RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 9 हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड

RBSE Solutions for Class 6 Hindi

Rajasthan Board RBSE Class 6 Hindi Chapter 9 हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड

RBSE Class 6 Hindi हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड पाठ्य-पुस्तक के प्रश्नोत्तर

सोचें और बताएँ –

प्रश्न 1.
तीर्थराज मचकुंड का उल्लेख किस पुराण में मिलता है?
उत्तर:
तीर्थराज मचकुंड का उल्लेख विष्णु पुराण के पंचम अंश के 23वें अध्याय में मिलता है।

प्रश्न 2.
भगवान कृष्ण को ‘रणछोड़’ क्यों कहा जाता
उत्तर:
भगवान कृष्ण को कालयवन से युद्ध करते हुए युद्ध से भागने के कारण ‘रणछोड़’ कहा जाता है।

प्रश्न 3.
मचकुंड सरोवर पर पवित्र मन्दिरों का निर्माण किस काल में हुआ था?
उत्तर:
मचकुंड सरोवर पर पवित्र मंदिरों का निर्माण धौलपुर रियासत के शासक महाराज भगवंतसिंह के काल में हुआ था।

लिखें –

RBSE Class 6 Hindi हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड बहुविकल्पी प्रश्न

प्रश्न 1.
मचकुंड का प्रसंग मिलता है, श्री मद्भागवत के।
(क) 23वें अध्याय में
(ख) 46वें अध्याय में।
(ग) 51वें अध्याय में
(घ) 57वें अध्याय में।
उत्तर:
(ग) 51वें अध्याय में

प्रश्न 2.
देवासुर संग्राम में इन्द्र ने किसे अपना सेनापति बनाया था –
(क) कृष्ण को
(ख) अर्जुन को
(ग) मुचुकुंद महाराज को
(घ) कालयवन को।
उत्तर:
(ग) मुचुकुंद महाराज को

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 9 हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड

प्रश्न 3.
मचकुंड सरोवर पर प्रतिवर्ष वार्षिक मेले का आयोजन होता है –
(क) भाद्रपद शुक्ला दूज को
(ख) भाद्रपद शुक्ला छठ को
(ग) भाद्रपद शुक्ला दशमी को
(घ) आश्विन शुक्ला दशमी को।
उत्तर:
(ख) भाद्रपद शुक्ला छठ को

RBSE Class 6 Hindi हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड लघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
मचकुंड सरोवर राजस्थान के किस जिले में स्थित है?
उत्तर:
मचकुंड सरोवर राजस्थान के धौलपुर जिले में स्थित है।

प्रश्न 2.
मचकुंड सरोवर के पास निर्मित गुरुद्वारा किस सिक्ख गुरु की स्मृति से जुड़ा है?
उत्तर:
यह गुरुद्वारा सिक्खों के छठे गरु हरगोविन्द सिंह की स्मृति से जुड़ा है। माना जाता है कि 4 मार्च, 1612 में सिक्खों के छठे गुरु हरगोविन्दसिंह ग्वालियर जाते समय एक दिन के लिए यहाँ ठहरे थे।

प्रश्न 3.
मचकुंड तीर्थ के पास प्रसिद्ध गुफा का नाम लिखिए।
उत्तर:
मचकुंड तीर्थ के पास प्रसिद्ध गुफा का नाम हैमौनी बाबा की गुफा।

प्रश्न 4.
अब्दालशाह की मजार पर कव्वाली का आयोजन कब होता है?
उत्तर:
अब्दालशाह की मजार पर देवछठ के वार्षिक मेले पर कव्वाली का आयोजन होता है।

RBSE Class 6 Hindi हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड दीर्घउत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
मचकुंड सरोवर के धार्मिक व सांस्कृतिक महत्त्व को लिखिए।
उत्तर:
मचकुंड सरोवर के किनारे महाराज भगवंतसिंह ने मन्दिरों का निर्माण कराया। यह स्थान धार्मिक आस्था, पवित्र स्नान और कौमी एकता के लिए जाना जाता है। यहाँ प्रत्येक माह की पूर्णिमा को दीपदान व महाआरती होती है तथा प्रत्येक माह की अमावस्या को परिक्रमा का आयोजन किया जाता है जो धार्मिक आस्था और संस्कृति को साकार कर देता है।

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 9 हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड

इस स्थान को तीर्थों का भानजा भी कहते हैं। यहाँ। सभी धर्मावलम्बियों के देवालय हैं। यहाँ हिन्दू मन्दिर, सिक्ख गुरुद्वारा, पहाड़ी पर मौनी बाबा की गुफा तथा अब्दाल शाह की मजार है। इस स्थान का अपना सांस्कृतिक महत्त्व है। इसका वर्णन विष्णु पुराण और श्रीमद्भागवत गीता में भी आता है। इसके प्राकृतिक सौन्दर्य को देखकर इसे पूर्वांचल का पुष्कर भी कहा जा सकता है।

प्रश्न 2.
मचकुंड सरोवर जैसे धार्मिक व ऐतिहासिक स्थलों |की स्वच्छता व संरक्षण हेतु क्या-क्या उपाय किए जाने चाहिए? लिखिए।
उत्तर:
मचकुंड सरोवर जैसे धार्मिक व ऐतिहासिक स्थल बड़े महत्त्व के हैं। इन स्थलों पर देशी व विदेशी पर्यटक |विभिन्न अवसरों पर काफी तादाद में आते ही रहते हैं। इस दृष्टि से स्थानीय नगरपालिकाओं, पंचायतों व नगर निगमों आदि को ऐसे स्थलों की स्वच्छता का विशेष ध्यान रखना चाहिए। ऐसे स्थलों पर पर्याप्त मात्रा में सुलभ शौचालय, पानी पीने की व्यवस्था, यातायात के साधनों की उपलब्धता, यात्रियों के ठहरने के लिए होटल, धर्मशालाएँ तथा अस्पताल आदि की व्यवस्था की जानी चाहिए। ऐसे स्थानों को सरकार को अपने संरक्षण में लेना चाहिए।

भाषा की बात –
1. निम्नलिखित शब्दों को ध्यानपूर्वक पढ़िए –
सरोवर, अध्याय, श्रीमद्भागवत, देवासुर, पूर्णाहुति इन शब्दों की रचना इस प्रकार हुई है –

  1. सरः + वर – सरोवर
  2. अधि + आय – अध्याय
  3. श्रीमत् + भागवत – श्रीमद्भागवत
  4. देव + असुर – देवासुर
  5. पूर्ण + आहुति – पूर्णाहुति

वर्गों के मेल से होने वाले परिवर्तन को संधि कहा जाता है।

हिन्दी में सन्धि के तीन भेद माने जाते हैं –

  1. स्वर संधि
  2. व्यंजन संधि
  3. विसर्ग संधि

स्वर सन्धि:
दो स्वरों के मेल को स्वर सन्धि कहते हैं; जैसे – देवासुर, पूर्णाहुति, अध्याय। स्वर सन्धि के पाँच भेद होते हैं –

  1. दीर्घ सन्धि – पूर्णाहुति
  2. गुण सन्धि – महेश
  3. वृद्धि सन्धि – सदैव।
  4. यण् सन्धि – प्रत्येक
  5. अयादि सन्धि – पावन।

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 9 हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड

व्यंजन सन्धि – जब व्यंजन के बाद स्वर या व्यंजनं आए और पूर्व व्यंजन में परिवर्तन हो तो इस परिवर्तन को व्यंजन संधि कहते हैं; जैसे – जगदीश, सदाचार।
विसर्ग सन्धि – जब आपस में मिलने वाले दोनों शब्दों में पहले शब्द के अन्त में विसर्ग (:) और दूसरे शब्द के आरम्भ में कोई स्वर या व्यंजन होने से विसर्ग में परिवर्तन हो, वहाँ विसर्ग संधि होती है; जैसे – मनोबल, तपोवन, तपोबल। आप भी पाठ से सन्धि शब्दों को छाँटिए और उनके भेद लिखिए।
उत्तर:
RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 9 हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड - 1

पाठ से आगे –
राजस्थान में पवित्र सरोवर हमारे धार्मिक व सांस्कृतिक मूल्यों के जीवन्त स्मारक हैं। पुष्कर राज, कोलायत तीर्थ, लोहार्गल तीर्थ, गलताजी, भीमगौड़ा, विमल कुण्ड आदि राज्य के इसी प्रकार के तीर्थ हैं। आप अपने नजदीकी तीर्थ के बारे में जानकारी कर उसके बारे में पाँच वाक्य लिखिए।
उत्तर:
हमारे नजदीक पुष्कर राज तीर्थ है। इसके बारे में पाँच वाक्य निम्नलिखित हैं –

