RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

Rajasthan Board RBSE Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

RBSE Solutions for Class 8 Social Science

RBSE Class 8 Social Science पर्यटन और परिवहन Intext Questions and Answers

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

पृष्ठ – 65

आओ करके देखें

प्रश्न 1.
आपके जिले में स्थित ऐतिहासिक स्थलों की सूची बनाकर उनसे सम्बन्धित जानकारी एकत्र कीजिए।
उत्तर:
हमारा जिला भरतपुर है। इस जिले में निम्नलिखित ऐतिहासिक स्थल स्थित हैं –
1. लोहागढ़ दुर्ग – इसे मिट्टी का किला भी कहते हैं। महाराजा सूरजमल द्वारा संस्थापित इस दुर्ग का निर्माण 1733 ई. में प्रारम्भ हुआ। अपनी अजेय मोर्चाबन्दी के कारण अनेक हमलों के बावजूद यह दुर्ग बचा रहा। इस दुर्ग में तीन महल हैं-किशोरी महल, महल खास व कोठी खास। इस दुर्ग के चारों ओर एक गहरी खाई है जिसमें मोती झील से सुजानगंगा नहर द्वारा पानी लाया गया है।

2. बयाना दुर्ग – यादव राजवंश के महाराजा विजयपाल ने यह दुर्ग माना पहाड़ी पर 1040 ई. के लगभग बनवाया था। इस दुर्ग के भीतर लाल पत्थरों से बनी एक ऊँची लाट (स्तम्भ) है जो ‘भीमलांट’ के नाम से प्रसिद्ध है। इसे विष्णुवर्धन ने बनवाया था। यहाँ 1012 विक्रम संवत् में रानी चित्रलेखा द्वारा निर्मित ऊषा मंदिर हिन्दू स्थापत्य कला का उत्कृष्ट नमूना है।

3. डीग का किला-डीग कस्बे में स्थित इस किले का निर्माण महाराजा बदन सिंह ने 1730 ई. में करवाया था।

4. खानवा – रूपवास के समीप स्थित खानवा में बाबर व राणा सांगा के मध्य सन् 1527 ई. में निर्णायक युद्ध हुआ था। इस युद्ध में बाबर विजयी रहा और भारत में मुगल साम्राज्य स्थापित हो गया।

5. जलमहल – डीग के जलमहल अपनी विशालता, उत्कृष्ट शिल्प सौन्दर्य तथा इनके बीच स्थित मुगल शैली के सुन्दर उद्यानों के लिए प्रसिद्ध है। यहाँ बने गोपाल भवन, हरिदेव भवन, नन्द भवन, केशव भवन और सावन – भादों भवन आदि प्रमुख महल हैं। ये जलमहल फव्वारों के लिए प्रसिद्ध हैं। डीग, भरतपुर रियासती शासकों की प्राचीन राजधानी भी रहा है।

6. केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान – एक समय में भरतपुर के राजकुंवरों का शाही शिकारगाह रहा यह उद्यान आज विश्व के उत्तम पक्षी विहारों में से एक है, जिसमें पानी वाले पक्षियों की चार सौ से अधिक प्रजातियों की भरमार है। यहाँ अफगानिस्तान, मध्य एशिया, तिब्बत से प्रवासी चिड़ियों की मोहक किस्में तथा आर्कटिक से साइबेरियन सारस, साइबेरिया से भरे पैरों वाले हंस और चीन में धारीदार सिर वाले हंस प्रतिवर्ष जुलाई, अगस्त में आते हैं।

7. अन्य ऐतिहासिक स्थल – भरतपुर जिले के अन्य । ऐतिहासिक स्थलों में भरतपुर स्थित राजकीय संग्रहालय, लक्ष्मण मन्दिर, गंगा मन्दिर व जामा मस्जिद, जवाहर बुर्ज व फतेह बुर्ज, कामां का जलकुण्ड, चौरासी खम्भे व चीलमहल, रूपवास के मृगया महल तथा वैर स्थित नौलखा बाग में बना सफेद महल आदि प्रमुख हैं। (नोट-विद्यार्थी इसी प्रकार अपने-अपने जिले के ऐतिहासिक स्थलों के बारे में जानकारी एकत्रित कर सकते हैं।)

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

प्रश्न 2.
आपके जिले में स्थित भौगोलिक पर्यटक स्थलों की सूची बनाकर उनसे सम्बन्धित जानकारी एकत्रित कीजिए।
उत्तर:
जयपुर जिले के भौगोलिक पर्यटक स्थल निम्नलिखित

