RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

Rajasthan Board RBSE Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

RBSE Solutions for Class 8 Social Science

RBSE Class 8 Social Science जल संसाधन Intext Questions and Answers

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

पृष्ठ – 24

आओ करके देखें

प्रश्न 1.
नदी पर बने बाँधों से होने वाले लाभों की सूची बनाइए।
उत्तर:
नदी पर बने बाँधों से होने वाले लाभ:

  1. सिंचाई के लिए लाभदायक।
  2. पेयजल की कमी की समस्या को दूर करने में सहायक।
  3. मत्स्य-पालन (मछली-पालन) हेतु लाभदायक।
  4. पर्यटन की सम्भावनाओं में वृद्धि।
  5. जल – विद्युत उत्पादन में सहायक।
  6. मरुस्थलीकरण रोकने में सहायक।

प्रश्न 2.
क्या आपके जिले में कोई बाँध परियोजना है? यदि हाँ तो उससे सम्बन्धित जानकारी एकत्र कीजिए।
उत्तर:
मैं राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले का रहने वाला हूँ। इस जिले में राणा प्रताप सागर बाँध स्थित है। इस बाँध से जल विद्युत एवं सिंचाई की सुविधाएँ प्राप्त होती हैं। यह बांध चम्बल नदी पर बनाया गया है। इससे 172 मेगावाट विद्युत का उत्पादन होता है। यह 110 मी. लम्बा व 36 मी. ऊँचा है।

प्रश्न 3.
राजस्थान के रूपरेखा मानचित्र में राजस्थान की प्रमुख नदियों को दर्शाइए।
उत्तर:
RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन 1

पृष्ठ – 25

प्रश्न 4.
हरिके बैराज के पास किन दो नदियों का संगम हो रहा है?
उत्तर:
हरिके बैराज के पास दो नदियों व्यास तथा सतलज का संगम हो रहा है।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

प्रश्न 5.
इन्दिरा गाँधी नहर से राजस्थान के किन-किन जिलों में सिंचाई सुविधा मिल रही हैं?
उत्तर:
इन्दिरा गाँधी नहर से राजस्थान राज्य के श्री गंगानगर, हनुमानगढ़, चूरू, बीकानेर, झुंझुनूँ, नागौर, जैसलमेर, जोधपुर व बाड़मेर जिलों में सिंचाई सुविधा मिल रही हैं।

प्रश्न 6.
राजस्थान के रूपरेखा मानचित्र में इन्दिरा गाँधी नहर को दर्शाइए।
उत्तर:
RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन 2

पृष्ठ – 26

प्रश्न 7.
क्या आपके जिले या आस-पास के क्षेत्र में कोई नहर है? यदि हाँ तो उसकी जानकारी एकत्र कीजिए एवं उनसे होने वाले लाभों की सूची बनाइए।
उत्तर:
हाँ! मेरे जिले में नहर है। लोगों की कृषि सम्बन्धी एवं अन्य आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए इसका निर्माण किया गया। यह नहर एक बाँध से निकाली गयी है इसकी कुल लम्बाई 36 किमी. है। इससे होने वाले लाभों की सूची इस प्रकार है:

  1. कृषि – सिंचाई से सम्बन्धित सुविधाओं का विकास होना।
  2. मत्स्य पालन को बढ़ावा मिलना।
  3. अन्य आवश्यकताओं हेतु लोगों को जल की उपलब्धता होना।

पृष्ठ – 28

प्रश्न 8.
क्या आपके जिले में प्राचीन समय के शासकों द्वारा किसी झील, नहर, बावड़ी या अन्य किसी जल स्रोत का निर्माण किया गया है? उनकी वर्तमान स्थिति एवं सम्बन्धित अन्य जानकारियाँ एकत्र कर कक्षा में उसकी चर्चा कीजिए।
उत्तर:
मैं उदयपुर जिले का निवासी हूँ। यहाँ प्राचीन समय के शासकों द्वारा झील, नहर आदि का निर्माण किया गया है। महाराजा जयसिंह ने गोमती नदी पर जयसमंद झील का निर्माण करवाया। महाराणा फतहसिंह ने, फतहसागर तक जल पहुँचाने के लिए आहड नदी पर एक बाँध बनाकर चिकलवास नहर का निर्माण करवाया।