  1. पुष्कर राज अजमेर जिले में स्थित है।
  2. यहाँ कार्तिक पूर्णिमा को बड़ा मेला भरता है।
  3. यहाँ देश-विदेश के पर्यटक आते हैं।
  4. यहाँ ब्रह्माजी का मन्दिर और पवित्र सरोवर है।
  5. यहाँ का प्राकृतिक सौन्दर्य अति आकर्षक है।

यह भी जानें –
धौलपुर राजस्थान का क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा जिला है। यह जिला राज्य के पूर्वी भाग में उत्तरप्रदेश व मध्यप्रदेश की सीमाओं पर स्थित है। यह जिला देश में| अपने शानदार रेड स्टोन जिसे रेड डायमंड कहा जाता है, के लिए भी जाना जाता है। यह पर्यटन की दृष्टि से अपार संभावनाओं से भरा हुआ है। यहाँ के दर्शनीय स्थलों में मचकुंड सरोवर के अलावा तालाब-ए-शाही, खानपुर महल, वन विहार, केसर बाग व रामसागर अभयारण्य, केसर क्यारी, देवहंस का किला, हनुहुँकार तोप, सिटी पैलेस, चंबल उद्यान, चंबल सफारी, दमोह झरना, सैंपऊ महोदव, पार्वती डेम और शेरगढ़ दुर्ग आदि भव्य स्थान हैं।

यह भी करें –
1. राजस्थान के मानचित्र में धौलपुर जिले को पहचानिए।
उत्तर:
राजस्थान प्रदेश का मानचित्र लें और उसमें धौलपुर जिले को रेखांकित करें।

2. निम्नांकित चित्र को ध्यानपूर्वक देखिए और उन कारणों का पता लगाइए जिनके कारण हमारे जल प्रवाह प्रदूषित हो रहे हैं। इन्हें प्रदूषण से बचाने के लिए क्या उपाय कर सकते हैं। चर्चा करें।
RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 9 हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड - 2
उत्तर:
हमारे जल प्रवाहों में पशुओं को नहलाने, मनुष्यों के नहाने, उनके किनारों पर कपड़े धोने, उसमें कूड़ा-करकट, मल-मूत्र आदि डालने, कारखानों के दूषित पानी तथा दूषित अवशिष्टों को डालने से ये जल प्रवाह प्रदूषित हो रहे हैं। इन्हें प्रदूषण से बचाने के लिए आवश्यक है कि इनमें घरों से निकलने वाले गंदे जल, मल-मूत्र, कूड़ा-करकट नहीं डालें। इनमें पशुओं को न नहलाएं। कारखानों के अपशिष्टों को नहीं डालने दें।

RBSE Class 6 Hindi हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड अन्य महत्त्वपूर्ण प्रश्न

RBSE Class 6 Hindi हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड वस्तुनिष्ठ प्रश्न

प्रश्न 1.
विष्णुपुराण के किस अध्याय में मचकुंड का वर्णन मिलता हैं –
(क) 23वें
(ख) 12वें
(ग) 10वें
(घ) 21वें।
उत्तर:
(क) 23वें

प्रश्न 2.
मुचुकुंद महाराज को वरदान दिया था –
(क) भगवान विष्णु ने
(ख) भगवान कृष्ण ने
(ग) भगवान शिव ने
(घ) देवताओं ने।
उत्तर:
(घ) देवताओं ने।

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 9 हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड

प्रश्न 3.
कालयवन नामक दैत्य को अजेय रहने का वरदान मिला था –
(क) भगवान कृष्ण से
(ख) भगवान विष्णु से
(ग) देवताओं से
(घ) भगवान शंकर से।
उत्तर:
(घ) भगवान शंकर से।

प्रश्न 4.
संवत् 1899 में स्थापना हुई थी।
(क) रानी गुरु मन्दिर की
(ख) लाडलीमोहन मन्दिर की
(ग) राजगुरु मन्दिर की
(घ) मदनमोहन मन्दिर की।
उत्तर:
(ख) लाडलीमोहन मन्दिर की

प्रश्न 5.
पूर्वांचल का पुष्कर कहा जा सकता है –
(क) छीतरीया ताल को
(ख) मचकुंड को
(म) विमलकुंड को
(घ) कोलायत तीर्थ को।
उत्तर:
(ख) मचकुंड को

