीजन

निम्नांकित वाक्य सही हैं या गलत लिखिये

  1. लिग्नाइट कोयले में 67% कार्बन है।
  2. पीट कोयला द्रव ईंधन का उदाहरण है।
  3. स्नेहक तेल वाहनों एवं रसोई में ईंधन की तरह उपयोगी
  4. कार्बन के क्रिस्टलीय अपररूप ग्रेफाइट, हीरा व फुलरीन हैं।

उत्तर:

  1. सही
  2. गलत
  3. गलत
  4. सही।

लघु उत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
पेट्रोलियम गैस के उपयोग लिखिए।
उत्तर:
यह मुख्य रूप से वाहनों एवं रसोई में ईंधन के रूप में उपयोगी है। इसका उपयोग घरेलू ईंधन के रूप में होता

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन

प्रश्न 2.
पेट्रोल व डीजल जैसे पदर्थों का हमें विवेकपूर्वक उपयोग क्यों करना चाहिए? कारण दीजिए।
उत्तर:
पेट्रोल व डीजल समाप्त होने वाले संसाधन हैं तथा इनके ज्ञात भण्डार भी सीमित हैं। अतः यह आवश्यक है कि हम पेट्रोल व डीजल का सीमित उपयोग करें। इन ईंधनों के जलने से वायु प्रदूषण भी होता है। साथ ही इनका सम्बन्ध विश्व ऊष्णन (ग्लोबल वार्मिंग) से भी है। अतः हमें इनका उपयोग कम से कम तथा आवश्यकतानुसार ही करना चाहिए जिससे ये ईंधन हमें लम्बे समय तक प्राप्त हो सकें।

प्रश्न 3.
हीरा तथा ग्रेफाइट के गुणों में अन्तर लिखिए।
उत्तर:
सारणी – ग्रेफाइट एवं हीरे में अन्तर
RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन 2

प्रश्न 4.
ईंधन के रूप में एल. पी. जी. व लकड़ी की तुलना कीजिए।
उत्तर:
लकड़ी की अपेक्षा एल. पी. जी. आसानी से जलती है तथा लकड़ी से ज्यादा ऊष्मा उत्पन्न करती है। एल. पी. जी. के दहन से कोई भी. अपशिष्ट नहीं बचता जबकि लकड़ी के दहन से राख आदि बच जाते हैं। इसलिए एल. पी. जी. एक स्वच्छ ईंधन कहलाता है तथा इसके कारण वायु प्रदूषण नहीं होता है।

प्रश्न 5.
पाँच यौगिकों के नाम बताइए जिनमें कार्बन होता है।
उत्तर:
मेथेन, ब्यूटेन, इथेन, प्रोपेन, एथिलीन।

दीर्घ उत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
हीरा तथा ग्रेफाइट की संरचना का नामांकित चित्र बनाकर अन्तर स्पष्ट कीजिए।
उत्तर:
ग्रेफाइट तथा हीरे में कार्बन परमाणु विभिन्न तरीकों में परस्पर जुड़े अथवा आबन्धित होते हैं। परमाणुओं के इन्हीं विभिन्न पैटों के कारण ही ये दोनों गुणों में भिन्न-भिन्न होते हैं। ग्रेफाइट में प्रत्येक कार्बन परमाणु एक ही तल में अपने पास के अन्य तीन कार्बन परमाणओं के साथ जुड़ा रहता है और षटकोणीय जाल बनाता है। अनेक ऐसे तल एक दूसरे के ऊपर ढीले-ढाले अथवा आबद्ध रूप में रखे होते हैं। इसी कारण ये तल सरलता से फिसल जाते हैं। हीरे में कार्बन परमाणुओं की व्यवस्था पूर्णतया भिन्न है। प्रत्येक कार्बन परमाणु, अन्य चार कार्बन परमाणुओं के साथ जुड़कर त्रिविमीय (Three Dimensions) दृढ क्रिस्टल
RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन 3
की संरचना बनाता है। इसी अत्यधिक स्थायी संरचना के कारण ही हीरा अब तक ज्ञात पदार्थों में सबसे अधिक कठोर पदार्थ है।

प्रश्न 2.
निम्नलिखित सारणी में अपने विचार दीजिए तथा अन्य विद्यार्थियों के साथ चर्चा कर अपने विचार लिखिए।
RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन 4
उत्तर:
पेट्रोलियम ईंधन के उपयोग से लाभ:

  1. पेट्रोल का प्रयोग मोटर कारों में, वैमानिक ईंधन के रूप में तथा शुष्क धुलाई के लिए विलायक के रूप में होता है।
  2. पेट्रोल आसानी से उपलब्ध है।
  3. पेट्रोल के प्रयोग से मोटरकारों के इंजन में खराबी देर से आती है।

पेट्रोलियम ईंधन के उपयोग से हानि:

  1. पेट्रोल वायु प्रदूषण का मुख्य कारण है।
  2. पेट्रोल का उपयोग मानव सीमित समय तक कर सकता है, इसके भंडारण लगभग समाप्ति की ओर हैं।
  3. पेट्रोल के निरन्तर उपयोग से विश्व ऊष्णन का खतरा बढ़ रहा है।

प्रश्न 3.
पेट्रोल या डीजल या केरोसीन का उपयोग दिनों – दिन बढ़ रहा है। इनका धुआँ वायु में मिल रहा है, वायु प्रदूषण बढ़ रहा है। इस प्रदूषण प्रभाव को कम करने हेतु आप अपने सुझाव या विचार लिखिए।
उत्तर:

  1. जहाँ पर सम्भव हो, भोजन पकाने में, पानी को गर्म करने में एल. पी. जी. गैस या सौर ऊर्जा का प्रयोग करना चाहिए।
  2. कम दूरी के लिए पेट्रोल/डीजल के वाहनों का प्रयोग नहीं करना चाहिए।
  3. ईंधन की कम खपत करने वाले वाहनों का प्रयोग करना चाहिए तथा इंजनों की सफाई करते रहना चाहिए।
  4. सी. एन. जी. युक्त वाहनों का प्रयोग करना चाहिए।
  5. सड़कों पर, हाईवे पर दोनों तरफ पेड – पौधे लगाने चाहिए, जिससे वाहनों द्वारा उत्सर्जित कार्बन डाई आक्साइड का वे अवशोषण कर सकें।
  6. बड़े शहरों में सी. एन. जी. का कनेक्शन अवश्य लेना चाहिए।
  7. चौराहों की लाल बत्ती पर गाड़ी के इंजन को बन्द कर देना चाहिए।
  8. एक ही स्थान पर जाने के लिए कार-पूल का प्रयोग करना चाहिए।

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन

प्रश्न 4.
दैनिक जीवन में प्रयुक्त ईंधन की सूची बनाइए।
उत्तर:

  1. लकड़ी
  2. गोबर के उपले (कण्डे)
  3. पत्थर का कोयला
  4. लकड़ी का कोयला
  5. द्रवित पेट्रोलियम गैस (LPG)
  6. मिट्टी का तेल (केरोसीन)

प्रश्न 5.
पेट्रोलियम का खनन (कुआँ) का नामांकित चित्र बनाइए।
उत्तर:
RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन 5

प्रश्न 6.
सम्पूर्ण दहन, अपूर्ण दहन में क्या अन्तर है? उदाहरण देकर स्पष्ट करें।
उत्तर:
सम्पूर्ण दहन में कोई विषैली गैस नहीं बनती है। सम्पूर्ण ईंधन अवशिष्ट में बदल जाता है। ईंधन के अपूर्ण दहन से विषैली कार्बन मोनो आक्साइड गैस बनती है। जब किसी भी पदार्थ को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन मिलती है, तब तक नीली ज्वाला से जलता है, जिसे सम्पूर्ण दहन कहते हैं। उदाहरण – एल. पी. जी. का दहन। जब किसी भी पदार्थ को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं मिलती है, तब पीली ज्वाला के साथ जलता है। इसे अपूर्ण दहन कहते हैं। उदाहरण-लकड़ी का दहन। अपूर्ण दहन वाले पदार्थ वायु में प्रदूषण फैलाते हैं।

क्रियात्मक कार्य

प्रश्न 1.
प्राकृतिक कोयले के विभिन्न प्रकार की तुलना प्रदर्शित करने वाली सारणी बनाइए।
उत्तर:
RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन 6

प्रश्न 2.
गत्ते एवं प्लास्टिक की नलियों की सहायता से पेट्रोलियम के प्रभाजी आसवन का एक मॉडल तैयार कीजिए।
उत्तर:
विद्यार्थी इस मॉडल को अध्यापक जी की सहायता से स्वयं तैयार करें।

प्रश्न 3.
राजस्थान में पेट्रोलियम का खनन पर आलेख तैयार कीजिए।
उत्तर:
राजस्थान में पेट्रोलियम का खनन – राजस्थान स्टेट पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लि. 2 अप्रैल, 2007 को स्थापित हुई। 2 मार्च 2013 में बाड़मेर जिले में केयर्न एनर्जी में भारी मात्रा में तेल भंडार मिले हैं।
(अ) बाडमेर – सांचोर बेसिन:
इस बेसिन में खोजे गये प्रमुख तेल व गैस क्षेत्र निम्न हैं। बाडमेर में स्थित तेल क्षेत्र-फतेहगढ़, नगाणा, मंगला, गुढ़ामालानी, कोसलू, रागेश्वरी, कामेश्वरी तेल क्षेत्र, ऐश्वर्या तेल क्षेत्र (बायतू), विजया एवं भाग्यम तेल क्षेत्र (बोथिया) बाड़मेर सांचोर बेसिन के सरस्वती फील्ड में चल रही खनिज तेल की खोज में 36.8 मिलियन बैरल का भंडार पाया गया है। इस भंडार से 23 मई, 2011 से उत्पादन शुरू हो गया है।

