RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

Rajasthan Board RBSE Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

RBSE Solutions for Class 8 Social Science

RBSE Class 8 Social Science आजादी के बाद का भारत Intext Questions and Answers

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

पृष्ठ – 169

गतिविधि

प्रश्न 1.
संविधान सभा में शामिल कुछ प्रमुख सदस्यों के बारे में जानकारी प्राप्त कीजिए।
उत्तर:
संविधान सभा के प्रमुख सदस्य:

  1. पंडित जवाहरलाल नेहरू – इन्हें आधुनिक भारत का निर्माता कहा जाता है।
  2. सरदार वल्लभ भाई पटेल – आजादी के समय हमारा देश अलग – अलग रियासतों में बँटा हुआ था। सरदार वल्लभ भाई पटेल ने इन्हें एकजुट किया।
  3. सरोजिनी नायडू – सरोजिनी नायडू बंगाल विभाजन के दौरान कांग्रेस में शामिल हुईं और आजादी की लड़ाई में सक्रिय रहीं।
  4. भीम राव अम्बेडकर – ये संविधान की प्रारूप समिति के अध्यक्ष थे।
  5. सी. राजगोपालाचारी – ये स्वतंत्र भारत के प्रथम भारतीय गवर्नर जनरल बने।

पृष्ठ – 172

प्रश्न 2.
कुछ ऐसे लोगों के बारे में पता करने की कोशिश कीजिए जो पाकिस्तान से विस्थापित होकर आए और उनसे यह जानने की कोशिश कीजिए कि यहाँ आने में उन्हें किस तरह के अनुभव हुए ? किस तरह उन्होंने अपनी जिन्दगी की नई शुरुआत की?
उत्तर:
जो लोग पाकिस्तान से विस्थापित होकर भारत आए उन्हें काफी मुश्किलों के दौर से गुजरना पड़ा। पाकिस्तान से आने के दौरान उन्हें अनेक समस्याओं का सामना करना – पड़ा। अचानक नगरों की आबादी बढ़ गई जिससे बिजली, पानी, रहन – सहन में असुविधा हुई। लोगों के लिए आवास नहीं थे। इस तरह की परिस्थिति में लोगों ने अपने जीवन की नयी राह खोजी। कई वर्षों के बाद उनका जीवन सामान्य हो सका।

पृष्ठ – 175

गतिविधि

प्रश्न 3.
सन् 1953 ई. के भारत के मानचित्र की तलना वर्तमान भारत के मानचित्र से कीजिए और राज्यों की स्थिति में आए बदलावों को लिखिए।
उत्तर:
सन् 1953 ई. के भारत के मानचित्र में 550 रियासतें थीं। इसके अतिरिक्त 5 फ्रेंच और 3 पुर्तगाली क्षेत्र थे। इन – रियासतों के शासक अपने-अपने नियमों से शासन कर रहे ‘थे। परन्तु 1953 ई. में पंडित जवाहर लाल नेहरू ने राज्य पुनर्गठन अधिनियम के द्वारा भारत को भाषायी क्षेत्रों के आधार पर बाँटने का निर्णय लिया। 1953 ई. के राज्य पुनर्गठन अधिनियम के द्वारा भारत को 16 राज्यों तथा 3 केन्द्रशासित प्रदेशों में बाँटा गया। आज भारत में 29 राज्य तथा 7 केन्द्रशासित प्रदेश हैं। इन राज्यों में राज्य सरकारों द्वारा शासन किया जाता है।

भारत की तुलनात्मक स्थिति:
RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत 1
राजस्थान के एकीकरण में योगदान देने वाले कुछ प्रमुख व्यक्तियों के नाम यहाँ दिए जा रहेहैं –

  1. सरदार वल्लभ भाई पटेल
  2. श्री वी. पी. मेनन
  3. श्री जयनारायण व्यास
  4. पंडित हीरालाल शास्त्री
  5. श्री माणिक्य लाल वर्मा
  6. श्री गोकुल भाई भट्ट।

प्रश्न 4.
ऊपर जिन लोगों के नाम दिए गए हैं, उनका राजस्थान के इतिहास में और क्या योगदान रहा है?
उत्तर:
1. सरदार वल्लभ भाई पटेल – ‘लौह पुरुष’ के नाम से प्रसिद्ध वल्लभ भाई पटेल स्वतंत्र भारत के प्रथम उपप्रधानमंत्री व गृहमंत्री रहे। इन्होंने राजस्थान के एकीकरण के साथ-साथ इसके विकास में भी महत्वपूर्ण योगदान दिया।

2. श्री वी. पी. मेनन – भारत सरकार के रियासती मंत्रालय के सचिव के रूप में इन्होंने राजस्थान के एकीकरण में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वाह किया। इसके अतिरिक्त ये राजस्थान के विकास हेतु सदैव प्रयत्नशील रहे। इन्होंने कई पुस्तकें भी लिखीं।

3. श्री जयनारायण व्यास – इनका जन्म 1899 ई. में जोधपुर में हुआ था। ये पहले व्यक्ति थे जिन्होंने राजस्थान में सामन्तशाही व जागीरदारी प्रथा की समाप्ति हेतु आवाज उठायी। ये जोधपुर राज्य के प्रधानमंत्री रहे। इन्होंने ‘तरुण राजस्थान’ व ‘अग्निबाण’ नामक समाचार पत्र का सम्पादन किया तथा राजस्थान के मख्यमंत्री भी रहे।

