RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार

Rajasthan Board RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार Textbook Exercise Questions and Answers.

These RBSE Solutions for Class 8 Science in Hindi Medium & English Medium are part of RBSE Solutions for Class 8. Students can also read RBSE Class 8 Science Important Questions for exam preparation. Students can also go through RBSE Class 8 Science Notes to understand and remember the concepts easily.

RBSE Class 8 Science Solutions Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार

RBSE Class 8 Science तारे एवं सौर परिवार InText Questions and Answers


पृष्ठ 216

प्रश्न 1. 
चन्द्रमा अपनी आकृति में प्रतिदिन परिवर्तन क्यों करता है? 
उत्तर:
चन्द्रमा का स्वयं का प्रकाश नहीं होता है। हमें चन्द्रम का केवल वही भाग दिखाता है जिस भाग से सूर्य का परावर्तित प्रकाश हम तक पहुंचता है। इसके अलावा पृथ्वी चन्द्रमा सहित सूर्य की परिक्रमा करती है। अतः विभिन्न स्थितियों में चन्द्रमा विभिन्न आकृति का दिखाई देता है।

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार

पृष्ठ 218 

प्रश्न 2. 
हम पृथ्वी से चन्द्रमा के पीछे की ओर के भाग को कभी नहीं देखते। क्या यह सही है? 
उत्तर:
हाँ, यह सही है। हम पृथ्वी से चन्द्रमा के पीछे की ओर के भाग को कभी नहीं देखते।  

पृष्ठ 219

प्रश्न 3. 
क्या हम चन्द्रमा पर कोई ध्वनि सुन सकते हैं?
उत्तर:
नहीं, क्योंकि ध्वनि के गमन के लिए किसी माध्यम की आवश्यकता होती है जो कि चन्द्रमा पर उपलब्ध नहीं है।

पृष्ठ 220 

प्रश्न 4. 
यदि तारों का प्रकाश हमारे पास तक पहुँचने में वर्षों का समय लेता है तो तारों को देखते समय क्या हम अपने अतीत को देख रहे होते हैं?
उत्तर:
हाँ, तारों का जो प्रकाश हम तक पहुंच रहा होता है, वह अतीत का होता है। 

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार

प्रश्न 5. 
हम दिन के समय तारों को क्यों नहीं देख पाते? वे हमें रात में ही क्यों दिखाई देते हैं? 
उत्तर:
तारे दिन में भी आसमान में ही होते हैं किन्तु सूर्य के तीव्र प्रकाश के कारण हम उन्हें दिन में नहीं देख पाते हैं। रात्रि में सूर्य छिप जाने पर वे दिखाई देने लगते हैं। 

पृष्ठ 221 

प्रश्न 6. 
आकाश में एक ऐसा तारा है जो एक ही स्थान पर स्थिर दिखाई देता है। यह कैसे सम्भव होता है?
उत्तर:
आकाश म ध्रुव तारा एक ही स्थान पर स्थिर दिखाइ देता है। धुव तारा पृथ्वी के अक्ष की दिशा में स्थित होने के कारण गति करता प्रतीत नहीं होता है। 

पृष्ठ 226 

प्रश्न 7. 
सुर्य की परिक्रमा करते समय ग्रहों की टक्कर क्यों नहीं होती? 
उत्तर:
क्योंकि प्रत्येक ग्रह एक निश्चित पथ पर (अपनी कक्षा में) हो सूर्य की परिक्रमा करता है। इससे वे एकदूसरे के रास्ते में नहीं आते हैं। 

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार

प्रश्न 8. 
पृथ्वी सूर्य की परिक्रमा करती है। क्या इस कारण से पृथ्वी सूर्य का उपग्रह है? 
उत्तर:
हाँ। पृथ्वी को सूर्य का उपग्रह कहा जा सकता है। किन्तु सामान्यतः हम इसे सूर्य का ग्रह कहते हैं। ग्रहों की परिक्रमा करने वाले पिण्डों के लिए ही उपग्रह शब्द का प्रयोग करते हैं।  

पृष्ठ 227 

प्रश्न 9. 
क्या शुक्र पर सूर्योदय पश्चिम में तथा सूर्यास्त पूर्व में होता होगा? 
उत्तर:
शुक्र ग्रह अपने अक्ष पर पूर्व से पश्चिम की ओर घूर्णन करता है। अत: वहाँ सूर्योदय पश्चिम में तथा सूर्यास्त पूर्व में होता होगा। 

पृष्ठ 228  

प्रश्न 10. 
यदि मेरी आयु 13 वर्ष है तो मैंने सूर्य की कितनी परिक्रमा कर ली है? 
उत्तर:
पृथ्वी सूर्य की एक परिक्रमा एक वर्ष में पूरी करती है। इस प्रकार 13 वर्ष की आयु पर मैंने सूर्य की 13 परिक्रमा कर ली है।

