RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

Rajasthan Board RBSE Class 6 Social Science Solutions Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

RBSE Solutions for Class 6 Social Science

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

RBSE Class 6 Social Science जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था Intext Questions and Answers

गतिविधि

पृष्ठ संख्या – 106

प्रश्न 1.
राजस्थान राज्य के सात संभाग मुख्यालय कौनकौनसे हैं?
उत्तर:
राजस्थान राज्य के सात संभाग मुख्यालय ये हैं –

  1. अजमेर संभाग
  2. भरतपुर संभाग
  3. बीकानेर संभाग
  4. जोधपुर संभाग
  5. जयपुर संभाग
  6. कोटा संभाग तथा
  7. उदयपुर संभाग

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

प्रश्न 2.
आपका जिला किस संभाग के अन्तर्गत स्थित है?
उत्तर:
हमारा जयपुर जिला, जयपुर संभाग के अन्तर्गत स्थित है।

प्रश्न 3.
आपके जिले के पड़ौसी जिलों के नाम बताइये।
उत्तर:
जयपुर जिले के पड़ौसी जिले हैं – दौसा, अलवर, सवाई माधोपुर, सीकर, टोंक तथा अजमेर एवं नागौर।

RBSE Class 6 Social Science जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था Text Book Questions and Answers

पाठ्यपुस्तक के प्रश्न

प्रश्न 1.
सही उत्तर का विकल्प चुनिए –
जिले का सर्वोच्च प्रशासनिक अधिकारी होता है ………………
(अ) पुलिस अधीक्षक
(ब) जिला कलक्टर
(स) जन – सम्पर्क अधिकारी
(द) कोषाधिकारी
उत्तर:
(ब) जिला कलक्टर

(ii) न्यायालय से बाहर आपसी समझाइश द्वारा विवादों को समाप्त करवाया जाता है ………………
(अ) दीवानी न्यायालय में
(ब) फौजदारी न्यायालय में
(स) लोक अदालत में
(द) राजस्व न्यायालय में
उत्तर:
(स) लोक अदालत में

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

प्रश्न 2.
निम्नलिखित वाक्यों में रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए –

  1. हमारे देश में ……………… राज्य और ………………. केन्द्र – शसित प्रदेश हैं।
  2. राजस्थान में ……………… संभाग और ……………… जिले हैं।
  3. फौजदारी मामलों में पीड़ित पक्ष द्वारा पुलिस को दिये गये प्रार्थना – पत्र को ……………… कहते हैं।

उत्तर:

  1. 29, 7
  2. 7, 33
  3. प्रथम सूचना प्रतिवेदन

प्रश्न 3.
स्तम्भ ‘अ’ को स्तम्भ ‘ब’ से सुमेलित कीजिए –
RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था
उत्तर:
RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था
उत्तर:
RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

प्रश्न 4.
जिला प्रशासन के कोई चार कार्य लिखिए।
उत्तर:
जिला प्रशासन के चार प्रमुख कार्य ये हैं –

  1. शान्ति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखना।
  2. भू-अभिलेख संधारित करना तथा राजस्व प्राप्त करना।
  3. रसद एवं अन्य सामग्री सम्बन्धी व्यवस्था करना।
  4. शिक्षा, चिकित्सा, स्वास्थ्य, पेयजल, बिजली, यातायात सम्बन्धी व्यवस्था करना।

प्रश्न 5.
पटवारी के क्या-क्या कार्य हैं? लिखिए।
उत्तर:
पटवारी के कार्य –

  1. गाँव का पटवारी गाँव की समस्त भूमि का निर्धारित प्रकारों में वर्गीकरण करता है।
  2. वह खेतों की नाप रखता है।
  3. वह खेतों के नक्शे बनाता है।
  4. वह भूमि के मालिक का नाम व उसकी भूमि का पूर्ण विवरण लिखता है।
  5. फसल तैयार होने पर पटवारी उसका विवरण तैयार करता है।
  6. वह किसानों से भूमि कर वसूल करता है जिसे लगान कहते हैं।

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

प्रश्न 6.
जन – अभाव अभियोग एवं सतर्कता समिति क्या कार्य करती है?
उत्तर:
जन – अभाव अभियोग एवं सतर्कता समिति आम जनता की बिजली, पानी, टेलीफोन, यातायात, पेन्शन प्रकरण, राजकीय भूमि से अतिक्रमण हटाना आदि समस्याओं का निराकरण कराती है। आम जनता इसके माध्यम से अपनी सार्वजनिक एवं व्यक्तिगत समस्याओं का निराकरण करवा सकती है।