4. पंडित हीरालाल शास्त्री – इनका जन्म 1899 ई. में जयपुर जिले के जोबनेर कस्बे में हुआ था। इन्होंने वनस्थली विद्यापीठ नामक महिला शिक्षण संस्था की स्थापना की। जयपुर प्रजामंडल में सक्रिय रहे। राजस्थान के मुख्यमंत्री बने।

5. श्री माणिक्यलाल वर्मा – इनका जन्म 1897 ई. को मेवाड़ रियासत के बिजौलिया (भीलवाड़ा) में हुआ था। इन्होंने अपने जीवन का ध्येय दलितों व पीड़ितों की सेवा को बनाया और जीवनपर्यन्त इसी में जुटे रहे। संयुक्त राजस्थान के प्रधानमंत्री रहे। लोकसभा सदस्य भी रहे।

6. श्री गोकुल भाई भट्ट – इनका जन्म 1898 ई. में सिरोही जिले के हाथल गाँव में हुआ था। ये राजस्थान के गाँधी के नाम से प्रसिद्ध थे। इन्होंने स्वतंत्रता आन्दोलन में गाँधी जी के साथ कार्य किया। इन्होंने सिरोही प्रजामण्डल की स्थापना की। ये 1942 ई. के भारत छोड़ो आन्दोलन में कई बार जेल गये। ये आचार्य बिनोवा भावे के भूदान आन्दोलन में भी सक्रिय रहे।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

प्रश्न 5.
ऊपर दिए गए नामों के अलावा और किन लोगों ने राजस्थान के एकीकरण में योगदान दिया है? नाम ढूँढ़कर लाएँ और बताएँ।
उत्तर:
राजस्थान के एकीकरण में योगदान देने वाले लोगों की सूची –

  1. मोहन लाल सुखाड़िया
  2. गोकुल लाल असाव
  3. भोगीलाल पंड्या
  4. भूरेलाल बया
  5. शोभाराम
  6. कुमावत
  7. महाराणा भूपाल सिंह
  8. सवाई मानसिंह
  9. पं. अभिन्न हरि
  10. बृजसुन्दर शर्मा
  11. टीकाराम पालीवाल
  12. बलवंत सिंह मेहता
  13. हरिभाई उपाध्याय
  14. मास्टर आदित्येन्द्र।

पृष्ठ – 179

प्रश्न 6.
अपने आस-पास अगर कोई विस्थापित परिवार हैं, तो उनके विभाजन के बाद के अनुभवों को पूछकर लिखिए।
उत्तर:
हमारे पड़ोस में एक सिख परिवार है जो भारत पाकिस्तान विभाजन के पश्चात् भारत में आया। जब वे विस्थापित होकर आये तब उनके पास रहने के लिए आवास तक नहीं था और न कोई रोजगार था जिससे वे अपना जीवनयापन कर सकें। उन्हें शरणार्थियों की श्रेणी में रखा गया। उन्हें अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ा। यद्यपि बाद में स्थानीय पड़ोसियों के सहयोग से उन्हें अपने जीवन को सुचारु बनाने में सहायता मिली।

प्रश्न 7.
राजस्थान राज्य के वर्तमान मंत्रिमण्डल के सदस्यों की सूची बनाइए।
उत्तर:
राजस्थान राज्य के वर्तमान मंत्रिमण्डल के सदस्यों की सूची निम्नलिखित हैमुख्यमंत्री वसुंधरा राजे। कैबिनेट मंत्री-गुलाब चंद कटारिया, राजेन्द्र सिंह राठौड़, कालीचरण सर्राफ, प्रभुलाल सैनी, राजेन्द्र सिंह, यूनुस खान, अरुण चतुर्वेदी, नंदलाल मीणा, हेम सिंह भडाना, सुरेन्द्र गोयल, राजपाल सिंह शेखावत, डॉ. राम प्रताप, किरण माहेश्वरी। राज्यमंत्री (स्वतन्त्र प्रभार) – अजय सिंह, अमरा राम, कृष्णेन्द्र कौर, वासुदेव देवनानी, राजकुमार रिणवा अनिता भदेल, सुरेन्द्र पाल सिंह। राज्यमंत्री – पुष्पेन्द्र सिंह, बाबू लाल वर्मा, जीतमल खांट, अर्जुन लाल गर्ग, ओटाराम देवासी।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

प्रश्न 8.
राजनीति, कला, साहित्य या अन्य किसी भी क्षेत्र में ख्याति प्राप्त उन व्यक्तियों के नाम की सूची बनाइए जिनका सम्बन्ध पाकिस्तान से विस्थापित होकर आए परिवारों से हो।
उत्तर:
ख्याति प्राप्त व्यक्ति जिनका सम्बन्ध पाकिस्तान से विस्थापित परिवारों से है –

  1. डॉ. मनमोहन सिंह – पूर्व प्रधानमंत्री।
  2. स्वर्गीय इंद्र कुमार गुजराल – पूर्व प्रधानमंत्री।
  3. श्री लालकृष्ण आडवाणी – पूर्व उपप्रधानमंत्री।
  4. स्वर्गीय सरदार वल्लभ भाई पटेल – स्वतंत्रता सेनानी।
  5. मेंहदी हसन – गायक कलाकार।
  6. एम. ए. फारुकी – साहित्यकार।

