RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 11 चंबल की आत्मकथा

RBSE Solutions for Class 6 Hindi

Rajasthan Board RBSE Class 6 Hindi Chapter 11 चंबल की आत्मकथा

RBSE Class 6 Hindi चंबल की आत्मकथा पाठ्य-पुस्तक के प्रश्नोत्तर

सोचें और बताएँ

प्रश्न 1.
यह पाठ किस विधा में लिखा गया है?
उत्तर:
यह पाठ आत्मकथा विधा में लिखा गया है।

प्रश्न 2.
चंबल नदी ने किन-किन नदियों के उपकार का बदला चुकाने की बात कही है?
उत्तर:
चंबल नदी. ने बामनी, सीप, मेज, कुराल, घोड़ा पछाड़, कुन्नू, पार्वती, परवन, आहू, कालीसिंध और बनास नदियों के उपकार का बदला चुकाने की बात कही है।

प्रश्न 3.
नदी किस ऋतु में अहंकारी और अमर्यादित हो जाती है?
उत्तर:
वर्षा ऋतु में नदी अहंकारी और अमर्यादित हो जाती

लिखें –

RBSE Class 6 Hindi चंबल की आत्मकथा बहुविकल्पी प्रश्न

प्रश्न 1.
चंबल नदी का उद्गम स्थान है –
(क) मध्यप्रदेश
(ख) राजस्थान
(ग) उत्तरप्रदेश
(घ) महाराष्ट्र।
उत्तर:
(क) मध्यप्रदेश

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 11 चंबल की आत्मकथा

प्रश्न 2.
चंबल नदी पर बना राजस्थान का सबसे बड़ा बाँध है –
(क) गाँधी सागर
(ख) राणा प्रताप सागर
(ग) जवाहर सागर
(घ) कोटा बैराज।
उत्तर:
(ख) राणा प्रताप सागर

कथन के सामने सत्य या असत्य पर निशान लगाएँ –

  1. चंबल को प्राचीन काल में चर्मण्यवती के नाम से जाना जाता था। (सत्य / असत्य)
  2. चंबल नदी यमुना नदी में मिल जाती है। (सत्य / असत्य)
  3. जयपुर चंबल नदी के किनारे बसा है। (सत्य / असत्य)
  4. भैंसरोडगढ़ कोटा जिले में है। (सत्य / असत्य)

उत्तर:

  1. असत्य
  2. सत्य
  3. असत्य
  4. असत्य।

मिलान कीजिए –

  1. बाँध – जिला जहाँ निर्मित है
  2. जवाहर सागर – मन्दसौर
  3. गाँधी सागर – कोटां
  4. कोटा बैराज – चित्तौड़।
  5. राणाप्रताप सागर – बूंदी-कोटा

उत्तर:

  1. बाँध – जिला जहाँ निर्मित है
  2. जवाहर सागर – बूंदी-कोटा
  3. गाँधी सागर – मन्दसौर
  4. कोटा बैराज – कोटा
  5. राणाप्रताप सागर – चित्तौड़

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 11 चंबल की आत्मकथा

RBSE Class 6 Hindi चंबल की आत्मकथा अतिलघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
परमाणु नगरी किसे कहा गया है?
उत्तर:
रावतभाटा को परमाणु नगरी कहा गया है।

प्रश्न 2.
राजस्थान का सबसे बड़ा बाँध कौनसा है?
उत्तर:
राजस्थान का सबसे बड़ा बाँध राणा प्रताप सागर है।

RBSE Class 6 Hindi चंबल की आत्मकथा लघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
चंबल नदी से हमें क्या लाभ हैं?
उत्तर:
चंबल नदी से हमें कई लाभ हैं। इसके जल से हमारे खेतों की सिंचाई होती है। नदी के किनारों पर हरियाली छाई रहती है। राणा प्रताप सागर, जवाहर सागर, गाँधी सागर तथा कोटा बैराज इसी के जल से आप्लावित हैं जो हमारे औद्योगिक विकास में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।