प्रश्न 7.
जिला कलक्टर के प्रमुख कार्यों का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
जिला कलक्टर के कार्य – जिले का सर्वोच्च अधिकारी जिला कलक्टर होता है। जिला कलक्टर के प्रमुख कार्य निम्नलिखित हैं –
1. शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखना-जिले में शांति व कानून व्यवस्था बनाए रखने की सम्पूर्ण जिम्मेदारी जिला कलक्टर अर्थात् जिला मजिस्ट्रेट की होती है। इस कार्य हेतु उसके सहयोग के लिए पुलिस प्रशासन होता है।

2. राजस्व व भू – अभिलेखों का संधारण एवं भू-राजस्व लेना-जिला कलक्टर, कलक्टर (भू-अभिलेख) के रूप में अपने अधीनस्थ तहसीलों में विभिन्न प्रकार की भूमियों का अभिलेख रखता है तथा उसे अद्यतन भी बनाए रखता है। इस कार्य में पटवारी, गिरदावर व तहसीलदार उसकी सहायता करते हैं। साथ ही जिले में भू-राजस्व वसूल करने की जिम्मेदारी भी उसकी है।

3. नागरिक सुविधाएँ प्रदान करना – जिला कलक्टर, कलक्टर-रसद के रूप में जिले में नागरिक सुविधाएँ प्रदान करने का कार्य करता है। जिला रसद अधिकारी के सहयोग से वह जिले में रह रहे सभी व्यक्तियों को आवश्यक वस्तुएँ, जैसे – खाद्यान्न, चीनी, मिट्टी का तेल, डीजल, पेट्रोल, घरेलू गैस सिलेण्डर आदि को पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराने की व्यवस्था करता है।

4. जनता व सरकार के बीच कड़ी का कार्य – जिला कलक्टर व उसका प्रशासन जिले में प्राकृतिक आपदा एवं अन्य समस्याओं के निवारण के लिए राज्य सरकार को सूचित करता है तथा आवश्यक व्यवस्था करता है। वह सरकार की विभिन्न योजनाओं और नीतियों की जानकारी जनता को देता है ताकि जनता उनका लाभ उठा सके।

5. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएँ उपलब्ध करवाना जिले में चिकित्सा सुविधाएँ एवं दवाइयाँ, टीकाकरण, परिवार कल्याण, महिला एवं शिशु स्वास्थ्य सेवाएँ, नशा मुक्ति आदि कार्यक्रमों का संचालन जिला कलक्टर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी’ के सहयोग से करता है।

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

प्रश्न 8.
फौजदारी न्यायालय की कार्य-प्रक्रिया को समझाइये।
उत्तर:
फौजदारी न्यायालय की कार्य – प्रक्रिया-फौजदारी विवादों में सबसे पहले पीड़ित पक्ष को अपने क्षेत्र के पुलिस थाने में सूचना देना आवश्यक होता है। इस प्रकार की सूचना को ‘प्रथम सूचना प्रतिवेदन’ (एफ.आई.आर.) कहते हैं। इसके बाद पुलिस छानबीन कर सबूत इकट्ठा करती है और फिर न्यायालय में उस मामले का चालान प्रस्तुत करती है। न्यायालय प्रस्तुत सबूतों के साथ-साथ गवाहों तथा दोनों पक्षों के बयानों के आधार पर अपना निर्णय देता है।

प्रश्न 9.
जिले में शान्ति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस प्रशासन की भूमिका को समझाइये।
उत्तर:
जिले में शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने हेतु पुलिस प्रशासन होता है। जिले में पुलिस विभाग पुलिस अधीक्षक (एस.पी.) के नियन्त्रण, निर्देशन व पर्यवेक्षण में कार्य करता है। उसके नियन्त्रण में अपर पुलिस अधीक्षक, पुलिस उपअधीक्षक, वृत्त निरीक्षक, उपनिरीक्षक, हैड कांस्टेबल तथा कांस्टेबल होते हैं। अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट, उपखण्ड जिला मजिस्ट्रेट तथा तहसीलदार भी अपने-अपने स्तर पर पुलिस अधिकारियों से तालमेल स्थापित कर शान्ति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखते हैं।

