RBSE Solutions for Class 7 Hindi Chapter 11 ये भी धरती के बेटे हैं

RBSE Solutions for Class 7 Hindi

Rajasthan Board RBSE Class 7 Hindi Chapter 11 ये भी धरती के बेटे हैं (एकांकी)

RBSE Class 7 Hindi ये भी धरती के बेटे हैं पाठ्य-पुस्तक के प्रश्नोत्तर

पाठ से

सोचें और बताएँ –

प्रश्न – किसने किससे कहा?

  1. मेरी माँ है, पिता नहीं हैं।
  2. पर ये तो सब बुरे काम हैं।
  3. हमें पता है हम भी धरती के बेटे हैं।
  4. हमें गन्दगी से निकाल लो।
  5. अच्छा तुम सब मेरे साथ चलोगे? जो भी काम तुम्हें मैं दूंगा सब कर लोगे?

उत्तर:

  1. यह तस्कर ने बालक के पिता से कहा।
  2. यह पुत्र ने भिखारी, जेबकतरा व तस्कर से कहा।
  3. यह भिखारी ने पिता से कहा।
  4. यह तस्कर, भिखारी एवं जेबकतरे ने – तीनों ने कहा।
  5. यह भिखारी, जेबकतरा और तस्कर से पिता ने कहा।

लिखें –

RBSE Class 7 Hindi ये भी धरती के बेटे हैं बहुविकल्पी प्रश्न

प्रश्न 1.
तस्करी करने वाला बालक बेच रहा था –
(अ) अफीम
(ब) गाँजा
(स) घड़ी
(द) पेन
उत्तर:
(स) घड़ी

प्रश्न 2.
भिखारी बालक ने अपने माता-पिता के बारे में बताया –
(अ) उसके माता-पिता नहीं थे।
(ब) उसके माता-पिता अंधे थे।
(स) उसके माता-पिता विकलांग थे।
(द) उसके माता-पिता लापता थे।
उत्तर:
(ब) उसके माता-पिता अंधे थे।

RBSE Solutions for Class 7 Hindi Chapter 11 ये भी धरती के बेटे हैं

उचित शब्द चुनकर रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए –

  1. भीख माँगता हूँ मैं ………. । (घर-घर / दर-दर)
  2. गंगा-जमुना की धारा से बिछुड़ गंदगी में ………….हैं। (बैठे / लेटे)
  3. हम…….. के हाथों में पड़े हुए हैं। (मजबूरी / गरीबी)
  4. सबको ……. पड़ी है। (अपनी / मेरी)

उत्तर:

  1. दर – दर
  2. लेटे
  3. मजबूरी
  4. अपनी।

RBSE Class 7 Hindi ये भी धरती के बेटे हैं  लघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
पिता ने जब बच्चों से उनके काम के बारे में पूछा, तब तस्कर बच्चे ने क्या कहा?
उत्तर:
पिता के द्वारा पूछे जाने पर तस्कर बच्चे ने कहा कि उसका काम माल को इधर का उधर और उधर का इधर करना है। बड़े-बड़े तस्कर मुझसे यह काम कराते हैं और मुझे भी टुकड़ा-दो टुकड़ा, अर्थात् थोड़ा-सा हिस्सा दे देते हैं।

प्रश्न 2.
“हमें गन्दगी से निकाल लो।” यहाँ गन्दगी से क्या आशय है?
उत्तर:
तस्कर, भिखारी और जेबकतरा बालक ने अपने गलत कामों को गन्दगी कहा है। वे दूसरों के इशारों पर तस्करी, चोरी एवं भीख माँगने का काम करते थे, जो कि अच्छा आचरण नहीं था। इस कारण उनका जीवन अपमान एवं निन्दा से कलंकित था। जनता की नजरों में गिरा होने से वे गन्दगी में पड़े हुए थे।

RBSE Solutions for Class 7 Hindi Chapter 11 ये भी धरती के बेटे हैं

प्रश्न 3.
तस्कर बच्चे ने अनपढ़ लोगों को किसके समान बताया?
उत्तर:
तस्कर बच्चे ने अनपढ़ लोगों को पशुओं के समान बताया। ऐसे लोग भूले-भटके एवं चौराहे पर खड़े रहते हैं। उनमें और पशुओं में कोई अन्तर नहीं है।