(ब) राजस्थान शेल्फ बेसिन:
जैसलमेर, बीकानेर बागेवाला (जैसलमेर) मोहनगढ़ (जैसलमेर) डांडेवाला (जैसलमेर) शाहगढ़ (जैसलमेर)

(स) श्रीगंगानगर – नानूवाला

(द) 5 मार्च, 2013 को बाड़मेर जिले के पचपदरा क्षेत्र में हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HPCL), रिफाइनरी कम पेट्रोकेमिकल काम्प्लेक्स लगाने की अनुमति मिल गयी है। राजस्थान भारत का 15वाँ प्रदेश होगा जहाँ रिफाइनरी लगेगी।

(य) राज्य में अब तक सबसे बड़ा तेल – क्षेत्र नगाणा कवास क्षेत्र में मिला है। 10 फरवरी, 2004 को इस तेल क्षेत्र का नाम मंगला रखा गया है। मंगला भारत तथा दुनिया के नए तेल क्षेत्रों में सबसे बड़ा तेल उत्पादन क्षेत्र है।

RBSE Class 8 Science कार्बन और ईंधन Important Questions and Answers

बहुविकल्पीय प्रश्न

Question 1.
निम्नलिखित में द्रव ईंधन क्या है ………………….
(अ) गोबर
(ब) प्रोड्यूसर गैस
(स) वाटर गैस
(द) गेसोलीन
उत्तर:
(द) गेसोलीन

Question 2.
बिटुमिन में कार्बन की लगभग मात्रा होती है ………………….
(अ) 67%
(ब) 80%
(स) 90%
(द) 60%
उत्तर:
(ब) 80%

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन

Question 3.
पेट्रोलियम के खनन में सबसे नीचे मिलता है ………………….
(अ) पेट्रोलियम
(ब) खारा पानी
(स) ऊपरी परत
(द) गैसें
उत्तर:
(ब) खारा पानी

Question 4.
द्रव – सोना किसे कहते हैं ………………….
(अ) पानी
(ब) एल्कोहॉल
(स) पेट्रोलियम
(द) प्राकृतिक गैस
उत्तर:
(स) पेट्रोलियम

Question 5.
मंगला तेल क्षेत्र, राजस्थान के किस जिले में है ………………….
(अ) जैसलमेर
(ब) बाड़मेर
(स) श्रीगंगानगर
(द) बीकानेर
उत्तर:
(ब) बाड़मेर

Question 6.
‘माकम’ तेल क्षेत्र किस राज्य में है ………………….
(अ) मणिपुर
(ब) राजस्थान
(स) असम
(द) पंजाब
उत्तर:
(स) असम

Question 7.
प्रभाजी आसवन में 260°C से 340°C तापमान पर किसे अलग किया जाता है ………………….
(अ) केरोसिन
(ब) पैराफिन मोम
(स) डीजल
(द) डामर
उत्तर:
(स) डीजल

Question 8.
CNG का पूरा नाम है ………………….
(अ) संपीडित प्राकृतिक गैस
(ब) कोल नेचुरल गैस
(स) कोलतार प्राकृतिक गैस
(द) उपरोक्त में से कोई नहीं
उत्तर:
(अ) संपीडित प्राकृतिक गैस

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन

Question 9.
पेन्ट एवं सड़क निर्माण में पेट्रोलियम का निम्न में से कौन – सा घटक प्रयुक्त होता है ………………….
(अ) LPG
(ब) डीजल
(स) पैराफिन मोम
(द) बिटुमेन
उत्तर:
(द) बिटुमेन

Question 10.
PCRA द्वारा सलाह दी जाती है ………………….
(अ) वाहन चलाने के सम्बन्ध में
(ब) वाहन चलाते समय पेट्रोल/डीजल की बचत के सम्बन्ध में
(स) अधिक पेट्रोल डीजल उपयोग करने के सम्बन्ध में
(द) उपरोक्त में से कोई नहीं
उत्तर:
(ब) वाहन चलाते समय पेट्रोल/डीजल की बचत के सम्बन्ध में

Question 11.
ईंधन के अपूर्ण दहन से बनने वाली गैस है ………………….
(अ) कार्बन डाई ऑक्साइड
(ब) हाइड्रोजन
(स) कार्बन मोनो ऑक्साइड
(द) सल्फरडाइ – ऑक्साइड
उत्तर:
(स) कार्बन मोनो ऑक्साइड

Question 12.
कुकिंग गैस (LPG) में किसकी मात्रा अधिक है ………………….
(अ) मेथेन
(ब) एथेन
(स) एथिलीन
(द) ब्यूटेन
उत्तर:
(द) ब्यूटेन

