RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ

Rajasthan Board RBSE Class 7 Science Chapter 6 अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ

RBSE Solutions for Class 7 Science

RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ

RBSE Class 7 Science अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ Intext Questions and Answers

पाठगत प्रश्न

पृष्ठ – 57

प्रश्न 1.
किशोरावस्था में चेहरे पर दाढ़ी-मूंछे आना, कील-मुहाँसे निकलना, लम्बाई में तेजी से वृद्धि होना आदि परिवर्तन क्यों होते हैं?
उत्तर:
किशोरावस्था में ये शारीरिक परिवर्तन शरीर में कुछ रासायनिक पदार्थों द्वारा होते हैं, जिन्हें हार्मोन कहते हैं। ये हार्मोन हमारे शरीर की अन्तःस्रावी ग्रन्थियों द्वारा रुधिर में स्रावित होते हैं। इन्हीं शारीरिक परिवर्तनों के कारण किशोरावस्था में ये लक्षण दिखाई देते हैं।

प्रश्न 2.
मानव में लगभग 11 से 18-19 वर्ष तक उम्र की अवस्था कौनसी होती है?
उत्तर:
मानव में लगभग 11 से 18-19 वर्ष तक उम्र की जो अवस्था होती है वह किशोरावस्था कहलाती है।

पृष्ठ – 58

प्रश्न 3.
कुछ व्यक्ति बहुत छोटे (बौने) या कुछ व्यक्ति बहुत लम्बे क्यों होते हैं?
उत्तर:
ऐसा पीयूष ग्रन्थि द्वारा स्रावित एक वृद्धि हार्मोन के कारण होता है। यह हार्मोन शरीर की वृद्धि को नियंत्रित करता है। यदि बाल्यकाल में इस हार्मोन की कमी हो जाती है तो व्यक्ति का कद बौना ही रह जाता है। कुछ व्यक्तियों में इस हार्मोन का स्राव सामान्य से अधिक होने पर उनकी लम्बाई आठ फीट तक हो जाती है।

प्रश्न 4.
हम बाजार से आयोडीनयुक्त ही नमक क्यों खरीदते हैं?
उत्तर:
आयोडीन, थाइरॉक्सिन हार्मोन के निर्माण के लिए आवश्यक है। आयोडीन की कमी से घेघा या गलगण्ड नामक बीमारी या रोग शरीर में हो जाता है। आयोडीनयुक्त नमक खाने से हमारे शरीर को उचित मात्रा में आयोडीन की उचित मात्रा सतत रूप से मिलती रहती है। इसलिए इस रोग के बचाव हेतु हमें बाजार से आयोडीनयुक्त ही नमक खरीदना चाहिए एवं खाने में प्रयोग लेना चाहिए।

RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ

पृष्ठ – 59

प्रश्न 5.
हमें रात्रि में निश्चित समय के लगभग नींद आने लगती है एवं प्रातःकाल लगभग निश्चित समय पर हम जग भी जाते हैं, ऐसा कैसे होता है?
उत्तर:
ऐसा हमारे शरीर के मस्तिष्क के केन्द्र में पायी जाने वाली एक बहुत छोटी ग्रन्थि के द्वारा होता है। यह ग्रन्थि मिलेटोनिन नामक हार्मोन स्रावित करती है। हमारे सोने-जागने का चक्र मिलेटोनिन हार्मोन द्वारा नियंत्रित होता है। इस प्रन्धि को पिनियल ग्रन्धि कहते हैं।

प्रश्न 6.
डॉक्टर मीठा कम खाने की सलाह क्यों देता हैं?
उत्तर:
जब किसी व्यक्ति को मधुमेह नामक रोग होता है तब डॉक्टर ऐसे बीमार व्यक्ति को मीठा कम खाने की सलाह देता है। मीठा ज्यादा खाने से यह रोग अधिक बढ़ जाता है। इससे रोगी को खतरा बद जाता है। इसलिए डॉक्टर रोगी को कम मीठा खाने की सलाह देता है।

RBSE Class 6 Social Science अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ Text Book Questions and Answers

RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ

सही विकल्प का चयन कीजिए –

Question 1.
इन्सुलिन हार्मोन स्रावित करने वाली अन्तःस्रावी ग्रन्थि का नाम है ………………………
(अ) पीयूष
(ब) अवटु
(स) अग्नाशय
(द) एड्रीनल
उत्तर:
(स) अग्नाशय

Question 2.
भोजन में कौनसे तत्व की कमी से गलगण्ड नामक रोग होने की सम्भावना रहती है?
(अ) कैल्सियम
(ब) लोहा
(स) आयोडीन
(द) कोई नहीं
उत्तर:
(स) आयोडीन

Question 3.
किशोरावस्था में अच्छे स्वास्थ्य के लिए क्या आवश्यक है?
(अ) सन्तुलित आहार
(ब) व्यक्तिगत स्वच्छता
(स) शारीरिक व्यायाम
(द) उपर्युक्त सभी
उत्तर:
(द) उपर्युक्त सभी

रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए –

  1. हार्मोन हमारी शरीर की अन्त:स्रावी ग्रन्थियों द्वारा ……………………. में साबित होते हैं।
  2. रक्त में इन्सुलिन हार्मोन की कमी से ……………………. नामक रोग होता है।
  3. संकटकालीन परिस्थितियों का सामना करने के लिए ……………………… हार्मोन हमारे शरीर को तैयार करता है।
  4. बच्चों में ……………………. प्रन्थि का आकार बड़ा होता है।

उत्तर:

  1. रुधिर
  2. मधुमेह
  3. एडीनलीन
  4. थाइमस

RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ

लघु उत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
किशोरावस्था किसे कहते हैं?
उत्तर:
लगभग 11 वर्ष की आयु से प्रारम्भ होकर 18 या 19 वर्ष की आयु तक किशोरावस्था कहलाती है। इस आयु अवधि में हमारे शरीर में कई परिवर्तन होते हैं जिनके लक्षण भी दिखाई देते हैंजैसे चेहरे पर दाड़ी आना, चेहरे पर कील-मुंहासे निकलना, लम्बाई में तेजी से वृद्धि होना आदि।

प्रश्न 2.
यदि किसी व्यक्ति का गला सूजकर लटक गया है तो उसे कौनसे रोग की संभावना है?
उत्तर:
हमारे गले में अबटु (थॉयराइंड) नामक एक ग्रन्थि होती है। इस ग्रन्थि में एक रस थाइरॉक्सिन हार्मोन बनता है। इस हार्मोन के निर्माण के लिए इस प्रन्धि को आयोडीन की आवश्यकता होती है। हमारे भोजन में आयोडीन की कमी होने पर इस हार्मोन का स्रवण नहीं हो पाता है और इसका कुप्रभाव ये होता है कि हमारा गला सूज कर लटक जाता है जिसका कारण होता है गलगण्ड नामक रोग। अतः यदि किसी व्यक्ति का गला सूजकर लटक गया है तो उसे गलगण्ड नामक रोग की सम्भावना होती है।

प्रश्न 3.
मधुमेह रोग किस हार्मोन की कमी से होता है? इस हामोंन का क्या कार्य है?
उत्तर:
मधुमेह रोग रक्त में इन्सुलिन हार्मोन की कमी से होता है। इसका निर्माण शरीर की अग्नाशय ग्रन्थि में होता है। इस हार्मोन के स्रावित होने से हमारे शरीर में शर्करा की मात्रा नियंत्रित रहती है। यदि इस हार्मान का प्रावण उचित मात्रा में नहीं होता है तो रक्त में शर्करा बढ़ जाती है एवं मधुमेह नामक रोग हो जाता है।

प्रश्न 4.
यदि किसी व्यक्ति को मधुमेह रोग है तो उसे आप क्या सलाह देंगे?
उत्तर:
यदि किसी व्यक्ति को मधुमेह रोग है तो उसे निम्न सलाह दी जायेगी –