RBSE Class 7 Hindi ये भी धरती के बेटे हैं  दीर्घ उत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
पिता ने जीने का क्या तरीका बताया?
उत्तर:
पिता ने तस्कर, जेबकतरा और भिखारी बालक से कहा कि तुम बुरा काम करते हो। तुम अनपढ़ हो और जिन्दगी का महत्त्व नहीं समझते हो। इसलिए तुम कुछ काम करो, अच्छे काम करो, मेहनत करो और ईमानदारी दिखाओ। इस तरह पिता ने उन्हें साक्षर होने और परिश्रमी बनने को कहा। काम करते हुए सही ढंग से जीना बताया।

प्रश्न 2.
पढ़ने-लिखने से क्या लाभ बताये गये हैं?
उत्तर:
पढ़ने-लिखने से ज्ञान मिलता है, जीवन सुधरता है और मनुष्य को अच्छा जीवन प्राप्त होता है। पढ़ने-लिखने से रोजगार मिलता है, काम करने अथवा जीविका चलाने की योग्यता आती है। इससे जीवन उन्नति की ओर बढ़ता है और जीवन सुधारने का अवसर भी मिलता है। अनपढ़ व्यक्ति पशुओं के समान होता है, जबकि पढ़ा-लिखा व्यक्ति ज्ञान और बुद्धि से सम्पन्न होकर समझदार बन जाता है। वह सही ढंग से जीने का तरीका भी जान लेता है।

RBSE Solutions for Class 7 Hindi Chapter 11 ये भी धरती के बेटे हैं

भाषा की बात –

प्रश्न 1.
पाठ में “बदकिस्मत” और “अनपढ़” शब्द आए हैं। बदकिस्मत ‘बद’ और ‘किस्मत’ से बना हैं। अनपढ़ शब्द ‘अन’ और ‘पढ़’ से बना है। यहाँ ‘बद’ और ‘अन’ शब्द के पहले जुड़े हैं। शब्द से पहले जुड़कर नए शब्द बनाने वाले शब्दांश उपसर्ग कहलाते हैं। अब आप भी ‘बद’ और ‘अन’ उपसर्गों से बनने वाले शब्दों की सूची बनाइए।
उत्तर:
बद-बदनाम, बदमिजाज, बदचलन, बदतमीज, बदबू, बदमाश।

अन – अनमोल, अनहित, अनमेल, अनगढ़, अनसुना, अनदेखा। अब इन शब्दों में उपसर्ग और मूल शब्द अलग-अलग करके लिखिए।
उत्तर:
बदनाम – बद + नाम, बदमिजाज – बद + मिजाज, बदचलन – बद + चलन, बदतमीज – बद + तमीज, बदबू-बद + बू, बदमाश – बद + माश। अनमोल – अन + मोल, अनहित – अन + हित, अनमेल अन + मेल, अनगढ़ – अन + गढ़, अनसुना – अन + सुना, अनदेखा – अन + देखा।

RBSE Solutions for Class 7 Hindi Chapter 11 ये भी धरती के बेटे हैं

प्रश्न 2.
‘हमें पता है, हम भी धरती के बेटे हैं रेखांकित पद वाक्य में किसी पद के बाद लगकर उसके अर्थ में विशेष प्रकार का बल ला देते हैं, इन्हें निपात कहते हैं। ही, भी, भर, तक, मात्र आदि निपात हैं। आप भी निपात युक्त वाक्यों को छाँटकर लिखिए तथा निपात हटाकर वाक्य को पढ़कर देखिए कि उसके अर्थ में क्या परिवर्तन हुआ है?
उत्तर:
अन्य निपात युक्त वाक्य –

  1. उनका होना, न होने से भी ज्यादा वेदनापूर्ण है।
  2. मुझको भी टुकड़ा दो टुकड़ा दे देते हैं।
  3. जैसा भी हो, हम घर-घर सब्जी बेचेंगे।
  4. ये भी भारत माँ के सच्चे बच्चे कहलायेंगे।
  5. हम जीवन भर सदा आपके गुण गायेंगे।
  6. भारत का झंडा हम भी अब अपने इन उज्ज्वल हाथों से फहरायेंगे।

इन वाक्यों में ‘भी’ व ‘भर’ निपात का प्रयोग हुआ है। इन निपातों को हटाकर वाक्य का अर्थ सामान्य बन जाता है, जबकि निपात लगने पर वे पूर्ववर्ती शब्द के अर्थ पर जोर देते हैं।