  1. गलताजी – जयपुर के बनारस’ के नाम से प्रसिद्ध प्राचीन कुण्ड । यहाँ गालव ऋषि का आश्रम है। वर्तमान में यह स्थान ‘मंकी वैली’ (Monkey Valley) के नाम से प्रसिद्ध है। मार्गशीर्ष कृष्ण प्रतिपदा को गलताजी में स्नान का विशेष महत्व है।
  2. जलमहल – जयपुर – आमेर मार्ग पर मानसागर झील में स्थित जलमहल देखने योग्य है। इसके निर्माण का श्रेय सवाई जयसिंह को जाता है।
  3. जमवारामगढ़ बाँध – जयपुर से 26 किलोमीटर दूर स्थित यह बाँध पर्यटन स्थल है। जयपुर शहर को इस बाँध से पीने के पानी की आपूर्ति की जाती है।
  4. विश्व वृक्ष उद्यान – यह उद्यान जयपुर की दक्षिण-पूर्व दिशा में झालाना डूंगरी पर्वतीय अंचल में स्थित है।
  5. कनक वृन्दावन उद्यान – हिन्दुस्तान चेरिटेबिल ट्रस्ट द्वारा जयपुर में विकसित उद्यान।
  6. चूलगिरी – जयपुर से 4 किमी. दूर जयपुर-आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित चूलगिरी पर्वत पर प्राकृतिक वैभव से भरपूर भगवान पार्श्वनाथ का मन्दिर स्थित है।

[नोट-इसी प्रकार आप अपने-अपने जिले के प्राकृतिक स्थलों के बारे में जानकारी एकत्रित कर सकते हैं।]

पृष्ठ – 66

प्रश्न 3.
आपके जिले में स्थित धार्मिक पर्यटन स्थलों की सूची बनाकर उनसे सम्बन्धित जानकारी एकत्र कीजिए।
उत्तर:
अजमेर जिले के प्रमुख धार्मिक पर्यटक स्थल निम्नलिखित हैं:

  1. ख्वाजा साहब की दरगाह – अजमेर में मुस्लिमों के पवित्र तीर्थस्थल सूफी संत ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती की | दरगाह है। इसे मुस्लिमों का दूसरा प्रमुख तीर्थस्थल माना जाता है। इसका निर्माण इल्तुतमिश ने प्रारम्भ करवाया तथा हुमायूँ ने इसे पूरा करवाया। यहाँ प्रतिवर्ष पहले रज्जब से 9वें रज्जब तक ख्वाजा साहब का उर्स मनाया जाता है। यह दरगाह ‘गरीब नवाज’ के नाम से प्रसिद्ध है।
  2. तीर्थराज पुष्कर – तीर्थराज पुष्कर अजमेर से 11 किमी. दूर स्थित है। मार्ग में सुरम्य घाटी है जिसे पुष्कर घाटी भी कहते हैं।
  3. पुष्कर झील – अर्द्धचन्द्राकार रूप में फैली इस झील में 52 घाट बने हुए हैं। यहीं गुरु गोविन्द सिंह ने सन् 1705 ई. में गुरु ग्रन्थ साहब का पाठ किया। इसका पुनः निर्माण 1809 ई. में मराठा सरदारों ने किया। यहाँ स्नान कर हिन्दू समाज अपने को धन्य मानता है।
  4. नसियाँ जी – यह मन्दिर प्रथम जैन तीर्थंकर आदिनाथ (ऋषभदेव) का है।
  5. ब्रह्मा जी का मन्दिर – ब्रह्मा जी का यह मन्दिर पुष्कर में स्थित है। इस मन्दिर में आदमकद चतुर्मुखी ब्रह्माजी की मूर्ति स्थापित है।

[नोट – इसी प्रकार आप अपने जिले के धार्मिक पर्यटन स्थलों के बारे में लिख सकते हैं।]

पृष्ठ – 67

प्रश्न 4.
राजस्थान में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए महोत्सव आयोजित किए जाते हैं। अपने शिक्षक एवं पत्र-पत्रिकाओं की सहायता से इनकी जानकारी एकत्र कीजिए।
उत्तर:
राजस्थान में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए अनेक महोत्सव आयोजित किये जाते हैं जिनमें अलवर का जगन्नाथ महोत्सव, अजमेर में ख्वाजा का उर्स, बारां का सीताबाड़ी व ब्रह्मणी महोत्सव, डूंगरपुर का बेणेश्वर महोत्सव, जैसलमेर का मरु महोत्सव, बाड़मेर का थार महोत्सव, माउण्ट आबू का ग्रीष्म व शरद महोत्सवं, चित्तौड़गढ़ का मीरा महोत्सव, कोटा का दशहरा महोत्सव तथा जयपुर का तीज महोत्सव आदि मुख्य हैं।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