  1. रेशेदार खाद्य पदार्थों का सेवन शुरू करे क्योंकि रेशे ग्लूकोज को अवशोषित करते हैं जिससे रक्त शकरा नियत्रित रहती है।
  2. खाली पेट नहीं रहे, थोड़ा-थोड़ा खाते रहे।
  3. मीठे पेय पदार्थों से परहेज करे।
  4. प्रकृति के नजदीक रहे। प्रकृति से प्राप्त वस्तुओं का भोजन में सेवन अधिक करे न कि उनसे बनी वस्तुओं का।
  5. रोजाना नियमित रूप से घूमे एवं व्यायाम करे।
  6. तनाव नहीं रखे।
  7. वजन पर नियंत्रण रखे।
  8. चिकित्सकीय सलाहानुसार दवा ले।
  9. नियमित रूप से शर्करा का स्तर जांचते रहें जिससे शरीर के दूसरे अंग प्रभावित नहीं हों।

RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ

दीर्घ उत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
किशोरावस्था में अच्छे स्वास्थ्य के लिए कौन-कौनसी बातें आवश्यक हैं? लेख लिखिए।
उत्तर:
किशोरावस्था में शरीर में तेजी से वृद्धि होती है। संतुलित वृद्धि के लिए आवश्यक है कि किशोरावस्था में स्वास्थ्य अच्छा रहे। किशोरावस्था में अच्छे स्वास्थ्य के लिए निम्नलिखित बातें आवश्यक हैं –
1. पोषण – किशोर को अपने भोजन में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट्स, वसा, विद्यामिन एवं खनिज लवणों को पर्याप्त मात्रा में लेना आवश्यक है। इनसे शरीर का विकास एवं वृद्धि में उचित पोषण प्राप्त होता है। हमारे भारतीय भोजन में इन अवयवों की पूर्ति के लिए रोटी, चावल, दाल, दूध, फल, सञ्जियाँ, गुड, मांस आदि प्रचुर मात्रा में होते हैं अतः संतुलित आहार के रूप में इन भाज्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए।

2. व्यक्तिगत स्वच्छता – प्रतिदिन स्नान करना चाहिए। किशोरों में स्वेद प्रन्थियों की अधिक क्रियाशीलता के कारण शरीर के सभी भागों की सफाई करनी चाहिए एवं स्वच्छ कपड़े पहनने चाहिए।

3. शारीरिक व्यायाम – ताजी हवा में टहलना एवं खेलना शरीर को चुस्त एवं स्वस्थ रखता है। सभी किशोर एवं किशोरियों को नियमित टहलना, व्यायाम करना एवं खुले वातावरण में खेलना चाहिए।

4. नशीले पदार्थों (इग्स) के सेवन से दूर रहना – ड्रग्स नशीले पदार्थ हैं जिनकी आदत पड़ जाती है। यदि आप इनका सेवन एक बार कर लेते हैं तो आपको इन्हें बार-बार लेने की इच्छा होती है। यह स्वास्थ्य, सामाजिक सम्पन्नता एवं आर्थिक स्थिति को बरबाद करते हैं। अत: अचो स्वास्थ्य एवं शारीरिक वृद्धि हेतु ड्रग्स के सेवन से बचें।

प्रश्न 2.
हमारे शरीर में कौन-कौनसी अन्तःस्रावी ग्रन्धियों हैं? इनके द्वारा प्रावित हार्मोन व उसके कार्यों का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
हमारे शरीर में कई प्रकार की अन्तःस्रावी प्रन्धियाँ हैं जो कि हमारे शरीर के लिए विभिन्न हार्मोन्स का नावण करती हैं, जिनके कई कार्य होते हैं। हमारे शरीर की अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ निम्न हैं –
1. पीयूष ग्रन्थि – पीयूष ग्रन्थि द्वारा वृद्धि हार्मोन सावित होता है। यह हार्मोन शरीर की वृद्धि को नियंत्रित करता है। यदि बाल्यकाल में इस हार्मोन की कमी हो तो व्यक्ति बौना रह जाता है या इस हार्मोन के स्रावण की मात्रा अधिक हो तो व्यक्ति आवश्यकता से अधिक लम्बा हो जाता है।

2. अबदु (बॉयराइड ग्रन्थि ) – हमारे गले में अवटु (थॉयराइड) ग्रन्थि होती है। यह ग्रन्थि थाइरॉक्सिन हार्मोन का नावण करती है। इस हार्मोन के निर्माण के लिए इसे आयोडीन की आवश्यकता होती है। भोजन में आयोडीन की कमी से गलगण्ड रोग होने की संभावना रहती है जिसके कारण गला सूजकर लटक जाता है।