प्रश्न 9.
वर्तमान राजस्थान राज्य का मानचित्र लेकर उसमें वर्तमान जिलों के स्थानों में चिन्हित कीजिए।
उत्तर:
RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत 2

पृष्ठ – 173

क्या आप जानते हैं

प्रश्न 1.
सन् 1971 के युद्ध में पाकिस्तान के कितने सैनिकों ने किसके सामने आत्मसमर्पण किया?
उत्तर:
सन् 1971 के युद्ध में पाकिस्तान के लगभग 90,000 सैनिकों ने भारतीय सेना के सामने आत्मसमर्पण किया।

प्रश्न 2.
पूर्वी पाकिस्तान के स्थान पर कौन-सा नया राष्ट्र बना?
उत्तर:
पूर्वी पाकिस्तान के स्थान पर बांग्लादेश नामक नया राष्ट्र बना।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

पृष्ठ – 174

प्रश्न 3.
नीति आयोग के प्रथम उपाध्यक्ष कौन हैं?
उत्तर:
नीति आयोग के प्रथम उपाध्यक्ष अरविन्द पनगड़िया हैं।

पृष्ठ – 178

प्रश्न 4.
राजपूताना में सबसे बड़ी रियासत कौन – सी थी?
उत्तर:
राजपूताना में जोधपुर सबसे बड़ी रियासत थी।

प्रश्न 5.
राजपूताना में कितनी रियासतें थीं?
उत्तर:
राजपूताना में 19 रियासतें, 1 केन्द्रशासित प्रदेश व 3 चीफशीप र्थी।

प्रश्न 6.
संविधान लागू होने से पूर्व राज्यों के मुख्यमंत्रियों को किस नाम से जाना जाता था?
उत्तर:
संविधान लागू होने से पूर्व राज्यों के मुख्यमंत्रियों को प्रधानमंत्री के नाम से जाना जाता था।

RBSE Class 8 Social Science आजादी के बाद का भारत Text Book Questions and Answers

प्रश्न एक व दो के सही उत्तर चुनकर लिखिए –

प्रश्न 1.
निम्नलिखित में से भारत का पडोसी देश नहीं ………………..
(अ) पाकिस्तान
(ब) इंग्लैण्ड
(स) चीन
(द) नेपाल
उत्तर:
(ब) इंग्लैण्ड

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

प्रश्न 2.
निम्नलिखित में से भारत के प्रथम राष्ट्रपति थे?
(अ) डॉ. राधाकृष्ण
(ब) भीमराव अम्बेडकर
(स) डॉ. राजेन्द्र प्रसाद
(द) वल्लभ भाई पटेल।
उत्तर:
(स) डॉ. राजेन्द्र प्रसाद

प्रश्न 3.
राज्यों की सीमाएँ तय करने के लिए कौन – सा आयोग बनाया गया?
उत्तर:
राज्यों की सीमाएँ तय करने के लिए राज्य पुनर्गठन आयोग’ बनाया गया।

प्रश्न 4.
वर्तमान में भारत के नीति आयोग के अध्यक्ष कौन हैं?
उत्तर:
वर्तमान में भारत के नीति आयोग के अध्यक्ष प्रधानमन्त्री श्री नरेन्द्र मोदी हैं।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

प्रश्न 5.
संयुक्त राजस्थान में कौन-कौनसी रियासतें शामिल थीं?
उत्तर:
संयुक्त राजस्थान में बाँसवाड़ा, कोटा, बँदी, टोंक, झालावाड़, प्रतापगढ़, शाहपुरा, किशनगढ़ और दूंगरपुर नामक रियासतें शामिल थीं।

प्रश्न 6.
सिन्धी विस्थापितों ने समाज के लिए क्या योगदान किया है?
उत्तर:
सिन्धी विस्थापितों ने समाज के लिए निम्नांकित योगदान किया है –

  1. उद्योग – धन्धों को विकसित किया।
  2. नवीन नगरों की स्थापना में सहयोग किया।

प्रश्न 7.
भारत के अपने पड़ोसी राष्ट्रों से सम्बन्धों पर टिप्पणी लिखिए।
उत्तर:
भारत के अपने पड़ोसी राष्ट्रों से सम्बन्ध पाकिस्तान एवं चीन को छोड़कर सौहार्द्रपूर्ण रहे हैं। भारत अपने पड़ोसी राष्ट्रों क्रमशः नेपाल, म्यांमार, भूटान, श्रीलंका, मालदीव, अफगानिस्तान के साथ सदैव अच्छा व्यवहार करता रहा है। नेपाल व भूटान के साथ तो भारत की सीमाएँ खुली हुई हैं तथा दक्षिणी – पूर्वी एशिया के राष्ट्रों जिनमें कभी भारतीय सभ्यता एवं संस्कृति का प्रचार-प्रसार रहा था, उनसे भी भारत ने अपने मधुर सम्बन्ध स्थापित किए हैं।