पाठ से आगे –

प्रश्न
1. “हम घर-घर सब्जी बेचेंगे।” जेबकतरा बच्चे ने स्वरोजगार के रूप में सब्जी बेचना चुना। आप ऐसे कौनकौनसे कार्यों के बारे में जानते हैं? सूची बनाएँ। सजाव पास बुक्स
2. इन कार्यों के लिए किन-किन सामग्रियों की जरूरत होती है?
3. इन सामग्रियों के लिए कितने धन की जरूरत होती है? अनुमान लगाएँ।
4. स्वरोजगार के लिए धन कहाँ-कहाँ से उपलब्ध हो सकता है? बड़ों से पूछकर लिखिए।
उत्तर:
1. कम पढ़े-लिखे लोग जो काम करते हैं, वे इस प्रकार हैं –

  • घरों में अखबार बाँटना
  • जूतों पर पालिश करना
  • कपड़ों पर इस्त्री करना
  • ड्राइक्लीनर का धन्धा करना
  • रद्दी कागज खरीदना-बेचना
  • रद्दी कागज की थैलियाँ बनाना
  • फूल-मालाएँ बनाकर बेचना,
  • जूस निकालने का धन्धा करना आदि।

2. उक्त कार्यों के लिए अखबार, पालिश का सामान, इस्त्री, कपड़े धोने की मशीन, कागज, गोंद-लेई, फूल एवं ईख आदि की जरूरत होती है।
3. इन सामग्रियों के लिए कम ही धन की जरूरत होती है। इनमें से कपड़ों पर इस्त्री करने और ड्राइक्लीनर का काम करने के लिए अधिक धन की जरूरत होती है। जूस निकालने का सामान, मशीन आदि पर भी खर्चा कुछ अधिक आता है। इन सब कामों पर सौ से पाँच हजार रुपयों की जरूरत होती है।
4. स्वरोजगार के लिए सरकारी बैंकों, सहकारी समितियों तथा ऋण देने वाली संस्थाओं से धन उपलब्ध हो सकता है।

RBSE Solutions for Class 7 Hindi Chapter 11 ये भी धरती के बेटे हैं

यह भी करें –

पाठ में सब्जी बेचने वाला, पॉलिश करने वाला बनने का उल्लेख हुआ है। ये अपने ग्राहकों को आवाज लगाकर बुलाते हैं। आप भी निम्नांकित धंधे वालों की आवाज लगाते हुए अभिनय कीजिए –

  1. सब्जी बेचने वाला,
  2. चाय बेचने वाला,
  3. पॉलिश करने वाला,
  4. खिलौने बेचने वाला।

उत्तर:

  1. सब्जी बेचने वाला – सब्जी ले लो, ताजी सब्जी लो।
  2. चाय बेचने वाला – चाय गरम, चाय पीओ।
  3. पॉलिश करने वाला – बाबू बूट पॉलिश, जूता चमकाओ।
  4. खिलौने बेचने वाला – सस्ते खिलौने ले लो, हर माल सस्ता। इत्यादि।

RBSE Class 7 Hindi ये भी धरती के बेटे हैं अन्य महत्त्वपूर्ण प्रश्न

RBSE Class 7 Hindi ये भी धरती के बेटे हैं  वस्तुनिष्ठ प्रश्न

प्रश्न 1.
भिखारी बालक के माँ-बाप क्या थे?
(क) भिखारी
(ख) अन्धे
(ग) घरेलू नौकर
(घ) तस्कर।
उत्तर:
(ख) अन्धे

प्रश्न 2.
किस बच्चे ने कहा कि उसकी माँ है, पर पिता नहीं है?
(क) तस्कर बच्चे ने
(ख) भिखारी बच्चे ने
(ग) जेबकतरे बच्चे ने
(घ) सभी बच्चों ने।
उत्तर:
(क) तस्कर बच्चे ने

प्रश्न 3.
जेबकतरे बच्चे ने स्वयं को बताया –
(क) बुरा इंसान
(ख) किस्मत का हेटा
(ग) गरीब का बेटा
(घ) राह राह से भटका।
उत्तर:
(ख) किस्मत का हेटा

RBSE Solutions for Class 7 Hindi Chapter 11 ये भी धरती के बेटे हैं

प्रश्न 4.
तस्कर बच्चे ने पिता से कौन-सा काम करने की बात की?
(क) सब्जी बेचने की
(ख) बरतन माँजने की
(ग) जूता पॉलिश करने की
(घ) फूल बीनने की।
उत्तर:
(ग) जूता पॉलिश करने की

रिक्त स्थानों की पूर्ति –
प्रश्न 5.
निम्नलिखित रिक्त स्थानों की पूर्ति कोष्ठक में दिये गये सही शब्दों से कीजिए –
(क) गंगा – यमुना की धारा से …………. गंदगी में लेटे हैं। (बिछुड़ / दूर)
(ख) हम क्या जानें ……..में फूल किसे कहते हैं। (घर / जग)
(ग) इनको …………. ने ऐसा बना दिया है। (बीमारी / लाचारी)
(घ) भीख माँगने से मरना ज्यादा ………… है। (अच्छा / बुरा)
उत्तर:
(क) बिछुड़
(ख) जग
(ग) लाचारी
(घ) अच्छा।