Question 13.
प्रकृति में कार्बन पाया जाता है ………………….
(अ) केवल मुक्त अवस्था में
(ब) केवल यौगिकों में
(स) मुक्त एवं यौगिक दोनों अवस्थाओं में
(द) केवल अपने अपररूपों में
उत्तर:
(स) मुक्त एवं यौगिक दोनों अवस्थाओं में

Question 14.
निम्नलिखित पदार्थों में से किसमें कार्बन नहीं पाया जाता है ………………….
(अ) कोयला में
(ब) चीनी में
(स) रोटी में
(द) नमक में
उत्तर:
(द) नमक में

Question 15.
दहन का कौन-सा प्रकार नहीं है ………………….
(अ) तीव्र दहन
(ब) स्वतः दहन
(स) विस्फोट
(द) मन्द दहन
उत्तर:
(द) मन्द दहन

रिक्त स्थान की पूर्ति कीजिए

  1. पेट्रोलियम के विभिन्न संघटकों को पृथक करने का प्रक्रम ……………….. कहलाता है।
  2. वाहनों के लिए सबसे कम प्रदूषण फैलाने वाला ईंधन ……………….. है।
  3. विश्व का पहला तेल कुआँ ……………….. अमेरिका में ……………….. में ड्रिल किया गया था।
  4. प्रकृति से प्राप्त होने वाले संसाधनों को ……………….. कहते हैं।
  5. पेट्रोलियम एक गहरे रंग का ……………….. है।

उत्तर:

  1. परिष्करण
  2. सी. एन. जी.
  3. पेनसिलवेनिया, 1859
  4. प्राकृतिक संसाधन
  5. तेलीय द्रव

सुमेलित कीजिए

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन 7
उत्तर:
1. → E
2. → C
3. → B
4. → D
5. → A

अतिलघु उत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 1.
यदि कोयले को वायु में जलाया जाए तो क्या होगा?
उत्तर:
जब कोयले को वायु में जलाया जाता है तो कार्बन डाइऑक्साइड (CO2) गैस बनती है।

प्रश्न 2.
प्राकृतिक संसाधन किसे कहते हैं?
उत्तर:
प्रकृति से प्राप्त होने वाले संसाधनों को प्राकृतिक संसाधन कहते हैं।

प्रश्न 3.
पेट्रोलियम के कोई तीन उत्पाद बताइए।
उत्तर:
कृत्रिम रबड़, कीटनाशक, उर्वरक।

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन

प्रश्न 4.
बिटुमेन किस काम आता है?
उत्तर:
यह सड़क निर्माण में काम आता है।

प्रश्न 5.
CNG का पूरा नाम क्या है?
उत्तर:
संपीडित प्राकृतिक गैस (Compressed Natural Gas)

प्रश्न 6.
घरों में उपयोग की जाने वाली पेट्रोलियम गैस का नाम लिखिए।
उत्तर:
LPG (Liquified Petroleum Gas)

प्रश्न 7.
दहन से क्या तात्पर्य है?
उत्तर:
वह रासायनिक प्रक्रम, जिसमें पदार्थ ऑक्सीजन से अभिक्रिया कर ऊष्मा उत्पन्न करते हैं, दहन कहलाते हैं।

प्रश्न 8.
विश्व ऊष्णन का कारण क्या है?
उत्तर:
वायु में कार्बन डाई ऑक्साइड की बढ़ी मात्रा को विश्व ऊष्णन का कारण माना जाता है।

प्रश्न 9.
अपररूप क्या होता हैं।
उत्तर:
वे पदार्थ जो विभिन्न भौतिक गुण परन्तु समान रासायनिक गुण रखते हैं, अपररूप कहलाते हैं।

प्रश्न 10.
पेट्रोल को जीवाश्म ईंधन क्यों कहते हैं?
उत्तर:
पेट्रोल, करोड़ों वर्ष दबे मृत जीव – जन्तु एवं वनस्पति के अपघटन से बने पेट्रोलियम से प्राप्त होता है। इसलिए पेट्रोल को जीवाश्म ईंधन कहते हैं।

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन

प्रश्न 11.
प्रकृति में कार्बन किन पदार्थों में पाया जाता है?
उत्तर:
कार्बन एक तत्व है जिसका परमाणु भार 12 है तथा यह स्वतन्त्र अवस्था में प्रकृति में शुद्ध रूप में (हीरे तथा ग्रेफाइट के रूप में) मिलता है। इसके अतिरिक्त संयुक्त अवस्था में पेट्रोलियम, खड़िया तथा चूने के पत्थर में पाया जाता है।

प्रश्न 12.
पेट्रोलियम गैस किन गैसों का मिश्रण है?
उत्तर:
पेट्रोलियम गैस एथेन, प्रोपेन, ब्यूटेन, आइसो ब्यूटेन गैसों का मिश्रण है।

प्रश्न 13.
सुगर चारकोल का उपयोग लिखिए।
उत्तर:
सुगर चारकोल का उपयोग अपचायक के रूप में होता है। यह धातु ऑक्साइड को धातु के रूप में अपचयित करता है।