क्या आप जानते हैं

पृष्ठ – 21

प्रश्न 1.
सहायक नदियाँ किसे कहते हैं?
उत्तर:
ऐसी छोटी नदियाँ जो अपने क्षेत्र का जल आगे ले जाकर बड़ी नदियों में उड़ेलती हैं। उन्हें सहायक नदियाँ कहते हैं।

पृष्ठ – 23

प्रश्न 2.
बैराज किसे कहा जाता है?
उत्तर:
सिंचाई के उद्देश्य से प्राकृतिक जल बहाव की दिशा को परिवर्तित करने के लिए जलस्रोत में बनाए गये बाँध को बैराज कहा जाता है।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

प्रश्न 3.
फीडर किसे कहते हैं?
उत्तर:
किसी मुख्य नहर का ऐसा हिस्सा जहाँ से पानी का कोई उपयोग नहीं किया जाता है उसे फीडर कहते हैं।

RBSE Class 8 Social Science जल संसाधन Text Book Questions and Answers

पाठ्य पुस्तक के प्रश्नोत्तर

प्रश्न 1.
सही विकल्प को चुनिए –
(i) बनास व बेड़च किस नदी की सहायक नदियाँ हैं?
(क) चम्बल
(ख) लूनी
(ग) बाणगंगा
(घ) माही
उत्तर:
(क) चम्बल

(ii) सोम कमला आम्बा परियोजना स्थित है –
(क) बाड़मेर में
(ख) डूंगरपुर में
(ग) उदयपुर में
(घ) कोटा में।
उत्तर:
(ख) डूंगरपुर में

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

प्रश्न 2.
रिक्त स्थान की पूर्ति कीजिए –

  1. …………………… नदी का पानी भरतपुर में घना पक्षी राष्ट्रीय उद्यान में नम भूमि का निर्माण करता है।
  2. …………………… एशिया की सबसे बड़ी नहर प्रणाली है जिसे मरुगंगा भी कहा जाता है।
  3. विश्व की मीठे पानी की सबसे बड़ी मानव निर्मित झील …………………… को माना जाता है।
  4. पण्डित जवाहर लाल नेहरू ने नदी घाटी परियोजनाओं को …………………… कहा है।

उत्तर:

  1. बाणगंगा
  2. इन्दिरा गाँधी नहर
  3. जयसमंद
  4. आधुनिक भारत के मन्दिर।

प्रश्न 3.
जल विभाजक से रेखा आप क्या समझते हैं?
उत्तर:
दो अपवाह क्षेत्रों के मध्य की उच्च भूमि जो वर्षा जल को विभिन्न दिशाओं में प्रवाहित करती है, उसे जल विभाजक रेखा कहा जाता है।

प्रश्न 4.
बनास की प्रमुख सहायक नदियों के नाम लिखिए।
उत्तर:
बेड़च, मेनाल, कोठारी, गम्भीरी, खारी तथा मोरेल नामक नदियाँ बनास की प्रमुख सहायक नदियाँ हैं।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

प्रश्न 5.
राजस्थान की प्रमुख नदी घाटी परियोजनाओं के नाम लिखिए।
उत्तर:
राजस्थान की प्रमुख नदी घाटी परियोजनाएँ निम्नलिखित हैं:

  1. चम्बल परियोजना
  2. माही बजाज सागर परियोजना
  3. बीसलपुर परियोजना
  4. सरदार सरोवर परियोजना

प्रश्न 6.
चम्बल परियोजना पर लघु निबन्ध लिखिए।
उत्तर:
चम्बल परियोजना राजस्थान तथा मध्य प्रदेश राज्यों की संयुक्त नदी घाटी परियोजना है। इस परियोजना से उक्त दोनों राज्यों को प्रमुख रूप से जल विद्युत तथा सिंचाई सुविधाएँ प्राप्त होती हैं। चम्बल परियोजना के अन्तर्गत निम्नलिखित चार बाँध निर्मित किए गए हैं:

  1. गाँधी सागर बाँध-यह मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में
  2. राणा प्रताप सागर बाँध-यह राजस्थान के चित्तौडगढ़ जिले में है।
  3. जवाहर सागर बैराज बाँध-यह राजस्थान के कोटा जिले में है।
  4. कोटा बैराज बाँध-यह भी राजस्थान के कोटा जिले में है।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