प्रश्न 8.
भारत के एकीकरण में सरदार पटेल का योगदान बताइए।
उत्तर:
भारत के एकीकरण में सरदार पटेल का महत्वपूर्ण योगदान था। वे भारत की अंतरिम सरकार द्वारा स्थापित रियासती विभाग के अध्यक्ष थे। पटेल ने देशी रियासतों के शासकों को भारत में विलय के लिए प्रेरित किया और उन्हें जनता की इच्छाओं को ध्यान में रखते हुए कार्य करने का सुझाव दिया। उन्होंने विपरीत परिस्थितियों में भी धैर्य न छोड़ते हुए भारत की 562 रियासतों का विलय करके भारत के एकीकरण का कार्य पूर्ण किया।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

प्रश्न 9.
स्वतन्त्रता के बाद भारत के सम्मुख प्रमुख चुनौतियाँ क्या थी?
उत्तर:
स्वतन्त्रता के बाद भारत के सम्मुख प्रमुख चुनौतियाँ शरणार्थियों के पुनर्वास, देशी रियासतों के एकीकरण, पड़ोसी राष्ट्रों से सौहार्द्रपूर्ण सम्बन्ध एवं आर्थिक विकास आदि की थीं।

प्रश्न 10.
स्वतन्त्रता के बाद राज्यों के पुनर्गठन की घटनाओं का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
स्वतन्त्रता के बाद राज्यों का पुनर्गठन जनता की सुविधाओं को ध्यान में रखकर किया गया था। मद्रास को मैसूर, आन्ध्र प्रदेश एवं मद्रास राज्यों में बाँटा गया। बाद में मद्रास को तमिलनाडु नाम दिया गया तथा मैसूर को कर्नाटक कहा गया। बम्बई राज्य को गुजरात और महाराष्ट्र में बाँटा गया एवं मध्यवर्ती भारत में मध्य प्रदेश बनाया गया तथा राजस्थान को भी स्थाई रूप दिया गया। इसी प्रकार 1966 ई. में पंजाब और हरियाणा, नवम्बर 2000 में उत्तर प्रदेश से अलग करके उत्तरांचल (उत्तराखण्ड), मध्य प्रदेश को विभाजित करके छत्तीसगढ़, बिहार को विभाजित करके झारखण्ड एवं 2014 ई. में आन्ध्र प्रदेश से अलग करके | तेलंगाना राज्य को बनाया गया है।

प्रश्न 11.
राजस्थान के एकीकरण के विभिन्न चरणों का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
राजस्थान के एकीकरण के चरण एक नजर में –
RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत 3

प्रश्न 12.
देशी रियासतों के भारत विलय में क्या कठिनाइयाँ थीं? बताइए
उत्तर:
देशी रियासतों के भारत विलय में निम्नांकित कठिनाइयाँ थीं –

  1. अंग्रेजों द्वारा भारत छोड़ने से पूर्व देशी रियासतों से की गई पूर्व संधियों को समाप्त करके उन्हें भारत – पाकिस्तान में सम्मिलित होने
  2. अथवा स्वतन्त्र रहने का अधिकार प्रदान किया गया था।
  3. देशी रियासतों के कुछ शासक जनता की इच्छाओं के विपरीत पाकिस्तान में मिलना चाहते थे।

RBSE Class 8 Social Science आजादी के बाद का भारत Important Questions and Answers

वस्तुनिष्ठ प्रश्न

Question 1.
संविधान सभा में ब्रिटिश शासित प्रान्तों से सदस्य थे ………………….
(अ) 389
(ब) 292
(स) 93
(द) 562
उत्तर:
(ब) 292

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

Question 2.
संविधान सभा में देशी रियासतों के सदस्य कितने थे?
(अ) 389
(ब) 292
(स) 93
(द) 4
उत्तर:
(स) 93

Question 3.
भारत द्वारा नवीन संविधान को अधिनियमित आत्मार्पित एवं अंगीकृत किया गया था ………………….
(अ) 9 दिसम्बर, 1946 ई. को
(ब) 3 जून, 1947 ई. को
(स) 26 नवम्बर, 1949 ई. को
(द). 26 जनवरी, 1950 ई. को।
उत्तर:
(स) 26 नवम्बर, 1949 ई. को

Question 4.
निम्न में से लौह-पुरुष किसे कहा जाता है?
(अ) जवाहर लाल नेहरू को
(ब) सरदार वल्लभ भाई पटेल को
(स) बाल गंगाधर तिलक को
(द) डॉ. राजेन्द्र प्रसाद को
उत्तर:
(ब) सरदार वल्लभ भाई पटेल को

Question 5.
भारत में योजना आयोग का गठन किया गया था ………………….
(अ) 1947 ई. में
(ब) 1948 ई. में
(स) 1949 ई. में
(द) 1950 ई. में
उत्तर:
(द) 1950 ई. में

Question 6.
नीति आयोग के प्रथम उपाध्यक्ष अरविन्द पनगडिया किस राज्य से सम्बन्धित हैं?
(अ) उत्तर प्रदेश
(ब) गुजरात
(स) महाराष्ट्र
(द) राजस्थान
उत्तर:
(द) राजस्थान