प्रश्न 14.
लैम्प ब्लैक क्या होता है?
उत्तर:
लैम्प ब्लैक मोम अथवा तेल की वायु की सीमित मात्रा में जलाने पर प्राप्त कालिख को कहते हैं।

प्रश्न 15.
कार्बन के दो अक्रिस्टलीय अपररूप बताइए।
उत्तर:
लकड़ी का कोयला, कागज।

प्रश्न 16.
बायोमास से क्या तात्पर्य है?
उत्तर:
वनस्पतियों एवं जन्तुओं के शरीर में स्थित पदार्थों को जैव, द्रव्यमान (बायोमास) कहते हैं जैसे – लकड़ी, कृषि अपशिष्ट तथा गोबर आदि।

प्रश्न 17.
वाटर गैस व प्रोड्यूसर गैस का सूत्र लिखिए।
उत्तर:
वाटर गैस (H2 + CO2) प्रोड्यूसर गैस (N2 + CO)

प्रश्न 18.
कार्बनीकरण क्या है?
उत्तर:
मृत वनस्पति के धीमे प्रक्रम द्वारा कोयले में परिवर्तन को कार्बनीकरण कहते हैं।

प्रश्न 19.
कोयले के चार प्रकार बताइए।
उत्तर:

  1. पीट
  2. लिग्नाइट
  3. बिटुमनी
  4. एन्थ्रेसाइट

प्रश्न 20.
कच्चे तेल को वाष्पित करने पर सर्वप्रथम क्या मिलता है।
उत्तर:
पेट्रोलियम गैस।

प्रश्न 21.
LPG सिलेण्डरों में भरते समय कुछ मात्रा में क्या मिलाते हैं?
उत्तर:
मर्केप्टन (थायोल)

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन

प्रश्न 22.
प्राकृतिक गैस में मुख्य मात्रा किसकी होती है?
उत्तर:
मैथेन गैस (CH.)

प्रश्न 23.
किसी भी पदार्थ के दहन के लिए क्या आवश्यक है?
उत्तर:

  1. वायु (ऑक्सीजन) की आवश्यकता।
  2. निश्चित तापमान
  3. ईंधन

प्रश्न 24.
ग्रेफाइट की संरचना कैसी होती है?
उत्तर:
ग्रेफाइट की संरचना षटकोणीय होती है।

प्रश्न 25.
निर्जीव वस्तुओं में कार्बन किस रूप में मिलता हैं?
उत्तर:
निर्जीव वस्तुओं में कार्बन मुक्त एवं संयुक्त दोनों ही रूप में मिलता है।

लघु उत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 1.
कार्बन के अपररूपों का उल्लेख कीजिए।
उत्तर:
कार्बन विभिन्न अपररूपों में मिलता है, जिन्हें निम्न दो भागों में बाँटा गया है:
1. क्रिस्टलीय:

  • हीरा
  • ग्रेफाइट

2. अक्रिस्टलीय:

  • लकड़ी का कोयला
  • हड्डी का कोयला
  • काजल
  • गैस कार्बन
  • कोक

प्रश्न 2.
पेट्रोल को तरल सोना क्यों कहते हैं?
उत्तर:
वर्तमान युग में पेट्रोलियम किसी राष्ट्र के लिए सोने से भी अधिक कीमती है, क्योंकि किसी भी राष्ट्र की उन्नति पेट्रोलियम की मात्रा पर निर्भर करती है। कृषि, उद्योग, यातायात तथा संचार आदि विभिन्न कार्यों में इसका उपयोग अत्यन्त महत्वपूर्ण है, इसलिए पेट्रोलियम को तरल सोना कहा जाता है।

प्रश्न 3.
कार्बन के अपररूपों का चार्ट पेपर पर चित्र बनाइए।
उत्तर:
RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन 8

प्रश्न 4.
प्रकृति में कोयला कैसे उत्पन्न हुआ?
उत्तर:
पृथ्वी पर लाखों वर्ष पूर्व निचले जलीय क्षेत्रों में घने वन थे। बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदाओं के कारण ये वन भूमि के नीचे दब गए, उनके ऊपर अधिक मृदा जम जाने के कारण वे संपीडित हो गए। जैसे – जैसे उनकी गहराई बढ़ती गई। उनका ताप भी बढ़ता गया। उच्च दाब और उच्च ताप के कारण पृथ्वी के भीतर दबे पेड़ – पौधे धीरे – धीरे कोयले में परिवर्तित हो गए।

प्रश्न 5.
सम्पीडित प्राकृतिक गैस (CNG) क्या है?
उत्तर:
पेट्रोलियम खनन के समय प्राप्त गैसें प्राकृतिक गैस कहलाती हैं। इसमें मुख्यत : (CH ) होती है। इनका उपयोग वाहनों में ईंधन के रूप में किया जाता है। इसे सम्पीडित कर सिलिंडरों में भर लेते हैं। अतः इसे सम्पीडित प्राकृतिक गैस (CNG) के नाम से जाना जाता है।