RBSE Class 8 Science तारे एवं सौर परिवार Textbook Questions and Answers 


प्रश्न 1-3 में सही उत्तर का चयन कीजिए:
प्रश्न 1. 
निम्नलिखित में से कौन सौर परिवार का सदस्य नहीं है? 
(क) क्षुद्रग्रह
(ख) उपग्रह 
(ग) तारामण्डल 
उत्तर:
(ग) तारामण्डल। 

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार

प्रश्न 2. 
निम्नलिखित में से कौन सूर्य का ग्रह नहीं है? 
(क) सीरियस 
(ख) बुध 
(ग) शनि
(घ) पृथ्वी
उत्तर:
(क) सीरियस। 

प्रश्न 3. 
चन्द्रमा की कलाओं के घटने का कारण यह है कि:
(क) हम चन्द्रमा का केवल वह भाग ही देख सकते है जो हमारी ओर प्रकाश को परावर्तित करता है। 
(ख) हमारी चन्द्रमा से दूरी परिवर्तित होती रहती है। 
(ग) पृथ्वी की छाया चन्द्रमा के पृष्ठ के केवल कुछ भाग को ही ढकती है। 
(घ) चन्द्रमा के वायुमण्डल की मोटाई नियत नहीं है। 
उत्तर:
(क) हम चन्द्रमा का केवल वह भाग ही देख सकते हैं जो हमारी ओर प्रकाश को परावर्तिता करता है। 

प्रश्न 4. 
रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए:
(क) सूर्य से सबसे अधिक दूरी वाला ग्रह ............................. है। 
(ख) वर्ण में रक्ताभ प्रतीत होने वाला ग्रह ............................. है। 
(ग) तारों के ऐसे समूह को जो कोई पैटर्न बनाता है ............................. कहते हैं। 
(घ) ग्रह की परिक्रमा करने वाले खगोलीय पिण्ड को ............................. कहते हैं। 
(ङ) शूटिंग स्थर वास्तव में ............................. नहीं हैं। 
(च) क्षुद्रग्रह ............................. तथा ............................. की कक्षाओं के बीच पाए जाते हैं। 
उत्तर:
(क) नेष्ट्यून 
(ख) मंगल 
(ग) तारामण्डल 
(घ) उपग्रह 
(ङ) तारे 
(च) मंगल, बृहस्पति। 

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार

प्रश्न 5. 
निम्नलिखित कथनों पर सत्य (T) अथवा असत्य (F) अंकित कीजिए:
(क) ध्रुवतारा सौर परिवार का सदस्य है। ( ) 
(ख) बुध सौर परिवार का सबसे छोटा ग्रह है। ( ) 
(ग) यूरेनस सौर परिवार का दूरतम ग्रह है। ( ) 
(घ) INSAT एक कृत्रिम उपग्रह है। ( )  
(ङ) हमारे सौर परिवार में नौ ग्रह हैं। ( ) 
(च) 'भोरॉयन' तारामण्डल केवल दूरदर्शक द्वारा देखा जा सकता है। 
उत्तर:
(क) F 
(ख) T 
(ग) F 
(घ) T 
(ङ) F 
(च) F 

प्रश्न 6. 
स्तम्भ I के शब्दों का स्तम्भ II के एक या अधिक पिण्ड या पिण्डों के समूह से उपयुक्त मिलान कीजिए

स्तम्भ I

स्तम्भ II

(क) आंतरिक ग्रह

(a) शनि

(ख) बाह्य ग्रह

(b) ध्रुवतारा

(ग) तारामण्डल

(c) सप्तर्षि

(घ) पृथ्वी के उपग्रह

(d) चन्द्रमा

 

(e) पृथ्वी

 

(f) ओरोंयन

 

(g) मंगल

उत्तर:

स्तम्भ I

स्तम्भ II

(क) आंतरिक ग्रह

(e) पृथ्वी

(g) मंगल

(ख) बाह्य ग्रह

(a) शनि

(ग) तारामण्डल

(c) सप्तर्षि

(f) ओरोंयन

(घ) पृथ्वी के उपग्रह

(d) चन्द्रमा


प्रश्न 7. 
यदि शुक्र सांध्यतारे के रूप में दिखाई दे रहा है तो आप इसे आकाश के किस भाग में पाएंगे? 
उत्तर:
सांध्य तारे के रूप में हम इसे आकाश के पश्चिम भाग में पाएंगे। 

प्रश्न 8. 
सौर परिवार के सबसे बड़े ग्रह का नाम लिखिए। 
उत्तर:
बृहस्पति। 

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार

प्रश्न 9. 
तारामण्डल क्या होता है? किन्हीं दो तारामण्डलों के नाम लिखिए। 
उत्तर:
तारामण्डल (Constellation): तारों के उन समूहों को जो पहचानने योग्य आकृतियाँ बनाते हैं, तारामण्डल कहते हैं। यो तारामण्डलों के नाम हैं:

  • सप्तर्षि
  • ओरॉयन। 

प्रश्न 10. 
(i) सप्तर्षि तथा 
(ii) ओरॉयन तारामण्डल के प्रमुख तारों की आपेक्षिक स्थितियों दर्शाने के लिए आरेख खींचिए। 
उत्तर:
(i)
RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार 1
(ii)
RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार 2

प्रश्न 11. 
ग्रहों के अतिरिक्त सौर परिवार के अन्य दो सदस्यों के नाम लिखिए। 
उत्तर:

  • क्षुद्रग्रह 
  • धूमकेतु। 

प्रश्न 12. 
व्याख्या कीजिए कि सप्तर्षि की सहायता से धूवतारे की स्थिति आप कैसे ज्ञात करोगे? 
उत्तर:
आकाश में सप्तर्षि तारामण्डल, एक निश्चित बिन्दु के चारों ओर घूर्णन करता प्रतीत होता है। यह बिन्दु एक तारा है जिसे ध्रुवतारा कहते हैं। यह तारा स्थिर प्रतीत होता है क्योंकि यह पृथ्वी के घूर्णन अध के अनुदिश होता है तथा स्वयं पृथ्वी के घूर्णन के कारण अन्य तारे, ध्रुव तारे के चारों ओर पूर्णन करते प्रतीत होते हैं। नीचे दिए चित्र में सप्तर्षि रात्रि में प्रत्येक दो से तीन घण्टे के पश्चात् बदली हुई व्यवस्था दर्शाता है। ध्रुव तारा एक निश्चित अवस्था में दिखाई देता है।
RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार 3

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार

प्रश्न 13. 
क्या आकाश में सार तार गात करत है? व्याख्या कीजिए।
उत्तर:
नहीं, आकाश में तारे गति नहीं करते हैं, किन्तु ऐसा प्रतीत होता है। ध्रुव तारे को छोड़कर सभी तारे पूर्व से पश्चिम की ओर गति करते प्रतीत होते हैं क्योंकि पृथ्वी अपने अक्ष पर पश्चिम से पूर्व की ओर गति करती है। ध्रुव तारा स्थिर दिखता है क्योंकि वह पृथ्वी के अक्ष की दिशा में स्थित है। 

प्रश्न 14. 
तारों के बीच की दूरियों को प्रकाश वर्ष में क्यों व्यक्त करते हैं? इस कथन से क्या तात्पर्य है कि कोई तारा पृथ्वी से आठ प्रकाश वर्ष दूर है? 
उत्तर:
तारों के बीच की दूरियां बहुत अधिक हैं। ये दूरियाँ मिलियन अथवा बिलियन किलोमीटर से भी अधिक हैं, अत: दूरियों को किलोमीटर में व्यक्त करना कठिन है। इसलिए एक बड़े मात्रक प्रकाश वर्ष से तारों के बीच की रियों को व्यक्त करते हैं। 'कोई तारा पृथ्वी से आठ प्रकाश वर्ष दूर है', कथन से तात्पर्य यह है कि प्रकाश अपने वेग 3 लाख किमी. प्रति सेकण्ड से 8 वर्ष में उस तारे से पृथ्वी तक पहुंचेगा। 

प्रश्न 15. 
बृहस्पति की त्रिज्या पृथ्वी की त्रिज्या की 11 गुनी है। बृहस्पति तथा पृथ्वी के आयतनों का अनुपात परिकलित कीजिए। बृहस्पति में कितनी पृथ्विों समा सकती हैं? 
उत्तर:
माना कि पृथ्वी की जिन्या = r मी. 
इसलिए, बृहस्पति की त्रिज्या = 11 r मी. 
पृथ्वी का आयतन : बृहस्पति का आयतन
= \(\frac{4}{3} \pi r^{3}: \frac{4}{3} \pi(11 r)^{3}\)
= r3 : 1331 r3
= 1 : 1331 
यहाँ यह कहा जा सकता है कि बृहस्पति में 1331 पृथ्वियाँ समा सकती हैं। 

RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार

प्रश्न 16.
बूझो ने सौर परिवार का निम्नलिखित आरेख खींचा। क्या यह आरेख सही है? यदि नहीं, तो इसे संशोधित कीजिए:
RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार 4
उत्तर:
यह आरेख गलत है। संशोधित आरेख निम्नलिखित है:
RBSE Solutions for Class 8 Science Chapter 17 तारे एवं सौर परिवार 5

Bhagya
Last Updated on May 19, 2022, 7:13 p.m.
Published May 17, 2022