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

Question 7.
राजस्थान निर्माण का द्वितीय चरण कब सम्पन्न हुआ?
(अ) 17-3-1948 में
(ब) 25-3-1948 में
(स) 18-4-1948 में
(द) 30-3-1949 में।
उत्तर:
(ब) 25-3-1948 में

Question 8.
मत्स्य संघ में कौन – सी रियासत शामिल नहीं थी?
(अ) अलवर
(ब) धौलपुर
(स) भरतपुर
(द) मेवाड़
उत्तर:
(द) मेवाड़

Question 9.
राजस्थान दिवस कब मनाया जाता है?
(अ) 17 मार्च को
(ब) 25 मार्च को
(स) 30 मार्च को
(द) 26 जनवरी को
उत्तर:
(स) 30 मार्च को

रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए –

  1. ……………….. भारत अंग्रेजी शासन से मुक्त हुआ था।
  2. संविधान सभा में कुल ……………….. सदस्य रखे गए थे।
  3. विभाजन के समय मेवाड़ के महाराणा ………………… थे।
  4. वर्तमान 12वीं पंचवर्षीय योजना सन् ……………….. ई. से प्रारम्भ हुई है।
  5. ……………….. को मत्स्य संघ भी वृहत राजस्थान में शामिल हो गया।

उत्तर:

  1. 15, अगस्त, 1947 ई. को
  2. 389
  3. भूपाल सिंह
  4. 2012
  5. 15 मई, 1949 ई.

स्तम्भ’अ’को स्तम्भ’ब’ से सुमेलित कीजिए –

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत 4
उत्तर:
1. (d)
2. (a)
3. (b)
4. (c)

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत 5
उत्तर:
1. (d)
2. (a)
3. (b)
4. (c)

अति लघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
भारत में आजादी से पूर्व कितनी देशी रियासतें थीं?
उत्तर:
भारत में आजादी से पूर्व 562 देशी रियासतें थीं।

प्रश्न 2.
भारत को आर्थिक दृष्टि से कमजोर किसने किया था?
उत्तर:
अंग्रेजों ने भारत को आर्थिक दृष्टि से कमजोर किया था।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

प्रश्न 3.
भारत में स्वतन्त्रता से पहले शासन सम्बन्धी नियम कौन बनाता था?
उत्तर:
भारत में स्वतन्त्रता से पहले शासन सम्बन्धी नियम ब्रिटिश संसद बनाती थी।

प्रश्न 4.
संविधान सभा हेतु कितनी जनसंख्या पर प्रतिनिधि नियुक्त हुए?
उत्तर:
दस लाख की जनसंख्या पर एक प्रतिनिधि नियुक्त किया गया।

प्रश्न 5.
संविधान सभा में सर्वप्रथम किस रियासत ने अपने प्रतिनिधि भेजे थे?
उत्तर:
संविधान सभा में बीकानेर रियासत ने सर्वप्रथम अपने प्रतिनिधि भेजे थे।

प्रश्न 6.
भारतीय संविधान सभा में 299 सदस्य क्यों रह गये?
उत्तर:
पाकिस्तान की संविधान सभा के अलग होने व हैदराबाद के प्रतिनिधियों के शामिल नहीं होने के कारण भारतीय संविधान सभा में 299 सदस्य रह गये।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

प्रश्न 7.
भारत की संविधान सभा के अध्यक्ष कौन थे?
उत्तर:
भारत की संविधान सभा के अध्यक्ष डॉ. राजेन्द्र प्रसाद थे।

प्रश्न 8.
भारत की संविधान सभा की प्रारूप समिति के अध्यक्ष कौन थे?
उत्तर:
भारत की संविधान सभा की प्रारूप समिति के अध्यक्ष डॉ. भीमराव अम्बेडकर थे।

प्रश्न 9.
भारत की कौन – सी रियासतें जन भावना के विरुद्ध पाकिस्तान में मिलने की इच्छक थीं?
उत्तर:
भारत की भोपाल, हैदराबाद एवं जूनागढ़ रियासतें जन भावना के विरुद्ध पाकिस्तान में मिलने की इच्छुक थीं।

प्रश्न 10.
पंजाबी विस्थापितों ने भारत में क्या योगदान दिया था?
उत्तर:
पंजाबी विस्थापितों ने भारत में निम्न योगदान दिया था –

  1. खाली जमीन को खेती योग्य बनाया था।
  2. उद्योग – व्यापार का विकास किया था।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

प्रश्न 11.
भारत में विस्थापितों ने किन क्षेत्रों में सराहनीय कार्य किए?
उत्तर:
भारत में विस्थापितों ने राजनीति, उद्योग, व्यापार, अनुसंधान, पत्रकारिता, फिल्म, गायन आदि अनेक क्षेत्रों में सराहनीय कार्य किए।

प्रश्न 12.
भारत – पाकिस्तान के बीच कब – कब युद्ध हुए?
उत्तर:
भारत – पाकिस्तान के बीच सन् 1948, 1965, 1971 व 1999 में युद्ध हुए।

प्रश्न 13.
भारत – पाकिस्तान के मध्य हुए 1971 ई. के युद्ध के परिणाम लिखिए।
उत्तर:

  1. पाकिस्तान के 90,000 सैनिकों ने भारतीय सेना के सामने आत्म – समर्पण किया।
  2. पूर्वी पाकिस्तान के स्थान पर एक नए देश बांग्लादेश का निर्माण हुआ।