रिक्त स्थानों की पूर्ति –

प्रश्न 6.
उचित शब्द से रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए –

  1. जरासंध ने कृष्ण से बदला लेने के लिए ………..पर आक्रमण किया। (मथुरा / द्वारिका)
  2. श्रीकृष्ण ने उन्हें यहाँ पाँच कुंडीय यज्ञ करके ………. पर्वत पर तपस्या करने के लिए कहा। (श्यामाचल / गंधमादन)
  3. प्रत्येक माह की …………. की परिक्रमा का आयोजन धार्मिक आस्था और संस्कृति को साकार कर देता है। (अमावस्या / पूर्णिमा)
  4. मदनमोहन मन्दिर इस सरोवर के ………… कोण में स्थापित है। (ईशान / आग्नेय)
  5. धौलपुर नगर ………… नियमित सफाई कराती है। (पंचायत / परिषद)

उत्तर:

  1. मथुरा
  2. गंधमादन
  3. अमावस्या
  4. आग्नेय
  5. परिषद्।

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 9 हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड

RBSE Class 6 Hindi हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड अतिलघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 7.
कृष्ण से बदला लेने के लिए मथुरा पर किसने आक्रमण किया था?
उत्तर:
कृष्ण से बदला लेने के लिए मथुरा पर जरासंध ने आक्रमण किया था।

प्रश्न 8.
श्रीकृष्ण को रण छोड़कर क्यों भागना पड़ा?
उत्तर:
भगवान शंकर द्वारा कालयवन को युद्ध में अजेय रहने के दिए वरदान के कारण शंकर के वरदान को पूर्ण करने के लिए श्रीकृष्ण को रण छोड़कर भागना पड़ा।

प्रश्न 9.
कालयवन ने गुफा में पहुँच कर किसे ललकारा था?
उत्तर:
कालयवन ने गुफा में पहुँच कर श्रीकृष्ण को ललकारा था।

प्रश्न 10.
मचकुंड के कुल कितने घाट हैं?
उत्तर:
मचकुंड के कुल 40 घाट हैं।

प्रश्न 11.
मचकुंड के सम्बन्ध में क्या मान्यता है?
उत्तर:
मचकुंड के सम्बन्ध में यह मान्यता है कि इसमें स्नान करने से चर्मरोग समाप्त हो जाते हैं।

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 9 हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड

प्रश्न 12.
रानी गुरु मन्दिर के नाम से किसे जाना जाता है?
उत्तर:
मदनमोहन मन्दिर को रानी गुरु मन्दिर के नाम से भी जाना जाता है।

प्रश्न 13.
परोपकारी संतों के क्या-क्या नाम थे?
उत्तर:
परोपकारी संतों के नाम अब्दालशाह व मौनी बाबा थे।

प्रश्न 14.
राज्य सरकार द्वारा कौनसा वाल नौकायन के लिए विकसित किया जा रहा है?
उत्तर:
राज्य सरकार द्वारा छीतरीया ताल नौकायन के लिए विकसित किया जा रहा है।

RBSE Class 6 Hindi हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड लघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 15.
देवासुर संग्राम में विजय प्राप्त करने के बाद मुचुकंद महाराज कहाँ और क्यों चले गये थे?
उत्तर:
देवासुर संग्राम में विजय प्राप्त करने के बाद मुचुकुंद महाराज विश्राम करने के लिए श्यामाचल पर्वत की एक गुफा में सोने के लिए चले गये थे।

प्रश्न 16.
मुचुकुंद महाराज के जागने पर उनकी दृष्टि सबसे पहले किस पर पड़ी थी और उसका परिणाम क्या हुआ था?
उत्तर:
मुचुकुंद महाराज के जागने पर उनकी दृष्टि सबसे पहले कालयवन पर पड़ी थी। परिणामस्वरूप मुचुकंद महाराज के नेत्रों की ज्वाला से वह भस्म हो गया, क्योंकि देवताओं ने उन्हें वरदान दिया था कि आपको जगाने पर आपकी प्रथम 1 दृष्टि जिस पर पड़ेगी, वह भस्म हो जायेगा।