3. अग्नाशय ग्रन्थि – यह प्रन्थि इन्सुलिन नामक हार्मोन सावित करती है। यदि इस हार्मोन का प्राव उचित मात्रा में नहीं होता है तो रक्त में शर्करा की मात्रा बढ़ जाती है जो कि हानिकारक है। इस कारण मधुमेह नामक रोग हो सकता है।

4. एहीनल ग्रन्थि – संकटकालीन परिस्थितियों जैसे अचानक डर जाना, परीक्षा परिणाम का इंतजार या अन्य कारण से चिन्ता आदि पर नियंत्रण हेतु एड्रिनल ग्रन्धि से सावित होने वाला हार्मोन एडीनलीन हमारे शरीर को तैयार करता है। यह रुधिर दाब को नियंत्रित करता है।

5. पैराथायरॉइड ग्रन्थि – ये हमारे गले में पाई जाने वाली 4 छोटी प्रन्थियां हैं। ये पैराथायरॉइड हार्मोन स्रावित करती हैं। पैराथायरॉइड ग्रन्थियाँ हमारे रुधिर में कैल्सियम के स्तर को नियंत्रित करती हैं।

6. थाइमस ग्रन्थि – थाइमस ग्रन्धि वया में पायी जाती है। बच्चों में इस प्रन्धि का आकार बड़ा होता है। यह थाइमोसिन नामक हार्मोन का स्रावण करती है। बाल्यकाला में इस ग्रन्थि का स्राव जननांगों के विकास में सहायक होता है। साथ ही शरीर में रोगाणुओं से लड़ने की क्षमता का विकास भी इस प्रन्थि के प्राव से होता है।

7. पिनियल ग्रन्थि – यह हमारे मस्तिष्क में पायी जाने वाली एक छोटी सी प्रन्धि है। यह ग्रन्धि मिलेटोनिन नामक हार्मोन मावित करती है। हमारे सेने-जागने का चक्र मिलेटोनिन हामोन द्वारा नित्रित होता है। यह प्रन्धि जनन हार्मोन को भी नियंत्रित करती है।

RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ

RBSE Class 6 Social Science अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ Important Questions and Answers

वस्तुनिष्ठ प्रश्न

Question 1.
शारीरिक परिवर्तन शरीर में जिन रासायनिक पदार्थों से होते हैं, उन्हें कहते हैं …………………..
(अ) ग्रन्थि
(ब) हार्मोन
(स) रक्त
(द) प्लाज्मा
उत्तर:
(ब) हार्मोन

Question 2.
निम्न में से वृद्धि हार्मोन कौनसी ग्रन्धि सावित करती है?
(अ) पीयूष प्रन्धि
(च) आनाशय ग्रन्यि
(स) थायमस ग्रन्थि
(द) पिनियल प्रन्थि
उत्तर:
(अ) पीयूष प्रन्धि

Question 3.
जिस रोग के कारण गला मुजकर लटक जाता है वह रोग है …………………..
(अ) मधुमेह रोग
(ब) मस्तिष्क रोग
(स) गलगण्ड रोग
(द) इनमें से कोई नहीं
उत्तर:
(स) गलगण्ड रोग

Question 4.
निम्न में से कौनसी ग्रन्थि कैल्सियम के स्तर को नियंत्रित रखती है?
(अ) थायमस प्रन्थि
(अ) थायराइड ग्रन्धि
(स) अग्नाशय ग्रन्थि
(द) पैराथायराइड ग्रन्धि
उत्तर:
(द) पैराथायराइड ग्रन्धि

RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ

Question 5.
शरीर की किस अवस्था में तेजी से शारीरिक वृद्धि होती है?
(अ) किशोरावस्था
(ब) बाल्यावस्था
(स) वृद्धावस्था
(द) युवावस्था
उत्तर:
(अ) किशोरावस्था

Question 6.
रक्त में इन्सुलिन हार्मोन के स्रावण की कमी से कौनसा रोग होता है?
(अ) गलागण्ड
(ब) मधुमेह
(स) मिर्गी
(द) उच्च रकाचाप
उत्तर:
(ब) मधुमेह