पृष्ठ – 68

प्रश्न 5.
आपके जिले से गुजरने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग/ राजमार्गों की सूची बनाकर उनके बारे में जानकारी एकत्र कीजिए।
उत्तर:
हमारे जिले भरतपुर से राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 11 गुजरता है जिसकी कुल लम्बाई 170 किमी. है। (नोट – विद्यार्थी अपने जिले के अनुसार राष्ट्रीय राजमार्गों की सूची बनाएँ।)

प्रश्न 6.
राजस्थान के अन्य प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्ग कौन – कौन से हैं? अपने शिक्षक एवं परिवहन मानचित्र की सहायता से पता लगाकर रूपरेखा मानचित्र में दर्शाइए।
उत्तर:
पाठ्य पुस्तक में वर्णित राष्ट्रीय राजमार्गों के अतिरिक्त अन्य राष्ट्रीय राजमार्गों में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 11, 12, 13, 65, 76, 90, 112, 113 आदि शामिल हैं। मानाचत्र पमान पर आधारित नहीं है ।
RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन 1

पृष्ठ – 69

प्रश्न 7.
भारत के राजनीतिक रूपरेखा मानचित्र में भारतमाला सड़क गुजरने वाले राज्यों को दर्शाइए।
उत्तर:
भारतमाला सड़क गुजरने वाले राज्य मानचित्र में दर्शाए गए हैं
RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन 2

प्रश्न 8.
आपके जिले में स्थित रेलमार्गों एवं रेलवे स्टेशनों की सूची बनाइए।
उत्तर:
हमारे जिले दौसा में स्थित रेलमार्ग व रेलवे स्टेशन निम्नलिखित हैंरेलमार्ग:

  1. बाँदीकुई से आगरा रेलमार्ग
  2. बांदीकुई से दिल्ली रेलमार्ग
  3. बाँदीकुई – दौसा – जयपुर रेलमार्ग।

प्रमुख रेलवे स्टेशन – दौसा, बाँदीकुई, बसवा, बिवाई, मंडावर, करणपुरा, अरनिया, भांकरी आदि। (नोट-विद्यार्थी अपने जिले के अनुसार सूची बनाएँ)

क्या आप जानते है

पृष्ठ – 67

प्रश्न 1.
राजस्थान रोड विजन 2025 का उद्देश्य क्या है?
उत्तर:
राजस्थान रोड विजन 2025 का मुख्य उद्देश्य इस सदी के पहले 25 सालों में सड़कों का विस्तार एवं उचित देखभाल कर सड़कों की गुणवत्ता को बनाए रखना है।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

प्रश्न 2.
राजस्थान रोड विजन 2025 की क्या-क्या योजनाएँ हैं?
उत्तर:
राजस्थान रोड विजन 2025 की योजनाओं में राज्य में एक्सप्रेस हाइवे बनाना, फ्लाई ओवर बनाना, राज्य के प्रमुख शहरों को रिंग रोड द्वारा जोड़ना व सभी गाँवों को सड़कों से जोड़ना शामिल है।

RBSE Class 8 Social Science पर्यटन और परिवहन Text Book Questions and Answers

पाठ्यपुस्तक के प्रश्नोत्तर

प्रश्न 1.
सही विकल्प को चनिए –
(i) राजस्थान में ब्रह्माजी का मन्दिर स्थित है ………………….
(अ) अजमेर
(ख) पुष्कर
(ग) पाली
(घ) करौली
उत्तर:
(ख) पुष्कर

(ii) जयसमंद झील कौन से जिले में स्थित है ………………….
(क) उदयपुर
(ख) पुष्कर
(ग) बाड़मेर
(घ) जालौर
उत्तर:
(ख) पुष्कर

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

प्रश्न 2.
रिक्त स्थान की पूर्ति कीजिए –

  1. जयपुर में उत्तम शहरी यातायात के लिए …………………. की शुरुआत जून 2015 से की गई है।
  2. सड़क पार करते समय …………………. क्रॉसिंग का प्रयोग करना चाहिए।
  3. पर्यटन एक …………………. उद्योग है।
  4. केवलादेव घना राष्ट्रीय पक्षी विहार …………………. जिले में स्थित है।

उत्तर:

  1. मेट्रो रेल
  2. जेब्रा
  3. सेवा
  4. भरतपुर

प्रश्न 3.
राजस्थान का प्रथम अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा कहाँ स्थित है?
उत्तर:
राजस्थान का प्रथम अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा जयपुर अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा साँगानेर में स्थित है।

प्रश्न 4.
राजस्थान में प्रथम रेल कब व कहाँ चली थी?
उत्तर:
राजस्थान में प्रथम रेल सन् 1874 में बाँदीकुई (दौसा) से आगरा फोर्ट (उत्तर प्रदेश) के बीच चली थी।