प्रश्न 17.
मचकुंड सरोवर के किनारे मन्दिरों का निर्माण किसके काल में हुआ था? यह स्थान किसके लिए जाना जाता है?
उत्तर:
मचुकुंड सरोवर के किनारे मन्दिरों का निर्माण धौलपुर | रियासत के शासक महाराज भगवंतसिंह के काल में हुआ | था। यह स्थान धार्मिक आस्था, पवित्र स्नान और कौमी एकता के लिए जाना जाता है।

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 9 हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड

प्रश्न 18.
मचकुंड सरोवर के आसपास कौन-कौनसे धार्मिक स्थल हैं? ये किसके लिए जाने जाते हैं?
उत्तर:
मचकुंड सरोवर के आसपास अनेक हिन्दू मन्दिर, सिक्ख गुरुद्वारा तथा निकट पहाड़ी पर मौनी बाबा की गुफा व अब्दाल शाह की मजार है। ये कौमी एकता के लिए जाने जाते हैं।

प्रश्न 19.
राजगुरु मन्दिर की स्थापना किसने कराई थी? मन्दिर में मुख्य विग्रह कौन-कौनसे हैं?
उत्तर:
राजगुरु मन्दिर की स्थापना महाराज भगवंतसिंह ने कराई थी। मन्दिर के मुख्य विग्रह जगनाथजी, बलरामजी, सुभद्राजी, रामचन्द्र जी, लक्ष्मणजी तथा जानकीजी के हैं।

प्रश्न 20.
मौनी बाबा की गुफा की पवित्रता बनाए रखने के लिए प्रतिवर्ष कौन-कौन श्रमदान करते हैं?
उत्तर:
मौनी बाबा की गुफा की पवित्रता बनाए रखने के लिए प्रतिवर्ष स्काउट गाइड, एन.सी.सी., सांस्कृतिक धरोहर सेना वाहिनी एवं अन्य स्वयंसेवक यहाँ श्रमदान करते हैं।

RBSE Class 6 Hindi हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड निबन्धात्मक प्रश्न

प्रश्न 21.
मुचुकुंद महाराज को किसने, किस रूप में दर्शन दिए थे और क्या कहा था?
उत्तर:
मुचुकुंद महाराज को श्रीकृष्ण ने विष्णु रूप में दर्शन दिए थे। भगवान् के साक्षात् दर्शन होने से मुचुकुंद महाराज ने उनसे संसार में शान्ति का मार्ग पूछा। इसके लिए भगवान ने उन्हें पंचकुंडीय यज्ञ करके गंधमादन पर्वत पर तपस्या के लिए कहा।

प्रश्न 22.
मदनमोहन मन्दिर के पास किन धर्मावलम्बियों का गुरुद्वारा है? उसके सम्बन्ध में जानकारी दीजिए।
उत्तर:
मदनमोहन मन्दिर के पास सिक्ख धर्मावलम्बियों का गुरुद्वारा है जिसे दातावंदी छोड़ शेर शिकार गुरुद्वारे के नाम से जाना जाता है। इसके सम्बन्ध में माना जाता है कि 4 मार्च, 1612 में सिक्खों के छठे गुरु हरगोविन्द सिंह ग्वालियर जाते समय यहाँ एक दिन ठहरे थे।

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 9 हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड

प्रश्न 23.
मचकुंड पर बने लाडली मोहन मंदिर का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
लाडली मोहन मंदिर की स्थापना संवत् 1899 में राजखजाने से की गई थी। धौलपुर के लाल पत्थर से जड़ित यह मंदिर शिल्प कला व नक्काशी का सुन्दर नमूना है। इसके चौक के मध्य 7 फीट ऊँचाई पर अष्टकोण में एक शिवालय है। यहाँ पंचमुखी शिवलिंग के अलावा हनुमान, राम, जानकी व बलराम की मूर्ति विराजमान हैं।

पठित गद्यांश –

निम्नलिखित गद्यांशों को ध्यानपूर्वक पढ़कर पूछे गए प्रश्नों के उत्तर दीजिए –
(1) किंवदंती है कि त्रेता युग में हुए देवासुर संग्राम में इंद्र ने महाराज मुचुकुंद को अपना सेनापति बनाया था। इस युद्ध में विजय होने के बाद मुचुकुंद महाराज विश्राम के लिए श्यामाचल पर्वत की एक गुफा में जाकर सो गए।
प्रश्न – (क) देवासुर संग्राम कब हआ था?
(ख) देवासुर संग्राम किन-किनके मध्य हुआ था?
(ग) इन्द्र ने किसे अपना सेनापति बनाया था?
(घ) मुचुकुंद महाराज कहाँ जाकर सो गए थे?
उत्तर:
(क) देवासुर संग्राम त्रेता युग में हुआ था।
(ख) देवासुर संग्राम देवताओं और असुरों के मध्य हुआ था।
(ग) इन्द्र ने महाराज मुचुकुंद को अपना सेनापति बनाया था।
(घ) मुचुकुंद महाराज श्यामाचल पर्वत की एक गुफा में जाकर सो गये थे।