RBSE Class 6 Social Science जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था Important Questions and Answers

वस्तुनिष्ठ प्रश्न

Question 1.
निम्न में से कौनसा जिला भरतपुर संभाग से सम्बन्धित नहीं है ……………..
(अ) धौलपुर
(ब) करौली
(स) सवाईमाधोपुर
(द) दौसा
उत्तर:
(द) दौसा

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

Question 2.
पुलिस विभाग का प्रमुख कार्य है ……………..
(अ) शांति व्यवस्था बनाए रखना
(ब) भूमि का रिकार्ड रखना
(स) कर लगाना
(द) करं हटाना
उत्तर:
(अ) शांति व्यवस्था बनाए रखना

Question 3.
राजस्थान राज्य में जिले हैं ……………..
(अ) 29
(ब) 7
(स) 33
(द) 31
उत्तर:
(स) 33

Question 4.
जिले में रह रहे सभी व्यक्तियों को आवश्यक वस्तुओं को पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराने की व्यवस्था करता है ……………..
(अ) पुलिस अधीक्षक
(ब) जिला रसद अधिकारी
(स) जन – सम्पर्क अधिकारी
(द) कोषाधिकारी
उत्तर:
(ब) जिला रसद अधिकारी

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

Question 5.
सम्पत्ति सम्बन्धी विवाद कहलाते हैं ……………..
(अ) दीवानी विवाद
(ब) राजस्व विवाद
(स) फौजदारी विवाद
(द) संवैधानिक विवाद
उत्तर:
(अ) दीवानी विवाद

रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए

  1. ………………. के सम्पूर्ण प्रशासनिक कार्य जिला कलक्टर द्वारा स्वयं एवं उसके मार्गदर्शन में किये जाते हैं।
  2. आम जनता की कठिनाइयों एवं शिकायतों के निवारण के लिए जिला स्तर पर ………………. समिति होती है।
  3. प्रत्येक जिले में प्रारम्भिक एवं माध्यमिक शिक्षा के लिए पृथक्-पृथक् ………………. कार्यरत हैं।
  4. न्यायालय से बाहर आपसी समझाइश के द्वारा विवादों को समाप्त करवाने के लिए हमारे देश में ………………. की व्यवस्था की गई है।

उत्तर:

  1. जिले
  2. जन – अभाव अभियोग एवं सतर्कता
  3. जिला शिक्षा अधिकारी
  4. लोक अदालतों

अतिलघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
भारत में वर्तमान में कितने राज्य व केन्द्र-शासित प्रदेश हैं?
उत्तर:
वर्तमान में भारत में 29 राज्य व 7 केन्द्र-शासित प्रदेश हैं।

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

प्रश्न 2.
राजस्थान राज्य में कितने सम्भाग व जिले हैं?
उत्तर:
राजस्थान राज्य में 7 सम्भाग व 33 जिले हैं।

प्रश्न 3.
जिले का चहुमुखी विकास किस पर निर्भर करता हैं?
उत्तर:
जिले का चहुंमुखी विकास जिला प्रशासन की कार्यकुशलता पर निर्भर करता है।

प्रश्न 4.
जिले का सर्वोच्च प्रशासनिक अधिकारी कौन होता है?
उत्तर:
जिला कलक्टर।

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

प्रश्न 5.
जिला कलक्टर कितने रूपों में कार्य करता है?
उत्तर:
जिला कलक्टर, जिला मजिस्ट्रेट, कलक्टर (पंचायत), कलक्टर (रसद), कलक्टर (भू-अभिलेख), जिला निर्वाचन अधिकारी आदि रूपों में कार्य करता है।

प्रश्न 6.
जिले में पुलिस विभाग किसके नियन्त्रण व निर्देशन में कार्य करता है?
उत्तर:
जिले में पुलिस विभाग ‘पुलिस अधीक्षक’ के नियन्त्रण, निर्देशन व पर्यवेक्षण में कार्य करता है।

प्रश्न 7.
जिले में सभी व्यक्तियों को आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की व्यवस्था कौनसा अधिकारी करता है?
उत्तर:
जिला रसद अधिकारी।

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

प्रश्न 8.
नागरिकों के बीच सामान्यतः कितने प्रकार के विवाद हो सकते हैं?
उत्तर:
नागरिकों के बीच सामान्यतः तीन प्रकार के विवाद हो सकते हैं। ये हैं –