प्रश्न 5.
भारतमाला योजना क्या है? समझाइए।
उत्तर:
भारत सरकार ने देश में सड़कों के विकास के लिए एक नवीन ‘भारतमाला’ परियोजना की घोषणा की है। इस परियोजना में हजारों किलोमीटर लम्बी सड़कों के निर्माण की योजना है जिसमें राजस्थान सहित भारत के सभी सीमावर्ती राज्यों, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखण्ड, उत्तर प्रदेश, बिहार, सिक्किम, असम, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर होते हुए मिजोरम आदि में सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण सड़क मार्गों का निर्माण किया जाएगा। सामरिक महत्व को देखते हुए इस परियोजना का लगभग 1500 किलोमीटर का हिस्सा राजस्थान के सीमावर्ती (भारत-पाकिस्तान सीमा) भाग से होकर गुजरेगा।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

प्रश्न 6.
पर्यटन किसे कहते हैं? आर्थिक दृष्टि से पर्यटन का क्या महत्व है?
उत्तर:
पर्यटन से आशय-मनोरंजन, नैसर्गिक (प्राकृतिक) आनन्द, खेलकूद, स्वास्थ्य, अध्ययन, धार्मिक यात्रा, व्यापार, कार्यालय कार्य, सम्मेलन, अभियान, पारिवारिक कार्य आदि के उद्देश्यों की पूर्ति के लिए की गई यात्रा पर्यटन कहलाती है। आर्थिक दृष्टि से पर्यटन का महत्व-आर्थिक दृष्टि से पर्यटन का बहुत अधिक महत्व है। पर्यटन से अनेक लोगों को रोजगार प्राप्त होता है। विदेशी मुद्रा की प्राप्ति होती है। राज्य की आय में वृद्धि होती है। इससे व्यापार तथा उद्योगों के विकास के साथ-साथ कला व संस्कृति का भी विकास होता है।

प्रश्न 7.
राजस्थान के प्रमुख पर्यटन स्थान कौन – कौन से हैं?
उत्तर:
राजस्थान के प्रमुख पर्यटन स्थलों को तीन भागों में बाँटा गया है जो निम्नवत हैं –

1. राजस्थान के प्रमुख ऐतिहासिक पर्यटन स्थल –

  • कालीबंगा व पीलीबंगा (हनुमानगढ़)
  • आहड़ (उदयपुर)
  • बैराठ (जयपुरं)
  • गणेश्वर (सीकर)
  • हवामहल, जंतर – मंतर, आमेर का किला (जयपुर)
  • विजय स्तम्भ व कीर्ति स्तम्भ (चित्तौड़गढ़)
  • कुंभलगढ़ का किला (राजसमंद)
  • सज्जनगढ़ किला, सिटी पैलेस (उदयपुर)
  • सोनारगढ़ किला (जैसलमेर)
  • आदि।

2. राजस्थान के प्रमुख धार्मिक पर्यटन स्थल –

  • पुष्कर – ब्रह्माजी का मन्दिर।
  • अजमेर – ख्वाजा मुइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह
  • जैसलमेर – रामदेवरा मन्दिर।
  • नाथद्वारा – श्रीनाथ जी मन्दिर।
  • उदयपुरएकलिंग जी मन्दिर
  • जयपुर – गोविन्ददेव जी मन्दिर
  • बीकानेर – करणीमाता, देशनोक व कोलायत
  • सवाई माधोपुर – श्री महावीर जी।
  • बाँसवाड़ात्रिपुरा सुन्दरी।
  • उदयपुर – ऋषभदेव
  • पालीरणकपुर
  • सिरोही – देलवाड़ा जैन मन्दिर।

3. राजस्थान के प्रमुख प्राकृतिक पर्यटन स्थल –

  • उदयपुर – जयसमंद, फतेहसागर, पिछोला तथा उदयसागर झीलें।
  • सिरोही – माउण्ट आबू एवं नक्की झील
  • अजमेर – पुष्कर झील
  • राजसमंद – राजसमंद झील
  • चित्तौड़गढ़ – चुलिया एवं मेनाल जल प्रपात।
  • सवाई माधोपुर – रणथम्भौर राष्ट्रीय उद्यान।
  • अलवर – सरिस्का राष्ट्रीय उद्यान।
  • भरतपुर – केवलादेव घना राष्ट्रीय पक्षी विहार।
  • कोटा – चम्बल अभयारण्य।
  • जैसलमेर एवं बाड़मेर – राष्ट्रीय मरु उद्यान।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