प्रश्न 14.
द्वितीय पंचवर्षीय योजना में किस क्षेत्र पर जोर दिया गया था?
उत्तर:
द्वितीय पंचवर्षीय योजना में भारी उद्योगों व विशाल बाँधों के निर्माण पर जोर दिया गया था।

प्रश्न 15.
पंजाब व हरियाणा को पृथक राज्य कब बनाया गया?
उत्तर:
पंजाब व हरियाणा को 1966 ई. में पृथक राज्य बनाया गया।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

प्रश्न 16.
किस शासक ने राजस्थान यूनियन बनाने का प्रस्ताव रखा था?
उत्तर:
महाराणा भूपाल सिंह ने राजस्थान यूनियन बनाने का प्रस्ताव रखा था।

प्रश्न 17.
किसकी सलाह पर मत्स्य संघ नाम रखा गया?
उत्तर:
के. एम. मुंशी की सलाह पर मत्स्य संघ नाम रखा गया।

प्रश्न 18.
कब और किस आयोग की सिफारिश पर अजमेर – मेरवाड़ा क्षेत्र को राजस्थान में मिलाया गया था?
उत्तर:
सन् 1956 ई. में राज्य पुनर्गठन आयोग की सिफारिश पर अजमेर मेरवाड़ा क्षेत्र को राजस्थान में मिलाया गया था।

प्रश्न 19.
मध्य प्रदेश के किस क्षेत्र को राजस्थान में मिलाया गया?
उत्तर:
मध्य प्रदेश के सुनेल टप्पा क्षेत्र को राजस्थान में मिलाया गया।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

प्रश्न 20.
विस्थापितों ने कहाँ की खाली जमीन को खेती योग्य बनाया?
उत्तर:
विस्थापितों ने पीलीभीत (उत्तर प्रदेश), शिवपुरी (मध्य प्रदेश) श्रीगंगानगर (राजस्थान) की खाली पड़ी जमीन को खेती योग्य बनाया।

प्रश्न 21.
राजपूताना से क्या आशय है? स्पष्ट कीजिए।
उत्तर:
राजपूताना से आशय राजपूतों की भूमि हैं जो वर्तमान राजस्थान के नाम से जानी जाती है।

लघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
संविधान सभा में राजस्थान से आने वाले सदस्यों के नाम लिखिए।
उत्तर:
संविधान सभा में राजस्थान से आने वाले सदस्यों के नाम निम्नांकित हैं –

  1. पं. मुकुट बिहारी लाल
  2. श्री माणिक्य लाल वर्मा
  3. श्री जयनारायण व्यास
  4. श्री बलवंत सिंह मेहता
  5. श्री रामचन्द्र उपाध्याय
  6. लेफ्टिनेंट कर्नल दलेल सिंह
  7. श्री गोकुल लाल असावा
  8. कुँवर जसवंत सिंह
  9. श्री राजबहादुर
  10. सर वी. टी. कृष्णामाचारी
  11. श्री हीरालाल शास्त्री
  12. श्री सी. एस. वेंकटाचारी
  13. सरदार के. एम. पन्निकर
  14. सर टी विजयराघवाचार्या

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

प्रश्न 2.
महाराणा भूपाल सिंह के कृतित्व पर प्रकाश डालिए।
उत्तर:
महाराणा भूपाल सिंह भारत की स्वतंत्रता के समय मेवाड़ के शासक थे। उन्होंने रियासतों के विलय के समय जिन्ना के प्रलोभन को ठुकराकर राष्ट्रभक्ति की मिसाल कायम की तथा बाद में राजस्थान के राजाओं को एकत्रित कर राजस्थान यूनियन बनाने का प्रस्ताव रखा। राजस्थान के तृतीय एकीकरण का राजप्रमुख पद महाराणा भूपाल सिंह को दिया गया था। उनमें देशभक्ति की भावना कूट-कूट कर भरी हुई थी।

प्रश्न 3.
भारत में हैदराबाद, जूनागढ़ और कश्मीर रियासतों का किस प्रकार विलय हुआ था? बताइए।
उत्तर:
भारत में हैदराबाद, जूनागढ़ और कश्मीर रियासतों का विलय निम्नांकित प्रकार से हुआ था –

  1. हैदराबाद – हैदराबाद का नवाब जन भावनाओं की अनदेखी कर भारत से अलग रहना चाहता था किन्तु सरदार वल्लभ भाई पटेल द्वारा सैनिक कार्यवाही द्वारा उसे भारत में सम्मिलित कर लिया गया। जूनागढ़ – जूनागढ़ की प्रजा ने अपने नवाब के विरुद्ध विद्रोह करके अपना विलय भारत में करा दिया था।
  2. कश्मीर – कश्मीर के महाराजा हरि सिंह एवं राजनीतिक दलों ने स्वयं ही भारत में विलय के लिए सहमति दी थी।
  3. इसी समय पाकिस्तान ने कबायलियों की आड़ में कश्मीर पर अधिकार करना चाहा किन्तु सरदार वल्लभ भाई पटेल ने सैनिक कार्यवाही करके कश्मीर के अधिकांश भाग को भारत में सम्मिलित कर लिया।