प्रश्न 7.
जल संरक्षण से आप क्या समझते हैं? जल संरक्षण कैसे किया जा सकता है?
उत्तर:
जल संरक्षण से आशय – जल के दुरुपयोग को रोकने के उद्देश्य से उसका सावधानीपूर्वक प्रबन्धन व रख – रखाव तथा उसको सुरक्षित रखने की प्रक्रिया को जल संरक्षण कहा जाता है। जल संरक्षण के उपाय:

  1. नागरिक, समाज तथा प्रशासन मिलकर यह सुनिश्चित करें कि जलाशयों में घरेलू और औद्योगिक अपशिष्ट न डाला जाए और न ही जल स्रोतों के निकट नहाएँ और न ही कपड़े धोएँ।
  2. जल में उत्पन्न खरपतवारों को हटाना।
  3. वर्षा के जल का संग्रह करना।
  4. भूमिगत जल का विवेकपूर्ण उपयोग।
  5. सिंचाई के लिए उन्नत विधियों का प्रयोग।
  6. वनावरण में वृद्धि करना।
  7. जल का पुनर्वितरण करना अर्थात् अधिक वर्षा वाले क्षेत्रों से जल को नहर के द्वारा कम वर्षा वाले क्षेत्रों में पहुँचाकर जन-जीवन तथा उद्योगों के लिए अनुकूल परिस्थितियाँ उपलब्ध कराकर क्षेत्रीय व सामाजिक विषमता को कम करना।

RBSE Class 8 Social Science जल संसाधन Important Questions and Answers

वस्तुनिष्ठ प्रश्न

Question 1.
राजस्थान के मुख्य जल स्रोत हैं ……………….
(क) झीलें व तालाब
(ख) नदियाँ व नहरें
(ग) कुएँ एवं नलकूप
(घ) उक्त सभी।
उत्तर:
(घ) उक्त सभी।

Question 2.
साबरमती नदी कहाँ गिरती है?
(क) अरब सागर में
(ख) बंगाल की खाड़ी में
(ग) सांभर झील में
(घ) उपर्युक्त में से कोई नहीं।
उत्तर:
(क) अरब सागर में

Question 3.
निम्नलिखित में कौन-सी नदी अरब सागरीय अपवाह तन्त्र में सम्मिलित है?
(क) चम्बल
(ख) घग्घर
(ग) लूनी
(घ) बाणगंगा।
उत्तर:
(ग) लूनी

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

Question 4.
राजस्थान में आन्तरिक अपवाह तन्त्र वाली नदी है ……………….
(क) चम्बल
(ख) बनास
(ग) कांतली
(घ) लूनी
उत्तर:
(ग) कांतली

Question 5.
राजस्थान की वर्षपर्यन्त बहने वाली नदी है ……………….
(क) चम्बल
(ख) लूनी
(ग) साबरमती
(घ) कालीसिन्ध
उत्तर:
(क) चम्बल

Question 6.
कोटा नगर निम्न में किस नदी के किनारे स्थित है?
(क) लूनी
(ख) चम्बल
(ग) साबरमती
(घ) माही
उत्तर:
(ख) चम्बल

Question 7.
पूर्णतः राजस्थान में बहने वाली सबसे लम्बी नदी है ……………….
(क) माही
(ख) लूनी
(ग) चम्बल
(घ) बनास।
उत्तर:
(घ) बनास।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

Question 8.
राजस्थान के सवाई माधोपुर और टोंक नगर कौन – सी नदी के किनारे पर स्थित हैं?
(क) बनास
(ख) चम्बल
(ग) माही
(घ) लूनी।
उत्तर:
(क) बनास

Question 9.
नदी घाटी परियोजनाओं को ‘आधुनिक भारत के मन्दिर’ किसने कहा है?
(क) महात्मा गाँधी ने
(ख) पं. जवाहर लाल नेहरू ने
(ग) इन्दिरा गाँधी ने
(घ) नरेन्द्र मोदी ने।
उत्तर:
(ख) पं. जवाहर लाल नेहरू ने