प्रश्न 8.
राजस्थान में सड़क परिवहन पर एक लेख लिखिए।
उत्तर:
राजस्थान में परिवहन के मुख्य साधन सड़क, रेल व हवाई यातायात हैं। इनमें से सड़क परिवहन ही राजस्थान में सबसे अधिक महत्वपूर्ण साधन है। यहाँ का अधिकतर परिवहन सड़कों के माध्यम से ही पूरा होता है। ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वालों के लिए सड़क परिवहन ही यातायात व आर्थिक दृष्टि से महत्वपूर्ण साधन है। पिछले 30 वर्षों में प्रदेश में सड़कों का तेजी से विकास हुआ है। राज्य में चार प्रकार की सड़कें हैं राष्ट्रीय राजमार्ग, राज्यीय राजमार्ग, जिला सड़कें व ग्रामीण सड़कें।

प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क निर्माण परियोजना के अन्तर्गत गाँवों को सड़कों से जोड़ने की योजना पर तेजी से कार्य हो रहा है। इससे प्रदेश का बहुत विकास हुआ है। दिल्ली से मुम्बई को जोड़ने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 8 राजस्थान राज्य के मध्य से गुजरता है। यह राज्य का सबसे व्यस्ततम राजमार्ग है। पश्चिमी सीमावर्ती क्षेत्र में स्थित राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 15 है जो राजस्थान का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग है। इसके अतिरिक्त राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 11, 12, 14, 65 आदि राज्य के अन्य प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्ग हैं।

RBSE Class 8 Social Science पर्यटन और परिवहन Important Questions and Answers

वस्तुनिष्ठ प्रश्न

Question 1.
भारत का प्रमुख पर्यटक राज्य है ………………
(क) राजस्थान
(ख) अरुणाचल
(ग) बिहार
(घ) उपर्युक्त सभी
उत्तर:
(क) राजस्थान

Question 2.
राजस्थान पर्यटन विकास निगम (RTDC) की स्थापना की गई ………………
(क) 1972
(ख) 1975
(ग) 1979
(घ) 1989
उत्तर:
(ग) 1979

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

Question 3.
राजस्थान का पर्यटन प्रतीक है ………………
(क) राजस्थान पधारिये
(ख) रंगीला भारत
(ग) सुरंगा राजस्थान
(घ) भारत का अतुल्य राज्य
उत्तर:
(घ) भारत का अतुल्य राज्य

Question 4.
राजस्थान को पर्यटन के विकास के लिए कितने पर्यटक मण्डलों में बाँटा गया है?
(क) 10
(ख) 11
(ग) 16
(घ) 4
उत्तर:
(क) 10

Question 5.
निम्न में से किस जिले में मेनाल जलप्रपात स्थित है?
(क) कोटा
(ख) जयपुर
(ग) चित्तौड़गढ़
(घ) भरतपुर।
उत्तर:
(ग) चित्तौड़गढ़

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

Question 6.
रॉयल राजस्थान ऑन व्हील्स नामक रेलगाड़ी राजस्थान के निम्न में से किस क्षेत्र से होकर नहीं जाती है?
(क) कोटा
(ख) जयपुर
(ग) उदयपुर
(घ) रणथंभौर
उत्तर:
(क) कोटा

Question 7.
निम्न में से किस वर्ष राजस्थान में पर्यटन को उद्योग का दर्जा दिया गया ………………
(क) 1989 ई.
(ख) 1979 ई.
(ग) 1992 ई.
(घ) 2011 ई
उत्तर:
(क) 1989 ई.

Question 8.
राजस्थान में रेल परिवहन का सबसे बड़ा केन्द्र है ………………
(क) भरतपुर
(ख) अजमेर
(ग) जयपुर
(घ) उदयपुर
उत्तर:
(ग) जयपुर

Question 9.
राजस्थान का रेल परिवहन निम्न में से किस रेल मण्डल में सम्मिलित है?
(क) उत्तरी रेलवे
(ख) उत्तरी – पश्चिमी रेलवे
(ग) पश्चिमी रेलवे
(घ) उत्तरी – पूर्वी रेलवे
उत्तर:
(ख) उत्तरी – पश्चिमी रेलवे

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

Question 10.
महाराणा प्रताप हवाई अड्डा स्थित है ………………
(क) जयपुर
(ख) उदयपुर
(ग) जोधपुर
(घ) अजमेर
उत्तर:
(ख) उदयपुर

अति लघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
आर. टी. डी. सी. (R.T.D.C.) का पूरा नाम लिखिए।
उत्तर:
राजस्थान पर्यटन विकास निगम।