RBSE Class 7 Hindi ये भी धरती के बेटे हैं  अतिलघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 6.
तस्कर व जेबकतरे बच्चे को कौन पीटता है?
उत्तर:
तस्कर व जेबकतर बच्चे को पुलिस पीटती है।।

प्रश्न 7.
भिखारी बालक ने पिता से क्या काम करने की हामी भरी?
उत्तर:
भिखारी बच्चे ने हामी भरी कि घर पर नौकर रह लेंगे, बरतन माँजेंगे, घर की सफाई करेंगे।

प्रश्न 8.
जेबकतरा बच्चे ने स्वयं को किसमें फँसा हुआ बताया?
उत्तर:
जेबकतरा बच्चे ने स्वयं को गुण्डों के जाल में फँसा हुआ बताया।

RBSE Solutions for Class 7 Hindi Chapter 11 ये भी धरती के बेटे हैं

प्रश्न 9.
“सबको अपनी पड़ी हुई है, कौन दूसरों की सुनता है।” यह किसने किससे कहा?
उत्तर:
यह तस्कर बच्चे ने पिता-पुत्र से कहा।

प्रश्न 10.
पिता ने कहा कि “काम करो कुछ, काम करो कुछ।” जेबकतरे बच्चे ने इसका क्या उत्तर दिया?
उत्तर:
उसने उत्तर दिया कि सब कहते हैं ‘काम करो कुछ’, लेकिन कोई उसे काम करने को नहीं देता है।

RBSE Class 7 Hindi ये भी धरती के बेटे हैं  लघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 11.
पुत्र ने अपने पिता से क्या कहा?
उत्तर:
पुत्र ने अपने पिता से कहा कि ये बच्चे पढ़ेंगेलिखेंगे, तो सुधर जायेंगे। इनसे नफरत नहीं करनी चाहिए। ये भी भारत माता के बच्चे हैं। इनका जीवन सुधर जायेगा, तो ये सब आपका गुण गायेंगे। पढ़-लिखकर ये अच्छे बच्चे बन जायेंगे। इन्हें अपने घर ले चलिये।

RBSE Solutions for Class 7 Hindi Chapter 11 ये भी धरती के बेटे हैं

प्रश्न 12.
अन्त में सब बच्चों ने पिता से क्या कहा?
उत्तर:
अन्त में सब बच्चों ने पिता से कहा कि आप धन्य हैं। आप जैसे धनी उदार सब हो जायें, तो कोई बच्चा भीख न माँगे, जेब न काटे। हम अनाथ बच्चों के सिर से मुसीबतों के काले बादल हट जायेंगे। सबके दु:ख और सुख सबमें बँट जायें। हम जीवन भर आपके गुण गायेंगे।

RBSE Class 7 Hindi ये भी धरती के बेटे हैं  निबन्धात्मक प्रश्न

प्रश्न 13.
‘ये भी धरती के बेटे हैं’ एकांकी (पाठ) से क्या शिक्षा मिलती है?
उत्तर:
इस पाठ से बच्चों को यह शिक्षा मिलती है कि वे गलत कामों से दूर रहें, पढ़-लिखकर अपनी जिन्दगी सुधारें और अच्छे इंसान बनें। वे मुसीबतों का सामना करना सीखें और गलत लोगों की बातों में कभी भी न आवें। समाज के धनी लोगों को शिक्षा दी गई है कि वे अनाथ बच्चों की सहायता करें, उन्हें ऐसे काम दें, जिससे वे अपने पैरों पर खड़े हो सकें और देश के अच्छे नागरिक बन सकें। धनी लोग उदार बनें। अन्य लोगों को भी गरीबों व अनाथों के प्रति सहयोग-सद्भावना रखनी चाहिए।

RBSE Solutions for Class 7 Hindi Chapter 11 ये भी धरती के बेटे हैं

प्रश्न 14.
अनाथ बच्चों की जिन्दगी कैसे सुधर सकती है? पाठ के आधार पर लिखिये।
उत्तर:
देश में अनाथ बच्चे पेट की खातिर गलत लोगों के हाथ पड़ जाते हैं। तब वे चोरी, तस्करी आदि बुरे काम करने लगते हैं, भीख माँगते फिरते हैं और पढ़ने-लिखने से वंचित हो जाते हैं। ऐसे अनाथ बच्चों की जिन्दगी इन उपायों से
सुधर सकती है –