Question 10.
निम्न में से किस जिले में माही नदी पर माही बजाज सागर बाँध बनाया गया है ……………….
(क) दूंगरपुर
(ख) बाँसवाड़ा
(ग) उदयपुर
(घ) कोटा।
उत्तर:
(ख) बाँसवाड़ा

रिक्त स्थान की पूर्ति कीजिए

  1. ………………….. नदी का उद्गम स्थल मध्यप्रदेश में विंध्याचल पर्वत में अमरोरू नामक स्थान है।
  2. चम्बल परियोजना राजस्थान और ………………….. राज्यों की संयुक्त परियोजना है।
  3. बाड़मेर में बालोतरा तक ………………….. का जल मीठा होता है।
  4. ………………….. एशिया की सबसे बड़ी नहर प्रणाली है जिसे मरूगंगा भी कहा जाता है।
  5. जयसमंद झील का निर्माण मेवाड़ के ………………….. ने करवाया था।

उत्तर:

  1. माही
  2. मध्य प्रदेश
  3. लूनी नदी
  4. इन्दिरा गाँधी नहर
  5. महाराणा जयसिंह।

अति लघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
जल संसाधन से क्या अभिप्राय है?
उत्तर:
जल के वे स्रोत जो मानव के लिए उपयोगी हों अथवा जिनको भविष्य में प्रयोग किए जाने की सम्भावना हो, जल संसाधन कहलाते हैं।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

प्रश्न 2.
अपवाह तंत्र या प्रवाह प्रणाली किसे कहते हैं?
उत्तर:
किसी मुख्य नदी तथा उसकी सहायक नदियों द्वारा निर्मित जल प्रवाह की विशेष व्यवस्था को अपवाह तंत्र या प्रवाह प्रणाली कहते हैं।

प्रश्न 3.
राजस्थान की जल विभाजक रेखा किसे माना | जाता है?
उत्तर:
अरावली पर्वत को।

प्रश्न 4.
राजस्थान के अपवाह तन्त्र को कितने भागों में बाँटा जा सकता है? बताइए।
उत्तर:
तीन भागों में बाँटा जा सकता है:

  1. बंगाल की खाड़ी का अपवाह तन्त्र
  2. अरब सागर का अपवाह तन्त्र
  3. आन्तरिक अपवाह तन्त्र।

प्रश्न 5.
बंगाल की खाड़ी के अपवाह तन्त्र से सम्बन्धित प्रमुख नदियाँ कौन – कौन – सी हैं?
उत्तर:

  1. चम्बल
  2. काली सिन्ध
  3. पार्वती
  4. बनास तथा
  5. बेड़च नदी।

प्रश्न 6.
अरब सागर में गिरने वाली प्रमुख नदियाँ कौन – कौन सी हैं?
उत्तर:

  1. माही
  2. लूनी
  3. साबरमती
  4. पश्चिमी बनास आदि नदियाँ।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

प्रश्न 7.
राजस्थान के आन्तरिक अपवाहतन्त्र में कौन-कौन सी नदियाँ सम्मिलित हैं?
उत्तर:

  1. घग्घर
  2. बाणगंगा
  3. कांतली
  4. साबी
  5. रूपारेल
  6. मेंढ़ा आदि नदियाँ।

प्रश्न 8.
आंतरिक या भूमिगत अपवाह तंत्र क्या है?
उत्तर:
जब कोई नदी किसी समुद्री भाग में न पहुँचकर स्थलीय भाग में ही विलुप्त हो जाए या किसी झील में मिल जाए तो उसे आंतरिक या भूमिगत अपवाह तंत्र कहते हैं।

प्रश्न 9.
चम्बल नदी की प्रमुख सहायक नदियाँ कौन-कौन सी हैं?
उत्तर:

  1. बनास
  2. बेड़च
  3. कोठारी
  4. कालीसिन्ध तथा
  5. पार्वती नदी।

प्रश्न 10.
राजस्थान में ‘त्रिवेणी’ के नाम से किसे जाना जाता है?
उत्तर:
बीगोद और मांडलगढ़ (भीलवाड़ा) के मध्य बनास, बेड़च व मेनाल नदियों के संगम स्थल को त्रिवेणी के नाम से जाना जाता है।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