प्रश्न 2.
राजस्थान में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए कौन-से नारे दिए गए हैं?
उत्तर:
राजस्थान में पर्यटन को बढ़ावा देने हेतु ‘पधारो म्हारे देश’, ‘रंगीलो राजस्थान’, ‘सुरंगा राजस्थान’, ‘राजस्थान पधारिये’ जैसे नारे दिए गए हैं।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

प्रश्न 3.
राजस्थान के किन्हीं दो प्रमुख पर्यटन मंडलों (सर्किटो) के नाम लिखिए।
उत्तर:

  1. जयपुर – आमेर सर्किट
  2. आहड़ सर्किट

प्रश्न 4.
राजस्थान के किन्हीं दो पुरातात्विक व के स्थलों के नाम बताइए।
उत्तर:

  1. कालीबंगा (हनुमानगढ़)
  2. मेवाड़ (यपुर)

प्रश्न 5.
राजस्थान के किन्हीं दो प्राकृतिक पर्यन स्थलों के नाम लिखिए।
उत्तर:

  1. केवलादेव घना राष्ट्रीय पक्षी विहार (भरतपुर)
  2. माउंट आबू (सिरोही)

प्रश्न 6.
अभयारण्य से क्या आशय है?
उत्तर:
वन्य जीवों के उन्मुक्त आवास क्षेत्रों को अभयारण्य कहते हैं।

प्रश्न 7.
राजस्थान के किन्हीं दो धार्मिक पर्यटन केन्द्रों के नाम लिखिए।
उत्तर:
राजस्थान के दो धार्मिक पर्यटन केन्द्रों में-ब्रह्माजी का मन्दिर (पुष्कर) व ऋषभदेव (उदयपुर) प्रमुख हैं।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

प्रश्न 8.
पर्यटन विकास हेतु राजस्थान में कौन-कौन सी शाही रेलगाड़ियाँ चलायी जा रही हैं?
उत्तर:

  1. पैलेस ऑन व्हील्स
  2. रॉयल राजस्थान ऑन व्हील्स

प्रश्न 9.
मेट्रो रेल क्या है?
उत्तर:
मेट्रो रेल महानगरों में स्थानीय परिवहन के लिए सार्वजनिक रेल व्यवस्था है।

प्रश्न 10.
राजस्थान में परिवहन के प्रमुख साधन कौन – कौन से हैं? नाम लिखिए।
उत्तर:

  1. सड़क परिवहन
  2. रेल परिवहन
  3. वायु परिवहन

प्रश्न 11.
राजस्थान में रेल परिवहन का विकास कम क्यों हुआ?
उत्तर:
राजस्थान का अधिकांश भाग मरुस्थलीय व पर्वतीय होने के कारण यहाँ रेल परिवहन का विकास अपेक्षाकृत कम हुआ है।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

प्रश्न 12.
राजस्थान का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग कौन-सा है?
उत्तर:
राजस्थान का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 15 है जिसकी राज्य में कुल लम्बाई 875 किमी. है।

प्रश्न 13.
सैनिक व सामरिक महत्व का हवाई अड्डा राज्य में कहाँ स्थित है?
उत्तर:
सैनिक व सामरिक महत्व का हवाई अड्डा जोधपुर के रातानाड़ा में स्थित है।

प्रश्न 14.
महाराणा प्रताप अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा कहाँ स्थित है?
उत्तर:
डबोक (उदयपुर) में।

लघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
राजस्थान में पर्यटक अधिक संख्या में क्यों आते हैं? बताइए।
उत्तर:
राजस्थान का भौतिक स्वरूप, स्थापत्य कला एवं ऐतिहासिक घटनाओं का गौरवमयी इतिहास पर्यटकों को आकर्षित करता रहा है इस कारण राजस्थान में पर्यटक अधिक संख्या में आते हैं। भारत में आने वाला प्रत्येक तीसरा विदेशी पर्यटक राजस्थान में आता है। राजस्थान में विभिन्न प्रकार के लोक संगीत, नृत्य कला आदि को जानने तथा सीखने के उद्देश्य से भी यहाँ अधिक संख्या में पर्यटक आते हैं।

प्रश्न 2.
हमारे जीवन में पर्यटन के महत्व पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।
उत्तर:
पर्यटन का महत्व – पर्यटन से हमारा ज्ञानवर्धन एवं मनोरंजन होता है। इससे विभिन्न देशों के लोग एक-दूसरे के सम्पर्क में आते हैं। इससे एक-दूसरे के विचारों तथा जीवन शैलियों का परिचय होता है। पर्यटकों के आने से उस क्षेत्र के व्यापारियों को लाभ होता है। रोजगार की प्राप्ति होती है। विदेशी मुद्रा भी मिलती है। पर्यटन शांति, सौहार्द्र और सम्पन्नता प्रदान करता है। इस प्रकार हमारे जीवन में पर्यटन का बहत महत्व है।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