Question 7.
हमारे शरीर के वक्ष में कौनसी ग्रन्धि पाई जाती …………………..
(अ) पैराथायराइड ग्रन्थि
(व) पिनियल ग्रन्धि
(स) थाइमस ग्रन्थि
(द) एडिनिल ग्रन्थि
उत्तर:
(स) थाइमस ग्रन्थि

Question 8.
पिनियल ग्रन्थि कौनसा हार्मोन का स्त्रावण करती है?
(अ) मिलेटोनिन
(ब) इन्सुलिन
(स) पडीनलीन
(द) थाइरॉक्सिन
उत्तर:
(अ) मिलेटोनिन

Question 9.
एड्स रोग किस वायरस के कारण होता है?
(अ) VHI
(ब) IHV
(स) HIV
(द) IVH
उत्तर:
(स) HIV

RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ

रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए

  1. एड्रीनलीन हार्मोन ……………………… ग्रन्थि द्वारा स्रावित होता है। (एड्रीनल/थायमस)
  2. थायमस ग्रन्थि ……………………… में पायी जाती है। (वक्ष/पीठ)
  3. हमारे सोने-जागने का चक्र ……………………… हार्मोन द्वारा नियंत्रित होता है। (मिलेनमामिलेटोनिन)
  4. लोह तत्व ………………………. का निर्माण करता है। (मजा/रुधिर)
  5. ड्रग्स ……………………… पदार्थ है। (नशीले/मजेदार)

उत्तर:

  1. एड्रीनल
  2. वक्ष
  3. मिलेटोनि
  4. रुधिर
  5. नशीले

कॉलम (1) को कॉलम (2) से मिलाकर सुमेलित कीजिए

RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त स्रावी ग्रन्थियाँ
उत्तर:
1. (स)
2. (अ)
3. (य)
4. (ब)
5. (द)

RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ

अतिलघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
किशोरावस्था के कुछ परिवर्तन बताइए।
उत्तर:
किशोरावस्था में लड़कों के चेहरों पर दादी – मखें आना, चेहरे पर कील-मुहाँसे निकलना, लम्बाई में तेजी से वृद्धि होना, आवाज का भारी-पतली होना आदि परिवर्तन होते हैं।

प्रश्न 2.
किशोरावस्था की लगभग उम्र क्या होती है?
उत्तर:
किशारावस्था की उम्र लगभग 11-18, 19 वर्ष की अवधि के मध्य होती है।

प्रश्न 3.
हार्मोन्स किसे कहते हैं?
उत्तर:
किशोरावस्था में शारीरिक परिवर्तन शरीर में कुछ रासायनिक पदार्थों के द्वारा होते हैं, इन्हें हार्मोन कहते हैं।

प्रश्न 4.
हार्मोन किनसे व कहां पर सावित होते हैं?
उत्तर:
हार्मोन शरीर की अन्त:सावी प्रन्थियों द्वारा रुधिर में सावित होते हैं।

प्रश्न 5.
बच्चों में कौनसी ग्रन्थि का आकार बड़ा होता है?
उत्तर:
बच्चों में थाइमस ग्रन्थि का आकार बड़ा होता है।

प्रश्न 6.
गलगण्ड (घा) रोग का क्या कारण है?
उत्तर:
हमारे भोजन में आयोडीन की मात्रा के अभाव में गलगण्ड (घा) रोग होता है।

प्रश्न 7.
गलगण्ड (घंधा) रोग के क्या लक्षण है?
उत्तर:
गलगण्ड (घा) रोग में व्यक्ति का गला सूजकर लटक जाता है।

प्रश्न 8.
पैराथायरॉइड ग्रन्धि से कौनसा हार्मोन स्रावित होता है?
उत्तर:
पैराथायरॉइड हार्मोन साबित होता है।

प्रश्न 9.
हमारे शरीर के रूधिर में कैल्सियम के स्तर को कौनसा हार्मोन निश्चित करता है?
उत्तर:
पैराथायराइड हार्मोन नियंत्रित करता है।

प्रश्न 10.
जननांगों के विकास के लिए कौनसी ग्रन्थि सहायक है?
उत्तर:
जननांगों के विकास के लिए थाइमस ग्रन्थि सहायक होती है।

RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ

प्रश्न 11.
पिनियल ग्रन्थि कहां पायी जाती है?
उत्तर:
पिनियल ग्रन्धि मस्तिष्क के केन्द्र में पायी जाती