प्रश्न 11.
बाणगंगा नदी के उद्गम स्थल का नाम बताइए।
उत्तर:
जयपुर में अरावली की बैराठ पहाड़ियाँ।

प्रश्न 12.
अर्जुन की गंगा किसे कहा जाता है?
उत्तर:
राजस्थान के पूर्वी भाग में बहने वाली बाणगंगा नदी को अर्जुन की गंगा कहते हैं।

प्रश्न 13.
कौन – सी नदी को प्राचीन सरस्वती नदी का अवशेष माना जाता है?
उत्तर:
घग्घर नदी को।

प्रश्न 14.
राजस्थान में आंतरिक प्रवाह वाली सबसे लम्बी नदी कौन – सी है?
उत्तर:
राजस्थान में आंतरिक प्रवाह वाली सबसे लम्बी नदी घग्घर है।

प्रश्न 15.
नदी घाटी परियोजनाओं के मुख्य उद्देश्य क्या हैं?
उत्तर:
नदी घाटी परियोजनाओं के मुख्य उद्देश्य जल विद्युत उत्पादन, सिंचाई, वृक्षारोपण, बाढ़ नियंत्रण, पेयजल आपूर्ति व पर्यटन आदि हैं।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

प्रश्न 16.
चम्बल परियोजना पर निर्मित बाँधों के नाम बताइए।
उत्तर:

  1. गाँधी सागर बाँध
  2. राणा प्रताप सागर बाँध
  3. जवाहर सागर बाँध
  4. कोटा बैराज बाँध।

प्रश्न 17.
बीसलपुर परियोजना क्या है?
उत्तर:
राजस्थान के टोंक जिले के टोडारायसिंह नगर के पास बनास नदी पर पेयजल के उद्देश्य से इस परियोजना का निर्माण किया गया है। इससे जयपुर, अजमेर व टोंक जिलों को पेयजल की आपूर्ति होती है।

प्रश्न 18.
सरदार सरोवर परियोजना किन-किन राज्यों की संयक्त परियोजना है?
उत्तर:
सरदार सरोवर परियोजना गुजरात, राजस्थान, मध्यप्रदेश व महाराष्ट्र राज्यों की संयुक्त परियोजना है।

प्रश्न 19.
राजस्थान की प्रसिद्ध ‘गंगनहर’ का निर्माण किसने करवाया था?
उत्तर:
गंगनहर का निर्माण बीकानेर के तत्कालीन महाराजा गंगा सिंह द्वारा करवाया गया था।

प्रश्न 20.
राजस्थान की पहली और सबसे पुरानी नहर कौन-सी है?
उत्तर:
गंगनहर।

प्रश्न 21.
गंगनहर राजस्थान राज्य के किस जिले में सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराती है?
उत्तर:
श्रीगंगानगर जिले में।

प्रश्न 22.
इन्दिरा गाँधी नहर के निर्माण का सुझाव सर्वप्रथम किसने दिया?
उत्तर:
सिंचाई विभाग के इन्जीनियर कँवरसेन ने।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

प्रश्न 23.
इन्दिरा गाँधी नहर का उद्गम स्थल बताइए।
उत्तर:
पंजाब में सतलुज व व्यास नदी के संगम पर हरिके बैराज से इन्दिरा गाँधी नहर निकाली गयी है।

प्रश्न 24.
इन्दिरा गाँधी नहर का अन्तिम बिन्दु बताइए।
उत्तर:
इन्दिरा गाँधी नहर का अन्तिम बिन्दु गडरा रोड (बाड़मेर) है।

प्रश्न 25.
संसाधन संरक्षण से क्या आशय है?
उत्तर:
संसाधनों का सावधानीपूर्वक किया गया ऐसा प्रबन्धन व रखरखाव जिससे उनके दुरुपयोग या अनावश्यक क्षति को रोका जा सके, संसाधन संरक्षण कहलाता है। ”

प्रश्न 26.
स्वच्छ जल के संरक्षण की आवश्यकता क्यों
उत्तर:
ताकि मानव की आगामी पीढ़ियों को स्वच्छ जल की उपलब्धता कायम रह सके।

प्रश्न 27.
जयसमंद झील का निर्माण कब व किसने करवाया?
उत्तर:
जयसमंद झील का निर्माण सन् 1687 ई. से सन् 1691 ई. के मध्य गोमती नदी पर महाराणा जयसिंह ने

लघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
अपवाह तंत्र किसके द्वारा नियंत्रित होता है?
अथवा
अपवाह तंत्र को प्रभावित करने वाले कारक कौन – से हैं?
उत्तर:
अपवाह तंत्र के नियंत्रक या प्रभावित करने वाले कारक निम्न हैं:

  1. धरातलीय बनावट और भू – गर्भिक संरचना।
  2. ढाल की स्थिति।
  3. विवर्तनिकी प्रक्रियाएँ।
  4. जलवायु परिवर्तन।
  5. मानवीय हस्तक्षेप।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

प्रश्न 2.
राजस्थान में स्थित अरावली पर्वत को जल – विभाजक रेखा क्यों माना जाता है?
उत्तर:
राजस्थान में स्थित अरावली पर्वत को जल – विभाजक रेखा इसलिए माना जाता है, क्योंकि यह वर्षा के सम्पूर्ण जल को पूर्वी अपवाह तन्त्र (बंगाल की खाड़ी अपवाह तन्त्र) तथा पश्चिमी अपवाह तन्त्र (अरब सागरीय अपवाह तन्त्र) में विभाजित करता है।

प्रश्न 3.
आन्तरिक अपवाह तन्त्र के बारे में आप क्या जानते हैं? संक्षेप में बताइए।
अथवा
भूमिगत अपवाह तन्त्र वाली नदी पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।
उत्तर:
आन्तरिक अपवाहतन्त्र-ऐसी नदी जो किसी समुद्र तक पहुँचने से पूर्व ही स्थल भाग में विलुप्त हो जाए अथवा किसी झील में मिल जाए तो उसे आन्तरिक या भूमिगत अपवाह तन्त्र वाली नदी कहा जाता है। राजस्थान में आन्तरिक अपवाह तन्त्र के अन्तर्गत घग्घर, कांतली, बाणगंगा, साबी, रूपारेल व मेंढा आदि नदियों को सम्मिलित किया जाता है।

प्रश्न 4.
बनास नदी की चार विशेषताएँ लिखिए।
उत्तर:

  1. यह चम्बल की प्रमुख सहायक नदी है।
  2. यह खमनौर की पहाड़ियों से निकलती है।
  3. इसका जल ग्रहण क्षेत्र राजस्थान में सर्वाधिक है।
  4. इसी नदी पर बीगोद के समीप त्रिवेणी धाम स्थित है।

प्रश्न 5.
माही नदी पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।
उत्तर:
माही नदी अरब सागर के अपवाह तन्त्र की एक प्रमुख नदी है। इसका उद्गम मध्यप्रदेश में विंध्याचल पर्वत में अमरोरू नामक स्थान से होता है। यह नदी राजस्थान के बाँसवाड़ा व प्रतापगढ़ जिलों में बहने के पश्चात् खम्भात की खाड़ी में गिरती है। बाँसवाड़ा में इस नदी पर माही बजाज सागर बाँध बनाया गया है। सोम व जाखम इसकी प्रमुख सहायक नदियाँ हैं।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

प्रश्न 6.
माही बजाज सागर परियोजना को संक्षेप में लिखिए।
उत्तर:
यह परियोजना बाँसवाड़ा में माही नदी पर स्थित है। यह परियोजना राजस्थान तथा गुजरात राज्य की संयुक्त परियोजना है, जिससे इन दोनों राज्यों में सिंचाई व पेयजल की सुविधाएँ तो प्रदान की ही जा रही हैं साथ ही इस परियोजना से जल विद्युत उत्पादन भी किया जा रहा है।

प्रश्न 7.
सरदार सरोवर परियोजना किस नदी पर स्थित है? इससे राजस्थान के कौन-कौन से जिले लाभान्वित होते हैं?
उत्तर:
सरदार सरोवर परियोजना नर्मदा नदी पर स्थित है। यह मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात व महाराष्ट्र राज्यों की संयुक्त परियोजना है। इस परियोजना से राजस्थान के बाड़मेर व जालोर जिलों को पेयजल व सिंचाई की सुविधा का लाभ मिलता है।