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन

प्रश्न 6.
भारत में पेट्रोलियम संरक्षण अनुसंधान समिति (PCRA) द्वारा गाड़ी चलाते समय किस प्रकार लोगों को पेट्रोल या डीजल बचाने की सलाह दी गयी है?
उत्तर:

  1. जहाँ तक संभव हो गाड़ी समान और मध्यम गति से चलाएँ।
  2. यातायात लाइटों को देखें, यदि लाल है तो आपको प्रतीक्षा करनी पड़ेगी तो गाड़ी का इंजन बन्द कर दीजिए।
  3. टायरों का दाब सही रखिए और गाड़ी का रख – रखाव सुनिश्चित कीजिए।

प्रश्न 7.
सी. एन. जी. और एल. पी. जी. का ईंधन के रूप में उपयोग करने के क्या लाभ हैं?
उत्तर:
सी.एन.जी. और एल. पी. जी. का ईंधन के रूप में उपयोग बहुत लाभदायक होता है क्योंकि इनका वितरण हर जगह आसानी से पाइप लाइन द्वारा किया जा सकता है। इन दोनों गैसों का एक मुख्य गुण यह है कि इन्हें जलाने पर वायु प्रदूषण नहीं होती है तथा इनकी ऊष्मा उत्पादन भी अधिक होती है। इन्हें घरों तथा फैक्टरियों में सीधे ही प्रयोग किया जा सकता है।

प्रश्न 8.
प्राकृतिक गैस महत्वपूर्ण क्यों है तथा इसका क्या उपयोग है?
उत्तर:
प्राकृतिक गैस एक बहुत महत्वपूर्ण जीवाश्म ईंधन है, क्योंकि इसे पाइप द्वारा कहीं भी पहुँचाया जा सकता है, प्राकृतिक गैस को उच्च दाब पर संपीडित गैस के रूप में स्टोर किया जाता है। CNG का प्रयोग कुछ समय से परिवहन वाहनों में ईंधन के रूप में किया जा रहा है।

प्रश्न 9.
हम जीवाश्म ईंधनों का बचाव किस प्रकार कर सकते हैं?
उत्तर:
जीवाश्म ईंधन जैसे-कोयला, पेट्रोलियम आदि सजीवों के मृत अवशेषों से निर्मित होते हैं तथा इनके निर्माण की प्रक्रिया में लाखों वर्ष लग जाते हैं। जीवाश्म ईंधन समाप्त होने वाले प्राकृतिक संसाधन हैं तथा इनके ज्ञात भण्डार भी सीमित है। अतः यह आवश्यक है कि हम जीवाश्म ईंधनों का सीमित उपयोग करें। इन ईंधनों के जलने से वायु प्रदूषण भी होता है। साथ ही इनका सम्बन्ध विश्व ऊष्णन (ग्लोबल वार्मिंग) से भी है। अतः हमें इनका उपयोग कम से कम तथा आवश्यकतानुसार ही करना चाहिए जिससे ये ईंधन हमें लम्बे समय तक प्राप्त हो सकें।

प्रश्न 10.
पेट्रोलियम क्या है? इसके परिष्करण से कौन-कौन से पदार्थ प्राप्त होते हैं?
उत्तर:
पेट्रोलियम गहरे रंग का तैलीय द्रव है। इसकी गंध अच्छी नहीं होती है। पेट्रोलियम को जीवाश्मी ईंधन भी पेट्रोल, डीजल, स्नेहक तेल, पैराफिन मोम आदि प्राप्त होता है।

प्रश्न 11.
पेट्रो रसायन क्या है? समझाइए।
उत्तर:
पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस से अनेक उपयोगी पदार्थ प्राप्त किए जाते हैं, इन्हें पेट्रो रसायन कहते हैं। पेट्रो रसायन का उपयोग अनेक उद्योगों जैसे – अपमार्जक निर्माण, रेशा निर्माण, पेण्ट व वार्निश निर्माण, प्लास्टिक निर्माण आदि में किया जाता है। प्राकृतिक गैस से प्राप्त हाइड्रोजन गैस का उपयोग यूरिया के उत्पादन में किया जाता है।

प्रश्न 12.
विश्व एवं भारत में तेल कुएँ का सर्वप्रथम कहाँ निर्माण किया गया?
उत्तर:
विश्व का पहला तेल-कुआँ, पेनिसिलवेनिया, अमेरिका में 1859 में ड्रिल किया गया था। आठ वर्ष बाद 1867 में असम के माकुम नामक स्थान पर तेल का पता चला। भारत में तेल असम, गुजरात, बॉम्बे हाई और गोदावरी तथा कृष्णा नदियों के बेसिन में पाया जाता है।