  1. धनी लोग अनाथ बच्चों को सब तरह से सहारा दें, उन्हें पढ़ा – लिखाकर योग्य बनावें और कछ रोजगार भी दें।
  2. अनाथ बच्चों को समाज कल्याण विभाग के अनाथाश्रम में प्रवेश दिलायें, ताकि वहाँ उनकी सही देखभाल हो सके।
  3. अनाथ बच्चों से नफरत नहीं रखकर उन्हें पूरा सहयोग-सहायता दें।

प्रश्न 15.
निम्नलिखित गद्यांशों को पढ़कर नीचे दिये गये प्रश्नों के उत्तर दीजिए –
(क) बेटा, ये बच्चे हैं! छोटे-छोटे बच्चे। ये बुरे काम करते हैं। कोई जेब काटता, कोई भीख माँगता, कोई तस्करी का धंधा करता है। पुलिस पकड़ती है इनको। ये सब समाज को दूषित करते हैं। गंदगी बिखेर रहे हैं।

प्रश्न – (क) यह गद्यांश किस पाठ से लिया गया है?
(ख) रेखांकित शब्दों के अर्थ लिखिए।
(ग) छोटे-छोटे बच्चे कौन-सा काम कर रहे थे?
(घ) वे कैसी गन्दगी बिखेर रहे थे?
उत्तर:
(क) यह गद्यांश ‘ये भी धरती के बेटे हैं’ शीर्षक एकांकी पाठ से लिया गया है।
(ख) तस्करी = चोरी-छिपे माल ले जाना। दूषित = गन्दा।
(ग) छोटे-छोटे बच्चे भीख माँग रहे थे, तस्करी कर रहे थे और लोगों की जेबें काटने का काम कर रहे थे।
(घ) समाज में भीख माँगना, जेबें काटना और तस्करी करना गन्दा काम माना जाता है। इससे समाज का वातावरण गन्दा होता है। तीनों छोटे बच्चे ऐसे ही गलत काम से गन्दगी बिखेर रहे थे।

(ख) बेशक आप धन्य हैं, आप धन्य हैं। धनी उदार आप जैसे सब हो जाएँ तो कोई बच्चा भीख न माँगे, जेब न काटे। सबके दुःख सुख सब में बँट जाएँ। हम अनाथ बच्चों के सिर से मुसीबतों के ये काले बादल हट जाएँ। हम जीवन भर सदा आपके गुण गाएँगे। भारत का झंडा – सजीव पास बुक्स हम भी अब अपने इन उज्ज्वल हाथों से फहराएँगे।

RBSE Solutions for Class 7 Hindi Chapter 11 ये भी धरती के बेटे हैं

प्रश्न –
(क) यह गद्यांश किस पाठ से लिया गया है?
(ख) रेखांकित शब्दों के अर्थ लिखिए।
(ग) आप धन्य हैं’ यह किसने व किससे कहा है?
(घ) भारत का झंडा कौन फहरायेंगे?
उत्तर:
(क) यह गद्यांश ‘ये भी धरती के बेटे हैं’ शीर्षक एकांकी पाठ से लिया गया है।
(ख) धनी = धन-दौलत वाला व्यक्ति। उज्ज्वल = स्वच्छ, चमकदार।
(ग) यह भिखारी, तस्कर व जेबकतरे बच्चे ने पिता नामक पात्र से कहा है।
(घ) जो बालक बुरे काम नहीं करेंगे, पढ़-लिखकर योग्य हो जायेंगे और जीवन में उन्नति करेंगे, वे भारत का झंडा फहरायेंगे।

पाठ-परिचय:
यह एकांकी है। इसके लेखक ओमप्रकाश आदित्य हैं। इस एकांकी में पाँच पात्र हैं। तस्कर, भिखारी और जेबकतरे बालक को लोग मारते-पीटते हैं। तब पुत्र अपने पिता से उन्हें कुछ काम देने और पढ़ाने का आग्रह करता है। वह कहता है कि ये भी भारत माता के बच्चे हैं।

कठिन-शब्दार्थ:
मद्धम = धीमा, हल्का। पार्श्व = बगल से। चरकटे = चोर, लम्पट। तस्करी = चोरी-छिपे माल ले जाना। अहसास = अनुभूति। धनी = धन-दौलत वाला व्यक्ति। पात्र = योग्य व्यक्ति। शिखर = चोटी।

Leave a Comment