प्रश्न 8.
‘मरुगंगा’ किसे कहा जाता है और क्यों?
उत्तर:
इन्दिरा गाँधी नहर को ‘मरुगंगा’ कहा जाता है। यह एशिया की सबसे बड़ी नहर प्रणाली है। चूँकि राजस्थान के पश्चिमी भाग (थार के मरुस्थल) में कृषि विकास, मरुस्थलीकरण पर रोक, पशुपालन, सूखे व अकाल का नियन्त्रण, मत्स्य पालन, विद्युत उत्पादन, सिंचाई तथा पर्यटन में वृद्धि इन्दिरा गाँधी नहर के कारण ही सम्भव हो पायी है, इसीलिए इस नहर को ‘मरुगंगा’ भी कहा जाता है।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

प्रश्न 9.
गंगनहर पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।
उत्तर:
गंगनहर राजस्थान की प्रथम नहर है जिसका निर्माण स्वतंत्रता से पूर्व ही 1927 ई. में बीकानेर के तत्कालीन महाराजा गंगसिंह ने करवाया था। उन्होंने पंजाब में सतलज नदी पर फिरोजपुर के निकट एक बाँध बनवाकर यह नहर निकाली थी। इस नहर से वर्तमान में श्रीगंगानगर जिले में सिंचाई होती है।

प्रश्न 10.
भरतपुर नहर का संक्षिप्त वर्णन कीजिए।
उत्तर:
भरतपुर नहर राजस्थान के पूर्वी भाग में स्थित भरतपुर जिले की मुख्य नहर है। इस नहर का निर्माण पश्चिमी यमुना नहर से किया गया है। यह नहर भरतपुर जिले में सिंचाई हेतु सहायक सिद्ध हुई है। इस नहर की सिंचाई से भरतपुर में सरसों की फसल मुख्य रूप से उत्पादित होती है।

निबन्धात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
अपवाह तन्त्र से क्या आशय है? राजस्थान के अपवाह तन्त्र का विस्तार से वर्णन कीजिए।
उत्तर:
अपवाह तन्त्र से आशय:
किसी नदी तथा उसकी सहायक नदियों द्वारा निर्मित जल के बहाव की व्यवस्था को अपवाह तन्त्र या प्रवाह प्रणाली कहा जाता है। अपवाह तन्त्र मुख्य रूप से धरातलीय स्वरूप एवं भू-गर्भिक बनावट से प्रभावित होता है।

राजस्थान का अपवाह तन्त्र – राजस्थान के अपवाह तन्त्र को निम्नलिखित तीन भागों में बाँटा जा सकता है:

  1. बंगाल की खाड़ी का अपवाह तन्त्र
  2. अरब सागर का अपवाह तन्त्र
  3. आन्तरिक अपवाह तन्त्र।।

1. बंगाल की खाड़ी का अपवाह तन्त्र – इसके अन्तर्गत अरावली पर्वत के पूर्वी भाग में बहने वाली उन नदियों को सम्मिलित किया जाता है जो बंगाल की खाड़ी में जाकर गिरती हैं, जैसे-चम्बल, कालीसिन्ध, पार्वती, बनास तथा इनकी सहायक नदियाँ।।

2. अरब सागर का अपवाह तन्त्र – इसके अन्तर्गत अरावली श्रेणी के पश्चिमी भाग में स्थित उन नदियों को शामिल किया जाता है, जो अरब सागर में जाकर गिरती हैं, जैसे-लूनी, साबरमती, पश्चिमी बनास एवं इनकी सहायक नदियाँ।

3. आन्तरिक अपवाह तन्त्र – इसके अन्तर्गत उन नदी तन्त्रों को सम्मिलित किया जाता है, जो समुद्र तक पहँचने से पहले ही स्थलीय भाग या झील में विलुप्त हो जाते हैं, जैसे-घग्घर, कांतली, बाणगंगा, साबी, रूपारेल, मेंढ़ा आदि।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन

प्रश्न 2.
राजस्थान की प्रमुख नदियों एवं उनके उद्गम स्थलों का विस्तार से वर्णन कीजिए।
अथवा
राजस्थान की प्रमुख नदियाँ कौन-कौन सी हैं? उनका विस्तार से वर्णन कीजिए।
उत्तर:
राजस्थान की प्रमुख नदियाँ निम्नलिखित हैं:
1. चम्बल नदी – यह राजस्थान की सबसे लम्बी एवं वर्ष भर बहने वाली एकमात्र नदी है। इसका उद्गम मध्य प्रदेश में विंध्याचल पर्वत की जनापाव पहाड़ी से होता है। इस नदी की प्रमुख सहायक नदियाँ बनास, बेड़च, कोठारी, कालीसिन्ध व पार्वती आदि हैं। राजस्थान का कोटा शहर इसी नदी के किनारे पर स्थित है।

2. बनास नदी – यह नदी राजसमंद जिले में स्थित खमनौर की पहाड़ियों से निकलती है। यह नदी राजसमंद, चित्तौड़गढ़, भीलवाड़ा व टोंक जिलों में बहती हुई सवाई माधोपुर में रामेश्वर के समीप चम्बल नदी में मिल जाती है। पूर्णतः राजस्थान में बहने वाली यह सबसे लम्बी नदी है। इसकी प्रमुख सहायक नदियाँ बेड़च, कोठारी, चन्द्रभागा, खारी व मोरेल आदि हैं।

3. माही नदी – इस नदी का उद्गम मध्य प्रदेश में चिंध्याचल पर्वत के अमरोरू नामक स्थान से होता है। यह । नदी राजस्थान के बाँसवाड़ा एवं प्रतापगढ़ जिलों में बहने के पश्चात् खम्भात की खाड़ी में गिरती हैं। इसकी प्रमुख सहायक नदियों में सोम व जाखम हैं।

4. लूनी नदी – इस नदी का उदगम अजमेर में गोविन्दगढ के निकट सागरमती व सरस्वती नामक दो धाराओं के – मिलने से होता है। इस नदी की प्रमुख सहायक नदियाँ बांडी, जवाई, जोजरी, सागी, खारी, मीठड़ी, सूकड़ी व गृहिया आदि हैं।

5. बाणगंगा नदी – इस नदी का उद्गम जयपुर के पास स्थित अरावली पर्वत की बैराठ पहाड़ियों से होता है। जयपुर, दौसा व भरतपुर आदि जिलों में बहती हुई यह आगरा के निकट यमुना नदी में मिल जाती है।

6. घग्घर नदी – इस नदी का उद्गम हिमाचल प्रदेश में कालका के समीप हिमालय पर्वत की शिवालिक पहाड़ियों से होता है। पंजाब व हरियाणा राज्यों में बहने के पश्चात् यह हनुमानगढ़ जिले के टिब्बी के निकट राजस्थान में प्रवेश करती है। श्रीगंगानगर जिले में यह भूमिगत हो जाती है।

प्रश्न 3.
इन्दिरा गांधी नहर का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
इन्दिरा गाँधी नहर-इस नहर परियोजना को राजस्थान की जीवनरेखा’ तथा ‘मरुगंगा’ कहा जाता है। यह एशिया की सबसे बड़ी नहर प्रणाली है। यह नहर सतलुज और व्यास नदियों के संगम पर पंजाब में फिरोजपुर के निकट हरिके बैराज से निकाली गयी है।
RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 3 जल संसाधन 3
इस नहर के निर्माण का मुख्य उदेश्य पश्चिमी राजस्थान को. हरा – भरा करना था। इस परियोजना के अन्तर्गत हरिके बैराज से हनुमानगढ़ के मसीतावली तक 204 किमी. लम्बी फीडर नहर है। फीडर सहित मुख्य नहर की लम्बाई 649 किमी. एवं वितरिकाओं की लम्बाई लगभग 8000 किमी. है। इस नहर का अन्तिम छोर बाड़मेर जिले में गडरा रोड हैं। थार के मरुस्थल का ढाल पश्चिम में होने के कारण पूर्वी भाग में पानी लाने के लिए इस पर अब तक अनेक लिफ्ट नहरों का निर्माण किया जा चुका है। इस नहर परियोजना से थार मरुस्थल में कृषि विकास, मरुस्थलीय प्रसार पर रोक, सूखे व अकाल पर नियन्त्रण, पेयजल, पशुधन विकास, मत्स्य पालन तथा पर्यटन विकास सम्भव हुआ है।

Leave a Comment