  1. दीवानी विवाद
  2. फौजदारी विवाद
  3. राजस्व विवाद

प्रश्न 9.
जिले में कार्यरत तीन प्रकार के न्यायालयों के नाम लिखिए।
उत्तर:

  1. दीवानी न्यायालय
  2. फौजदारी न्यायालय
  3. राजस्व न्यायालय।

लघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
जिले में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाओं का कार्य किस प्रकार किया जाता है?
उत्तर:
जिले में चिकित्सा सुविधाएँ एवं दवाइयाँ, टीकाकरण, परिवार कल्याण, महिला एवं शिशु स्वास्थ्य सेवाएँ, नशा मुक्ति आदि कार्यक्रमों को संचालित करने हेतु एक ‘मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी’ होता है। उसके सहयोग हेतु ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी, चिकित्सा अधिकारी, नर्स, दाई आदि होते हैं।

प्रश्न 2.
दीवानी तथा फौजदारी विवादों को स्पष्ट कीजिए।
उत्तर:
दीवानी विवाद-जमीन-जायदाद, चीजों की खरीददारी, विवाह, किराया और संविदा सम्बन्धी विवाद दीवानी विवाद कहलाते हैं। फौजदारी विवाद-हत्या, मारपीट, चोरी तथा शान्ति भंग करने सम्बन्धी विवाद फौजदारी विवाद कहलाते हैं।

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

प्रश्न 3.
जिले के प्रशासनिक कार्य किनके द्वारा सम्पादित किये जाते हैं?
उत्तर:
जिले के सम्पूर्ण प्रशासनिक कार्य जिला कलक्टर द्वारा स्वयं एवं उसके मार्गदर्शन में किये जाते हैं। जिला कलक्टर की सहायता के लिए विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी होते हैं। जैसे -पुलिस अधीक्षक, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला कृषि अधिकारी, जिला नियोजन अधिकारी, जिला जन-सम्पर्क अधिकारी, जिला वन अधिकारी, अधीक्षण अभियंता आदि। ये अधिकारी अपने अधीनस्थों की मदद से अपने-अपने विभाग के कार्यों को सम्पादित करते हैं।

प्रश्न 4.
जिला स्तरीय शैक्षिक प्रशासन को समझाइये।
उत्तर:
प्रत्येक जिले में प्रारम्भिक एवं माध्यमिक शिक्षा के लिए पृथक्-पृथक् जिला शिक्षा अधिकारी होते हैं। प्रारम्भिक शिक्षा के लिए जिले के सभी विकास खण्डों में ब्लॉक प्रारम्भिक शिक्षा अधिकारी होते हैं। ये अपने अधीनस्थ विद्यालयों में शैक्षिक कार्यों को सुचारू एवं व्यवस्थित रूप से संचालित करवाते हैं; निःशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा अधिनियम का पालन करवाते हैं तथा निजी स्कूलों को मान्यता देते हैं आदि।

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

प्रश्न 5.
जिला प्रशासन जनता एवं सरकार के बीच कड़ी के रूप में किस प्रकार कार्य करता है?
उत्तर:
जिले में प्राकृतिक आपदा एवं अन्य समस्याओं के निवारण के लिए जिला प्रशासन राज्य सरकार को सूचित करता है तथा आवश्यक व्यवस्था करता है। दूसरी ओर वह सरकार की विभिन्न योजनाओं और नीतियों की जानकारी जनता को देता है, ताकि जनता उनका लाभ उठा सके।

निबन्धात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
लोक अदालतों पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।
उत्तर:
लोक अदालत – न्यायालय से बाहर आपसी समझाइश के द्वारा विवादों को समाप्त करवाने के लिए हमारे देश में लोक अदालतों की व्यवस्था की गई है। प्रत्येक जिले में एक स्थायी लोक अदालत होती है तथा निर्धारित कार्यक्रमानुसार लोक अदालतों को स्थानीय स्तर पर भी लगाया जाता है। कार्य प्रक्रिया-लोक अदालत में न्यायाधीश उस क्षेत्र के प्रमुख व्यक्तियों के सहयोग से विवादग्रस्त पक्षों के मध्य समझौता करवाकर विवाद का स्थायी समाधान करवाते हैं, जो न्यायालयों को मान्य होता है। लोक अदालतों का महत्त्व –