प्रश्न 4.
विस्थापितों हेतु भारत में क्या-क्या कार्य किये गये?
उत्तर:
विस्थापितों हेतु भारत में सर्वप्रथम उनके रहने की व्यवस्था की गयी तथा प्रारम्भ में उन्हें स्कूल-कॉलेजों में रखा गया। इसके बाद विस्थापितों हेतु जगह – जगह कैम्प स्थापित किये गए। लोगों को पढ़ाने हेतु स्कूल – कॉलेज शाम को भी चलाने की व्यवस्था की गई।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

प्रश्न 5.
भारत में विस्थापितों के आगमन से किन नवीन नगरों का उदय हुआ था? लिखिए।
उत्तर:
भारत में विस्थापितों के आगमन से निम्नांकित नवीन नगरों का उदय हुआ था –

  1. उल्हासपुर (महाराष्ट्र)
  2. गाँधीधाम (गुजरात)
  3. आदिपुर (गुजरात)

प्रश्न 6.
दुर्गादास ने अपनी पुस्तक ‘भारत-कर्जन से नेहरू और उनके पश्चात् में बँटवारे की त्रासदी के विषय में क्या वर्णित किया है? चर्चा कीजिए।
उत्तर:
दुर्गादास ने अपनी पुस्तक में वर्णित किया है कि, “हमें शरणार्थियों का एक लम्बा कारवाँ मिला जो शेखुपुरा से होकर भारत आ रहा था। हमने इन लोगों से बातें कीं और इनमें से कई उत्तर अत्यन्त मर्मस्पर्शी थे। एक वृद्ध किसान ने कहा-इस देश में कई शासक बदले। वे आए और चले गए लेकिन यह पहला अवसर है जब शासक के साथ रिआया (जनता) को भी बदलने पर विवश किया जा रहा है।

एक वृद्ध स्त्री ने कहा-बँटवारे हर परिवार में होते हैं लेकिन सब कुछ शांति से होता है। यहाँ लूट-मार व रक्तपात क्यों ? दुर्घटना के परिणामों का पूरा ज्ञान मुझे उस समय हुआ जब मैं दिल्ली से कुछ दूर कुरुक्षेत्र के एक कैम्प में गया जहाँ दो लाख सत्तर हजार शरणार्थी तम्बुओं और झोपड़ियों में बसाए गए थे। मैंने विस्थपितों का 15 मील लम्बा कारवाँ मान्टगोमरी जिले से भारत की ओर आते हए देखा।”

प्रश्न 7.
पंचवर्षीय योजनाएँ किसे कहते हैं?
उत्तर:
भारत में योजना आयोग के अन्तर्गत पाँच – पाँच वर्ष के कार्यों के लक्ष्य निर्धारित कर योजनाएँ बनाई गईं जिनको पंचवर्षीय योजनाएँ कहते हैं।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

प्रश्न 8.
भारत के आर्थिक विकास का संक्षिप्त वर्णन कीजिए।
उत्तर:
भारत में आर्थिक विकास का प्रारम्भ सन् 1950 ई. में ‘योजना आयोग’ के गठन से हुआ, जिसके अन्तर्गत पाँच – पाँच वर्ष के कार्यों के लक्ष्य निर्धारित करके पंचवर्षीय योजनाएँ बनाई गईं। इन योजनाओं के द्वारा भारी उद्योगों, विशाल बाँधों, कृषि व सामुदायिक विकास जैसे लक्ष्यों को सरलता से प्राप्त किया जा सका।

प्रश्न 9.
नीति आयोग पर संक्षिप्त प्रकाश डालिए।
उत्तर:
नीति आयोग का गठन सभी राज्यों को प्रतिनिधित्व देने एवं उन्हें आर्थिक विकास की गति में भागीदार बनाने की दृष्टि से 2015 में योजना आयोग के स्थान पर किया गया है। इसके पदेन अध्यक्ष प्रधानमंत्री तथा सभी राज्यों के मुख्यमंत्री व केन्द्र शासित प्रदेशों के उप-राज्यपाल इसके सदस्य होते हैं।

प्रश्न 10.
भारत में आजादी के पहले के क्षेत्रों का विभाजन स्पष्ट कीजिए।
उत्तर:
भारत में आजादी के पहले के क्षेत्रों का विभाजन निम्न था –

  1. बम्बई राज्य के अन्तर्गत वर्तमान महाराष्ट्र और गुजरात आते थे।
  2. मद्रास राज्य में वर्तमान तमिलनाडु, आन्ध्र प्रदेश और कर्नाटक के कुछ हिस्से आते थे।
  3. ‘सेन्ट्रल प्रोविन्सेज एण्ड बरार’ नाम के राज्यों में मध्यवर्ती भारत के अनेक क्षेत्र शामिल थे।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

प्रश्न 11.
राजस्थान के विभिन्न राज्य संघों की एक सूची बनाइए। जो संगठित होने में असफल हो गए थे।
उत्तर:
राजस्थान के विभिन्न राज्य संघों की एक सूची निम्नांकित है जो संगठित होने में असफल हो गए थे –

  1. मेवाड़ महाराजा द्वारा प्रस्तावित राजस्थान यूनियन।
  2. डूंगरपुर महारावल द्वारा प्रस्तावित वागड़ संघ (वागड़ के राज्यों को मिलाकर)
  3. कोटा महाराव द्वारा प्रस्तावित हाड़ौती संघ।