प्रश्न 3.
राजस्थान में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये क्या – क्या प्रयास किये जा रहे हैं?
उत्तर:
राजस्थान में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए निम्नलिखित प्रयास किये जा रहे हैं –

  1. पर्यटन को उद्योग का दर्जा दिया गया है।
  2. राज्य में होटल निर्माण व पेइंग गेस्ट योजना संचालित की गई है।
  3. परिवहन हेतु आरक्षण, गाइड, टैक्सी व प्रमुख पर्यटन स्थलों की सूची इन्टरनेट पर दर्शायी गयी है।
  4. प्रमुख पर्यटन स्थलों को सड़क मार्ग, रेलमार्ग व वायु मार्गों से जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है।
  5. शाही रेलगाड़ियों का संचालन किया जा रहा है।

प्रश्न 4.
राजस्थान रोड विजन 2025′ के विषय में आप क्या जानते हैं?
उत्तर:
राजस्थान रोड विजन 2025′ के अनुसार इस सदी के पहले 25 सालों में अर्थात 2025 तक सड़कों का विस्तार करना, उचित देखभाल कर सड़कों की गुणवत्ता को बनाए रखा जाएगा। इसके अन्तर्गत राज्य में 7 एक्सप्रेस हाइवे बनाना, फ्लाई ओवर बनाना, राज्य के 17 प्रमुख शहरों को रिंग रोड द्वारा जोड़ना एवं सभी गाँवों को सड़कों से जोड़ने की योजना सम्मिलित है।

प्रश्न 5.
सड़क यातायात के प्रमुख नियमों को बताइए।
उत्तर:
सड़क यातायात के प्रमुख नियम निम्नलिखित हैं –

  1. सड़क पार करते समय जेब्रा क्रासिंग का प्रयोग करना।
  2. गाड़ी निर्धारित गति से चलाना।
  3. शराब पीकर गाड़ी नहीं चलाना।
  4. यातायात बत्ती का पालन करना।
  5. वाहन अपनी कतार या लेन में चलाना।
  6. सड़क पर मुड़ने के लिए संकेतक का उपयोग करना।
  7. दुपहिया वाहन पर हेलमेट एवं चौपहिया वाहन में सीट बेल्ट का उपयोग करना।
  8. ओवर टेक दाहिनी तरफ से सावधानीपूर्वक करना।
  9. वाहन चलाते समय मोबाइल पर एवं अन्य व्यक्ति से बात नहीं करना।
  10. रात्रि में वाहन चलाते समय संकेतकों (इन्डीकेटर व डिपर) का प्रयोग करना।
  11. वाहन में तेज आवाज में संगीत नहीं बजाना।
  12. वाहन चलाते समय दूसरे वाहन से पर्याप्त दूरी रखना आदि।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

प्रश्न 6.
हमारे जीवन में परिवहन के महत्व को बताइए।
उत्तर:
परिवहन का महत्व:
हमारे जीवन में तथा देश के | आर्थिक विकास में परिवहन का बहुत महत्व है। परिवहन के अन्तर्गत एक्सप्रेस – वे से शीघ्र यात्रा सम्भव होती है और हम कम समय में ही अपने कार्य स्थल पर या लक्ष्य पर पहुँच जाते हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग, प्रमुख बन्दरगाहों, विदेशी राजमार्गों, राज्य व केन्द्रशासित प्रदेशों की राजधानियों, बड़े औद्योगिक केन्द्रों तथा पर्यटन केन्द्रों को आपस में जोड़ते हैं। इनसे व्यापारी लोग अपने व्यापार हेतु आवागमन करते हैं। इसी प्रकार रेलमार्ग द्वारा लम्बी दूरी कम समय में तय की जाती है जिससे व्यापार में वृद्धि होती है। वायु परिवहन से देश-विदेश की यात्राएँ अत्यंत कम समय में की जा सकती हैं। सड़क परिवहन, रेल परिवहन व वायु परिवहन से देश की राष्ट्रीय आय में भी बहुत वृद्धि होती है। इस प्रकार परिवहन हमारे जीवन में अत्यन्त उपयोगी एवं महत्वपूर्ण है।