प्रश्न 13.
समझाइए कि मोटर वाहनों में सी.एन.जी. के उपयोग से हमारे शहर का प्रदूषण किस प्रकार कम हुआ है?
उत्तर:
सी.एन.जी. के दहन के परिणामस्वरूप कोई भी हानिकारक गैस जैसे-नाइट्रोजन, ऑक्साइड, सल्फर डाई ऑक्साइड आदि उत्पन्न नहीं होती। ये गैसें ही मुख्य रूप से वायु प्रदूषण का कारण होती हैं। अत: मोटर वाहनों में सी. एन.जी. के उपयोग से वायु प्रदूषण कम होता है।

प्रश्न 14.
परिभाषा लिखिए

  1. दहन
  2. दाह्य

उत्तर:

  1. दहन – ऐसा प्रक्रम जिससे पदार्थ को ऑक्सीजन में जलाने से ऊष्मा पैदा होती है। दहन कहलाता है।
  2. दाह्य – दहन की क्रिया में जिस पदार्थ का दहन होता है, वह दाह्य कहलाता है।

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन

प्रश्न 15.
एल. पी. जी. का इस्तेमाल करने में क्या सावधानियां बरतनी चाहिए?
उत्तर:

  1. एल. पी. जी. के रिसाव से बचना चाहिए।
  2. एल. पी. जी. के संचयन स्थल के समीप माचिस या आग नहीं जलानी चाहिए।
  3. एल. पी. जी. उपयोग वाले स्थान पर वायु के आवागमन का उचित प्रबन्ध होना चाहिए।

प्रश्न 16.
एक क्रियाकलाप द्वारा समझाइए कि ऑक्सीजन की उपस्थिति दहन के लिए आवश्यक है।
उत्तर:
एक लकड़ी या लकड़ी के कोयले का जलता हुआ टुकड़ा लोहे की प्लेट या तवे पर रखते हैं। इसे एक काँच । के जार अथवा पारदर्शक प्लास्टिक जार से ढकते हैं। निष्कर्ष-कुछ समय बाद लकड़ी का कोयला जलना बन्द हो जाता है, क्योंकि ऐसा ऑक्सीजन की कमी के कारण होता है।

दीर्घ उत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 1.
ईंधन के विभिन्न स्रोतों का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
ईंधन के विभिन्न स्रोत निम्नलिखित हैं:

  1. जैव द्रव्यमान (बायोमास) – वनस्पतियों एवं जन्तुओं के शरीर में स्थित पदार्थों को जैव द्रव्यमान कहते हैं। जैसेसलकड़ी, कृषि अपशिष्ट तथा गोबर आदि।
  2. कच्चे तेल के कुएँ – कच्चे तेल के प्रभावी आसवन से विभिन्न पेट्रोलियम पदार्थ ईंधन के रूप में प्राप्त होते हैं।
  3. कोयले की खान – कोयले की खान से पत्थर का कोयला ईंधन के रूप में प्राप्त किया जाता है।

ईंधन पदार्थ की तीनों अवस्थाओं में पाया जाता है

  1. ठोस ईंधन – लकड़ी का कोयला, पत्थर का कोयला, गोबर के उपले (कण्डे), कृषि अपशिष्ट आदि ठोस ईंधन हैं।
  2. द्रव ईंधन – केरोसिन, डीजल, पेट्रोल, गेसोलीन, एल्कोहाल आदि द्रव ईंधन हैं।
  3. गैसीय ईंधन – गोबर गैस, वाटर गैस (H2 + CO) कोल गैस, प्रोडयूसर गैस (N2 + CO), प्राकृतिक गैसें, द्रवित पेट्रोलियम गैस (LPG) आदि गैसीय ईंधन हैं।

प्रश्न 2.
पेट्रोलियम का शोधन किस प्रकार किया जाता है? विधि का सचित्र वर्णन करो।
उत्तर:
पेट्रोलियम का शोधन प्रभाजी आसवन विधि द्वारा किया जाता है। पेट्रोलियम गहरे भूरे रंग का चिकना गाढ़ा द्रव है। यह अनेक हाइड्रोकार्बन का मिश्रण है। खनन से प्राप्त पेट्रोलियम (कच्चे तेल) का ईंधन के रूप में सीधा उपयोग नहीं किया जा सकता है। पेट्रोलियम के विभिन्न अवयवों यथा पेट्रोलियम गैस, पेट्रोल, नैफ्था, डीजल, केरोसिन आदि का क्वथनांक भिन्न – भिन्न होता है। कच्चे तेल को एक ऊर्ध्व बेलनाकार पात्र (प्रभाजक स्तम्भ) के पेंदे में भरकर उसे धीरे-धीरे गर्म करते हैं। तब सर्वप्रथम पेट्रोलियम गैस, उसके बाद क्रमशः पेट्रोल, नैफ्था, केरोसिन,
RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन 9
डीजल आदि वाष्पित होकर ऊपर आते हैं, जिन्हें संघनित कर एकत्रित कर लिया जाता है। इस विधि को प्रभाजी आसवन विधि कहते हैं।