निबन्धात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
भारतीय संविधान सभा के गठनं पर विस्तृत प्रकाश डालिए।
उत्तर:
भारतीय संविधान सभा का गठन 1946 ई. में किया गया था। इस संविधान सभा में ब्रिटिश गवर्नर द्वारा शासित प्रान्तों एवं देशी रियासतों के प्रतिनिधि सम्मिलित किए गये थे। इस सभा का ढाँचा लोकतन्त्रात्मक था। इसमें प्रान्तों के प्रतिनिधि सीमित मताधिकार के आधार पर निर्वाचित किए गए जबकि रियासतों के प्रतिनिधि शासकों द्वारा मनोनीत किए गए थे। सभा के लिए 10 लाख की जनसंख्या पर एक प्रतिनिधि निर्वाचित किया गया था।

इस सभा में कुल 389 सदस्य रखे गए, जिनमें से 292 सदस्य ब्रिटिश शासित प्रान्तों से, 4 सदस्य चीफ कमिश्नर शासित प्रान्तों से व शेष 93 सदस्य देशी रियासतों से चुने गये थे। कुछ शासकों ने प्रारम्भ में इस संविधान सभा में अपने राज्यों से प्रतिनिधि भेजने में आना – कानी की किन्तु सर्वप्रथम बीकानेर के महाराजा शार्दुल सिंह ने अपने प्रतिनिधि संविधान सभा में भेजे एवं अन्य शासकों को भी इसके लिए प्रेरित किया। डॉ. राजेन्द्र प्रसाद को इस सभा का अध्यक्ष बनाया गया था।

अंग्रेजों ने जाने से पूर्व भारत को दो भागों में बाँट दिया था। परिणामस्वरूप संविधान सभा भी दो भागों में विभाजित हो गई थी। पाकिस्तान की संविधान सभा के अलग होने एवं हैदराबाद के प्रतिनिधियों के शामिल नहीं होने से भारतीय संविधान सभा में 299 सदस्य ही रह गए थे। संविधान सभा के सदस्य उच्च शिक्षित एवं विभिन्न वर्गों के प्रतिनिधि थे। इस सभा ने लगभग तीन वर्षों तक काफी चर्चा की तथा विभिन्न विकल्पों पर विचार करके संविधान का निर्माण किया था।

संविधान सभा से सम्बन्धित कुछ तथ्य –

  1. संविधान सभा की प्रथम बैठक 9 दिसम्बर, 1946 ई. को हुई थी। यह बैठक वर्तमान लोकसभा सेंन्ट्रल हाल वाले स्थान पर हुई थी।
  2. 3 जून, 1947 ई. की योजना के अनुसार पाकिस्तान जाने वाले सदस्यों ने स्वयं को भारत की संविधान सभा से अलग कर लिया था।
  3. संविधान सभा ने अपना काम 17 समितियों में बाँट कर किया था।
  4. 26 नवम्बर, 1949 ई. को संविधान को स्वीकार किया गया था।
  5. 26 जनवरी, 1950 ई. को भारत में संविधान लागू किया गया था।

RBSE Solutions for Class 8 Social Science Chapter 25 आजादी के बाद का भारत

प्रश्न 2.
भारत में विस्थापितों के पुनर्वास सम्बन्धी एक लेख लिखिए।
उत्तर:
भारत में विस्थापितों का पुनर्वास सम्बन्धी कार्य चुनौतीपूर्ण था क्योंकि इनकी संख्या लगभग 70 से 80 लाख थी। ये लोग अपना घर-सम्पत्ति सब कुछ पाकिस्तान में छोड़कर कई त्रासदियाँ झेलते हुए भारत पहुँचे थे। इनका पुनर्वास आवश्यक था ताकि ये फिर से अपना घर-बार बना सकें। काम-धन्धे एवं बच्चों की शिक्षा पुनः सुचारु कर सके।

तथा देश को आगे बढ़ाने में अपना योगदान प्रदान कर सकें। इस समय भारत में पश्चिम से सिंधी उत्तर भारत में सिख एवं पूर्वी भारत से आए बंगालियों को प्रारम्भिक छः महीने स्कूल-कॉलेजों में रखा गया। फिर अजमेर, कच्छ गाँधीधाम व आदिपुर, कल्याण, दिल्ली, करनाल, दण्डकारण्य आदि स्थानों पर इनके लिए कैम्पों को स्थापित किया गया।

इस समय रात्रि स्कूल – कॉलेज इनकी शिक्षा के लिए चलाए गए। नवीन तकनीकी शिक्षा संस्थान बनाए गए ताकि विस्थापित लोग ऐसे हुनर सीख सकें जिनकी उनके नए निवास स्थान पर जरूरत थी। इन विस्थापित लोगों ने भारत में उल्हास नगर, गाँधीधाम, आदिपुर, पीलीभीत, शिवपुरी, श्रीगंगानगर आदि नगरों का विकास किया तथा दिल्ली, करनाल, पानीपत, कानपुर आदि स्थानों पर छोटे-बड़े उद्योगों की स्थापना भी की तथा नए मॉडल टाउन बसाए।

Leave a Comment