  1. लोक अदालतों में हुए न्याय (राजीनामा) से आपसी कटुता दूर हो जाती है।
  2. इसमें न्याय सस्ता तथा त्वरित प्राप्त होता है।

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

प्रश्न 2.
नागरिकों के बीच कितने प्रकार के विवाद हो सकते हैं? उनका वर्णन कीजिए।
उत्तर:
नागरिकों के बीच विवाद-नागरिकों के बीच सामान्यतः निम्नलिखित तीन प्रकार के विवाद हो सकते हैं –

  1. दीवानी विवाद – सम्पत्ति (जमीन-जायदाद), चीजों की खरीददारी, विवाह, किराया और संविदा सम्बन्धी विवाद दीवानी विवाद कहलाते हैं। इन विवादों का निपटारा दीवानी न्यायालय में होता है।
  2. फौजदारी विवाद – हत्या, मारपीट, चोरी तथा शान्ति भंग करने सम्बन्धी विवाद फौजदारी विवाद कहलाते हैं। इन विवादों की सुनवाई फौजदारी न्यायालय में होती है।
  3. राजस्व विवाद – राजस्व सम्बन्धी विवाद में कृषि भूमि के उत्तराधिकार, नामान्तरण, खातेदारी, लगान आदि के विवाद आते हैं। ऐसे
  4. मामले क्षेत्राधिकार के अनुसार तहसीलदार अथवा सहायक कलक्टर के यहाँ प्रस्तुत होते हैं। जिले में अन्तिम रूप से अपीलों का निर्णय जिला कलक्टर के यहाँ होता है।

RBSE Solutions for Class 6 Social Science Chapter 15 जिला प्रशासन और न्याय व्यवस्था

प्रश्न 3.
जिला प्रशासन के मुख्य कार्यों का उल्लेख कीजिए।
उत्तर:
जिला प्रशासन के मुख्य कार्य-जिला प्रशासन के मुख्य कार्य अग्रलिखित हैं –
1. शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखना – जिले में . शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने की सम्पूर्ण जिम्मेदारी जिला कलक्टर के नेतृत्व में जिला प्रशासन की होती है। जिले के पुलिस अधिकारी तथा जिला मजिस्ट्रेट के अधीन ए.डी.एम., एस.डी.एम., तहसीलदार सभी अपने-अपने स्तर पर पुलिस अधिकारियों से तालमेल स्थापित कर शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखते हैं।

2. राजस्व एवं भू – अभिलेख सम्बन्धी कार्य-जिला प्रशासन अपने अधीनस्थ तहसीलों में विभिन्न प्रकार की भूमियों का अभिलेख रखता है, इसे अद्यतन बनाए रखता है तथा भू-राजस्व वसूल करता है।

3. रसद व अन्य सामग्री उपलब्ध करवाना – जिला प्रशासन जिले में रह रहे सभी व्यक्तियों को आवश्यक वस्तुएँ पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध करवाने की व्यवस्था करता है। साथ ही वह बाढ़, अकाल तथा अन्य प्राकृतिक आपदाओं से प्रभावित लोगों को आवश्यक खाद्यान्न सामग्री उपलब्ध करवाता है।

4. चिकित्सा व स्वास्थ्य सेवाएँ उपलब्ध करवाना जिले में चिकित्सा सुविधाएँ, दवाइयाँ, टीकाकरण, परिवार कल्याण, महिला व शिशु स्वास्थ्य सेवाएँ, नशा मुक्ति आदि कार्यक्रमों को जिला प्रशासन मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के निर्देशन व नियन्त्रण में संचालित करता है।

5. अन्य कार्य – जिला प्रशासन के अन्य कार्य इस प्रकार हैं –

  • जिले में कृषि विकास एवं सिंचाई की सुविधाएँ उपलब्ध करवाना।
  • केन्द्र व राज्य सरकारों द्वारा संचालित योजनाओं को जिले में क्रियान्वित करना।
  • जिले में वनों के विकास के कार्य एवं उनकी देखभाल करना।
  • जिले में संवैधानिक संस्थाओं-लोकसभा, विधानसभा, पंचायती राज संस्थाओं तथा शहरी स्थानीय निकायों के चुनावों को सम्पन्न करवाना।
  • पंचायती राज व्यवस्था के सुचारू रूप से संचालन के लिए जिला प्रशासन जिला परिषद् को सहयोग प्रदान करता है।

Leave a Comment