निबन्धात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
राजस्थान में पर्यटन के विकास को समझाइए।
उत्तर:
पर्यटन एक सेवा उद्योग है। पर्यटन आय का एक महत्वपूर्ण स्रोत है इसलिए प्रत्येक देश विदेशी मुद्रा कमाने के लिए पर्यटन को बढ़ावा देता है। राजस्थान में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सन् 1979 ई. में राज्य सरकार द्वारा राजस्थान पर्यटन विकास निगम (R.T.D.C.) की स्थापना की गई। इसके अतिरिक्त पर्यटन विकास हेतु राजस्थान को 10 पर्यटन मण्डलों में विभाजित किया गया है। प्रमुख पर्यटन मंडल-जयपुर-आमेर सर्किट, मरु सर्किट व मेवाड़ सर्किट हैं। सन् 1989 ई. में राजस्थान में पर्यटन को उद्योग का दर्जा दिया गया। पर्यटन के विकास के लिए राज्य में होटल निर्माण एवं पेइंग गेस्ट योजना का संचालन किया जा रहा है। निजी क्षेत्र के होटल व्यवसाय में भी निरन्तर पूँजी निवेश बढ़ रहा है।
RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन 3
पर्यटन की सभी जानकारियाँ व सुविधाएँ, जैसे- परिवहन आरक्षण, गाइड, टैक्सी, प्रमुख पर्यटन स्थलों के नाम इन्टरनेट पर उपलब्ध हैं। दर्शनीय स्थानों को सड़क मार्ग, रेलमार्ग व हवाई मार्गों से जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। पैलेस ऑन व्हील्स’ तथा ‘रॉयल राजस्थान ऑन व्हील्स’ जैसी शाही रेलगाड़ियों का संचालन भी पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ही किया जा रहा है। राजस्थान की लोककला, लोकनृत्य, लोकगीत, पारम्परिक वेशभूषा आदि ने यहाँ के पर्यटन के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है। राजस्थान में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ‘पधारो म्हारे देश’, ‘रंगीलो राजस्थान’, ‘सुरंगा राजस्थान’, ‘राजस्थान पधारिये’ जैसे नारे दिए गए हैं। ‘भारत का अतुल्य राज्य’ राजस्थान पर्यटन का प्रतीक है।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 8 पर्यटन और परिवहन

प्रश्न 2.
राजस्थान में परिवहन के साधनों पर एक लेख लिखिए।
उत्तर:
राजस्थान में परिवहन के साधन एक स्थान से दूसरे स्थान तक मानव और वस्तुओं को लाने ले जाने का कार्य परिवहन कहलाता है। राजस्थान में परिवहन के निम्नलिखित तीन साधन हैं:
1. सड़क परिवहन:
राजस्थान में परिवहन का सबसे महत्वपूर्ण साधन सड़क है। पिछले कई सालों से सड़कों का बहुत तेजी से विकास किया जा रहा है। प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क परियोजना के माध्यम से गाँवों को सड़कों से जोड़ा जा रहा है। राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 8, 11, 12, 14, 15, 65 आदि राजस्थान के प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्ग हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-15 राज्य का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग है। वहीं दिल्ली से मुम्बई को जोड़ने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 8 राज्य का सबसे व्यस्ततम राजमार्ग है।

2. रेल परिवहन:
वर्तमान समय में रेल परिवहन का बहुत अधिक महत्व है। राजस्थान में पहली रेल सन् 1874 ई. में बाँदीकुई (दौसा) से आगरा फोर्ट (उत्तर प्रदेश) तक चलायी गयी। इसके पश्चात् से राजस्थान में रेल परिवहन का निरन्तर विकास हो रहा है। वर्तमान में राज्य में रेलमार्गों की कुल लम्बाई लगभग 6000 किमी. है। राज्य में जयपुर रेल परिवहन का सबसे बड़ा केन्द्र है। राजस्थान का रेल परिवहन भारत के उत्तरी – पश्चिमी रेलवे मंडल में सम्मिलित है, जिसका मुख्यालय जयपुर है। जयपुर में शहरी परिवहन के लिए मेट्रो रेल की शुरुआत जून 2015 से की गई है। रेल परिवहन सड़क परिवहन से सस्ता है। खनिज और औद्योगिक विकास की दृष्टि से रेल परिवहन के विकास की राज्य में अच्छी सम्भावनाएँ हैं।

3. वायु परिवहन:
यह सबसे महँगा एवं तीव्र परिवहन का साधन है। राजस्थान में वायु परिवहन का विकास अपेक्षाकृत कम हुआ है, यहाँ जयपुर, उदयपुर, जोधपुर व कोटा में हवाई अड्डे स्थापित हैं। जयपुर में स्थित सांगानेर हवाई अड्डा राज्य का सबसे व्यस्ततम व पहला अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा है। जबकि जोधपुर के रातानाड़ा में सैनिक व सामरिक महत्व का हवाई अड्डा स्थापित है। औद्योगीकरण तथा विभिन्न क्षेत्रों में हो रहे विकास के लिए राजस्थान में वायु परिवहन की सुविधाओं को विकसित करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

Leave a Comment