प्रश्न 12.
पिनियल ग्रन्थि कौनसा हार्मोन स्रावण
उत्तर:
पिनियल ग्रन्थि मिलेटोनिन हार्मन लावण करती है।

प्रश्न 13.
एड्स कौनसे वायरस द्वारा होता है?
उत्तर:
एड्स एच.आई.वी. नामक एक खतरनाक वायरस के कारण होता है। यह एक लाइलाज बीमारी है। यह वायरस एक एड्स पीड़ित व्यकिा से ड्रग में इस्तेमाल की जाने वाली सीरिंज एवं असुरक्षित यौन सम्बन्धों द्वारा हो सकता है।

RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ

निबन्धात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
मानव शरीर की प्रत्येक अन्तःस्रावी ग्रन्थि से सावित होने वाले एक हार्मोन का नाम एवं कार्य बताइए।
उत्तर:
मानव शरीर की अन्तःस्रावी ग्रन्थियाँ, नावित होने वाले हामान एवं कार्य की सारणी –
RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त स्रावी ग्रन्थियाँ

प्रश्न 2.
किशोरावस्था में पोषण किस प्रकार का होना चाहिए?
उत्तर:
किशोरावस्था एक ऐसी शारीरिक अवस्था या उम्न है जिसमें शरीर का विकास, वृद्धि एवं कई शारीरिक परिवर्तन अत्यधिक तेजी से होते हैं। शरीर में बाह्य एवं आन्तरिक कई बदलाव के लक्षण तेजी से नजर आते हैं। अत: किशोर को अपने भोजन में भोजन के सभी अवयव कार्बोहाइड्रेट्स, प्रोटीन, वसा, विटामिन, खानिज लवण, खाध रेशे आदि को उचित मात्रा में एक संतुलित आहार के रूप ग्रहण करने चाहिए। दूध, फल, पत्तेदार सब्जियाँ आदि भोजन में शामिल करें। लौह युक्त भोजन को भी रुधिर में वृद्धि एवं शोधन हेतु अपने भोजन में शामिल करें। हानिकारक व्यसनों से दूर रहें। व्यायाम करें जिससे भूख लगे, जिससे शरीर में होने वाले परिवर्तनों के समय शरीर का समुचित विकास एवं वृद्धि हो सके।

प्रश्न 3.
नशीले पदार्थ क्या होते हैं? किशोरावस्था या अन्य अवस्थाओं में इनसे किस प्रकार बचें?
उत्तर:
कई बार कई व्यक्तियों द्वारा भ्रमित किया जाता है कि किसी ड्रग (नशीली दवा) के सेवन से आप अच्छे एवं तनाव मुक्त महसूस करेंगे। आपको उनकी सलाह नहीं मानकर ना कर देनी चाहिए। यदि किसी प्रकार का तनाव आप महसूस करते हैं तो डॉक्टर की सलाह लेवें। ड्रग्स नशीलो पदार्थ हैं जिनकी आदत पड़ जाती है। यदि आप इन्हें एक बार लेना शुरू कर देते हैं तो इन्हें फिर आपको बार-बार लेने की इच्छा रहती है।

ये नशीले पदार्थ स्वास्थ्य की दृष्टि से, सामाजिक दृष्टि से, आर्थिक दृष्टि से आपको बर्बाद करते हैं। अतः नशीले पदार्थों से हमेशा दूर रहें, इनका सेवन बिल्कुल नहीं करें। एड्स जैसी खतरनाक बीमारी भी नशीले पदार्थों के कारण आपको हो सकती है। एड्स एक वायरस जनित रोग है। इस रोग से पीड़ित व्यक्ति से स्वस्थ व्यक्ति में ड्रग के लिए इस्तेमाल की जाने वाली सीरिंज द्वारा यह रोग एक से दूसरे में हो सकता है।

RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त:स्रावी ग्रन्थियाँ

प्रश्न 4.
मानव के शरीर में अन्तःस्त्रावी ग्रन्थियों की स्थिति का नामांकित चित्र बनाइए।
उत्तर:
RBSE Solutions for Class 7 Science Chapter 6 अन्त स्रावी ग्रन्थियाँ

Leave a Comment