प्रश्न 3.
एक क्रिया कलाप द्वारा समझाइए कि दहन के लिए वायु आवश्यक है।
उत्तर:
क्रियाकलाप – एक जलती मोमबत्ती को मेज के ऊपर रखते हैं। काँच की एक चिमनी को मोमबत्ती के ऊपर लकड़ी के दो गुटकों की सहायता से इस प्रकार रखते हैं कि वायु का चिमनी में प्रवेश होता रहे। अब लकड़ी के गुटके हटाकर चिमनी को मेज पर टिका देते हैं। अन्त में काँच की एक प्लेट चिमनी के ऊपर रख देते हैं। ज्वाला की इन विभिन्न स्थितियों में देखते हैं।

  1. स्थिति (a) – इसमें मोमबत्ती बिना किसी बाधा के जलती है, क्योंकि वायु चिमनी में नीचे से प्रवेश कर सकती है।
  2. स्थिति (b) – इस अवस्था में जब चिमनी में नीचे से वायु प्रवेश नहीं कर पाती तो ज्वाला में कम्पन होता है और धुआँ उत्पन्न होता है।
  3. स्थिति (c) – इस अवस्था में ज्वाला बुझ जाती है, क्योंकि उसे वायु उपलब्ध नहीं हो पाती। निष्कर्ष – हम पाते हैं कि वायु दहन के लिए आवश्यक है।

प्रश्न 4.
ईंधन के दहन से कौन-कौन से हानिकारक उत्पादन उत्पन्न होते हैं? समझाइए।
उत्तर:
ईंधन का बढ़ता हुआ उपभोग पर्यावरण पर अत्यन्त हानिकारक प्रभाव डालता है, इनमें से कुछ निम्नवत् हैं:

  1. लकड़ी, कोयले एवं पेट्रोल जैसे कार्बन ईंधन बिना जले कार्बन कण छोड़ते हैं। ये सूक्ष्म कण दमा एवं श्वास रोग उत्पन्न करते हैं।
  2. ईंधनों का अपूर्ण दहन होने पर यह कार्बन मोनो ऑक्साइड गैस उत्पन्न करते हैं। यह अत्यन्त विषैली गैस
  3. अधिकांश ईंधनों में दहन के परिणामस्वरूप पर्यावरण में कार्बन डाई ऑक्साइड गैस निकलती है।
  4. वायु में कार्बन डाई ऑक्साइड गैस की अधिक मात्रा को ही विश्व ऊष्णन (Global, warming) का कारण माना जाता है।
  5. कोयले तथा डीजल के दहन होने पर सल्फर डाइ ऑक्साइड गैस उत्सर्जित होती है जो कि दमघोंटू और संक्षारक गैस है।
  6. इसके अतिरिक्त पेट्रोल इंजन नाइट्रोजन के गैसीय ऑक्साइड छोड़ते हैं। सल्फर एवं नाइट्रोजन के ऑक्साइड वर्षा जल में घुल जाते हैं
  7. तथा अम्ल बनाते हैं जो वर्षा के जल में मिलकर अम्लीय वर्षा करते हैं, जो कि फसलों और मृदा के लिए हानिकारक होती है।

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 18 कार्बन और ईंधन

प्रश्न 5.
पेट्रोलियम के विभिन्न संघटकों को उपयोग सहित लिखिए।
उत्तर:
पेट्रोलियम के विभिन्न संघटक निम्नलिखित हैं:

  1. पेट्रोलियम गैस – यह 25°C से 30°C तापमान पर अलग होती है। इसमें मुख्यतः ऐथेन, प्रोपेन, ब्यूटेन, आइसोब्यूटेन का मिश्रण होता है। इसी से LPO बनती है। इसका उपयोग घरों में ईंधन के रूप में किया जाता है।
  2. पेट्रोल – यह 30°C से 120°C तापमान पर अलग होता है। इसका प्रयोग मोटरकारों में, वैमानिक ईंधन के रूप में, तथा शुष्क धुलाई के लिए विलायक के रूप में होता है।
  3. नैफ्था – 120°C से 180°C तापमान पर नैफ्था अलग होता है। ईंधन के अलावा इसका उपयोग रासायनिक अभिक्रिया में होता है।
  4. मिट्टी का तेल – (केरोसिन) – यह 180°C से 260°C तापमान पर अलग किया जाता है। इसका प्रयोग स्टोव, लैम्प और जैट वायुयान के लिए किया जाता है।
  5. डीजल – यह 260°C से 340°C तापमान पर अलग किया जाता है। इसका विद्युत जनित्रों के लिए ईंधन तथा भारी मोटर वाहनों के ईंधन के रूप में प्रयोग किया जाता है।
  6. स्नेहक तेल – यह 350°C तापमान पर अलग किया

Leave a Comment