(2) जब जरासंध ने कृष्ण से बदला लेने के लिए मथुरा पर आक्रमण किया तो कालयवन नामक दैत्य भी उसके साथ था। भगवान शंकर से उसे युद्ध में अजेय रहने का वरदान मिला हुआ था। शंकर के वरदान को पूर्ण करने के लिए श्रीकृष्ण को रण छोड़कर भागना पड़ा। इसी से श्रीकृष्ण ‘रणछोड़’ कहलाए।
प्रश्न – (क) मथुरा पर आक्रमण किसने किया था?
(ख) जरासंध के साथ कौन था?
(ग) भगवान शंकर से युद्ध में अजेय रहने का वरदान किसे मिला था?
(घ) श्रीकृष्ण ‘रणछोड़’ क्यों कहलाए?
उत्तर:
(क) मथुरा पर आक्रमण जरासंध ने किया था।
(ख) जरासंध के साथ कालयवन नाम का दैत्य था।
(ग) भगवान शंकर से युद्ध में अजेय रहने का वरदान कालयवन को मिला था।
(घ) कालयवन को दिए शंकर के वरदान को पूर्ण करने के लिए रण छोड़कर भागने के कारण श्रीकृष्ण ‘रणछोड़’ कहलाए।

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 9 हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड

(3) कालयवन जब श्रीकृष्ण का पीछा करता हुआ वहाँ पहुँचा तो उसने मुचुकुंद महाराज को कृष्ण समझकर ललकारा। मुचुकुंद जागे तो उनकी दृष्टि कालयवन पर पड़ी। नेत्रों की ज्वाला से कालायवन भस्म हो गया। यहाँ श्रीकृष्ण ने मुचुकुंद महाराज को विष्णु रूप में दर्शन दिए। अभिभूत मुचुकुंद महाराज ने भगवान श्रीकृष्ण से संसार में शान्ति का मार्ग पूछा। श्रीकृष्ण ने उन्हें यहाँ पाँच कंडीय यज्ञ करके गंधमादन पर्वत पर तपस्या के लिए कहा।
प्रश्न – (क) मुचुकुंद महाराज को किसने क्या समझ कर ललकारा था?
(ख) मुचुकुंद के जागने पर कौन भस्म हो गया था?
(ग) मुचुकुंद महाराज को किसने किस रूप में दर्शन दिए थे?
(घ) मुचुकुंद महाराज ने श्रीकृष्ण से क्या पूछा था?
उत्तर:
(क) मुचुकुंद महाराज को कालयवन ने कृष्ण समझ कर ललकारा था।
(ख) मुचुकुंद के जागने पर कालयवन भस्म हो गया था।
(ग) मुचुकुंद महाराज को श्रीकृष्ण ने विष्णु रूप में दर्शन दिए थे।
(घ) मुचुकुंद महाराज ने श्रीकृष्ण से संसार में शान्ति का मार्ग पूछा था।

(4) लाडली मोहन मन्दिर काफी प्राचीन है। इसकी स्थापना सम्वत् 1899 में राजखजाने से की गई थी। धौलपुर के लाल पत्थर से जड़ित यह मन्दिर शिल्प कला व नक्काशी का सुन्दर नमूना है। इस चौक के मध्य 7 फीट ऊँचाई पर अष्टकोण में एक शिवालय है। यहाँ पंचमुखी शिवलिंग के अलावा हनुमान, राम, जानकी व बलराम की मूर्ति विराजमान है।
प्रश्न – (क) लाडली मोहन मन्दिर की स्थापना किससे की गई थी?
(ख) लाडली मोहन मन्दिर किससे बना है?
(ग) शिवालय कहाँ स्थित है?
(घ) लाडली मोहन मन्दिर के चौक में और कौन-कौनसी मूर्तियाँ विराजमान हैं?
उत्तर:
(क) लाडली मोहन मन्दिर की स्थापना राजखजाने से की गई थी।
(ख) लाडली मोहन मन्दिर धौलपुर के लाल पत्थर से बना है।
(ग) शिवालय लाड़ली मोहन मन्दिर के चौक में स्थित है।।
(घ) लाडली मोहन मन्दिर के चौक में पंचमुखी शिवलिंग के अलावा हनुमान, राम, जानकी व बलराम की मूर्तियां विराजमान हैं।

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 9 हमारी धरोहर-तीर्थराज मचकुंड

(5) मचकुंड के पास एक पहाड़ी पर अब्दाल शाह रहमतुल्ला अलैह सूफी संत की मजार है। पहाड़ी पर मौनी बाबा की गुफा भी है। जनश्रुति है कि अब्दाल शाह व मौनी बाबा की एक बार भेंट हुई थी। दोनों परोपकारी संत थे। यहीं पर अब्दाल शाह ने अपना स्थान बनाया। यह स्थान साम्प्रदायिक सौहार्द व कौमी एकता की अनूठी मिसाल है।
प्रश्न – (क) अब्दाल शाह की मजार कहाँ है?
(ख) सूफी संत का पूरा नाम क्या था?
(ग) मौनी बाबा और अब्दाल शाह को लेकर क्या जनश्रुति
(घ) मचकुंड के पास पहाड़ी पर बना स्थान किसकी अनूठी मिसाल है?
उत्तर:
(क) अब्दाल शाह की मजार मचकुंड के पास एक पहाड़ी पर है।
(ख) सूफी संत का पूरा नाम अब्दाल शाह रहमतुल्ला अलैह था।
(ग) अब्दाल शाह और मौनी बाबा को लेकर जनश्रुति है कि दोनों परोपकारी संत थे।
(घ) मचकुंड के पास पहाड़ी पर बना स्थान साम्प्रदायिक सौहार्द व कौमी एकता की अनूठी मिसाल है।

पाठ-परिचय:
प्राकृतिक सरोवर मचकुंड पौराणिक महत्त्व का स्थान है। यह स्थान भगवान श्रीकृष्ण और मुचुकुंद महाराज के जीवन से जुड़ा हुआ है। इसका प्रसंग विष्णु पुराण और श्रीमद्भागवत में भी मिलता है। कहा जाता है कि त्रेतायुग में हुए देवासुर संग्राम में इन्द्र ने महाराज मुचुकुंद को अपना सेनापति बनाया था। युद्ध में विजय होने के पश्चात् महाराज श्यामाचल पर्वत की गुफा में विश्राम करने चले गये थे।

वहीं पर कालयवन की मृत्यु के बाद श्रीकृष्ण ने विष्णु रूप में मुचुकुंद महाराज को दर्शन दिए और गंधमादन पर्वत पर तपस्या के लिए कहा था। महाराज मुचुकुंद ने वहाँ पंचकुण्डीय यज्ञ किया था। यह स्थान आजकल मचकुंड के नाम से जाना जाता है। यह स्थान धार्मिक आस्था, पवित्र स्नान तथा कौमी एकता के लिए जाना जाता है। इस कुण्ड के पास अनेक हिन्दू मन्दिर, सिक्ख गुरुद्वारा तथा पहाड़ी पर मौनी बाबा की गुफा व अब्दाल शाह की मजार है। इसे पूर्वांचल का पुष्कर भी कहा जा सकता है।

कठिन शब्दार्थ:
सरोवर = तालाब। कालांतर = बाद में। देवासुर = देवता और असुर (राक्षस)। संग्राम = युद्ध। खलल = विघ्न। दैत्य = राक्षस। अजेय = जिसको जीता न जा सके। निद्रासीन =सोए हुए। भस्म = राख। दूष्टि = नजर।। छटा = सुन्दरता। कौमी = कौम से संबंध रखने वाला, जातीय, राष्ट्रीय। विसर्जन = त्यागना, छोड़ना, सिराना। धर्मावलंबियों = धर्म को मानने वाले। मिसाल = उदाहरण। विरासत = धरोहर। क्षति = नुकसान। नैसर्गिक = प्राकृतिक। विग्रह = मूर्ति, प्रतिमा। अतिशयोक्ति = किसी बात को बढ़ा-चढ़ाकर कहना। स्कन्द = भग। ज्वाला = आग।

Leave a Comment