प्रश्न 2.
बोध क्यों बनाए जाते हैं?
उत्तर:
नदियों के पानी को रोकने के लिए बाँध बनाए जाते हैं। बाँध के माध्यम से रोका गया पानी खेती की सिंचाई | तथा विद्युत उत्पादन के काम आता है। अतः कहा जा सकता | है कि बाँध की हमारे जीवन में बहुत उपयोगिता है।

प्रश्न 3.
नदियों को प्रदूषित होने से बचाने के लिए क्या करना चाहिए?
उत्तर:
नदियों को प्रदूषित होने से बचाने के लिए हमें नदियों के जल में गन्दगी, कूड़ा-कचरा, मरे हुए जानवर नहीं डालने चाहिए तथा कारखानों से निकलने वाला अपशिष्ट पदार्थ व नालों का गन्दा पानी आदि प्रवाहित नहीं करना चाहिए।

RBSE Class 6 Hindi चंबल की आत्मकथा दीर्घउत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
चंबल नदी हमारे किस व्यवहार से दुःखी है? अपने शब्दों में लिखिए।
उत्तर:
आज का मनुष्य बहुत स्वार्थी हो गया है। वह अपने स्वार्थ को पूरा करने की दृष्टि से नदियों के किनारे खड़े पेड़ों को काट रहा है और अवैध खनन करने में जुटा हुआ है। इनके अलावा कल-कारखानों के अपशिष्ट पदार्थ, शहर के गन्दे नाले तथा मृत जानवरों के शव आदि नदियों में ही फेंकते हैं। चम्बल नदी इन्हीं व्यवहारों से दु:खी है।

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 11 चंबल की आत्मकथा

प्रश्न 2.
चंबल नदी के किनारे कौन-कौनसे दर्शनीय स्थल बने हुए हैं?
उत्तर:
चंबल नदी के किनारे पालीधाम में झरैल के बालाजी तथा रामेश्वर धाम में चतुर्भुजधाम नामक तीर्थस्थल हैं। सवाई माधोपुर का रामेश्वरधाम त्रिवेणी, केशोरायपाटन में केशवजी मन्दिर, मुनि सुव्रतनाथ की समाधि, अजीज मम्मी साहब की दरगाह, धौलपुर जिले में कुदिन्ना गाँव में बाबू महाराज का थान तथा कोटा में निर्मित उद्यान आदि दर्शनीय स्थल बने

प्रश्न 3.
चंबल नदी राजस्थान के किन-किन जिलों में होकर निकलती है?
उत्तर:
चंबल नदी राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले के चौरासीगढ़ में प्रवेश करती है और राजस्थान के छः जिलों-चित्तौड़गढ़, ‘बूंदी, कोटा, सवाई माधोपुर, करौली व धौलपुर से होती निकलती है।

भाषा की बात –
1. ‘प्रदूषित’ शब्द प्र + दूषित शब्द से बना है। कुछ शब्दांश शब्द के प्रारम्भ में जुड़कर नया शब्द बनाते हैं, उन्हें उपसर्ग कहते हैं; जैसे – प्रदूषित शब्द में ‘प्र’ उपसर्ग है। पाठ में ‘प्र’ उपसर्ग से बने शब्द छाँटिए। आप भी ‘हार’ शब्द में निम्न उपसर्ग जोड़कर शब्द बनाएँ –
प्र ………
वि ……..
उप ……..
आ …….
‘सु’ उपसर्ग लगाकर तीन शब्द बनाएँ।
उत्तर:
प्र उपसर्ग से बने शब्द – प्रवाह, प्रताप, प्रचण्ड। ‘हार’ शब्द में उपसर्ग जोड़कर बने शब्द-प्र+हार = प्रहार। वि+हार = विहार। उप+हार = उपहार । आ+हार = आहार। ‘सु’ उपसर्ग से बने शब्द-सुकर्म, सुलभ, सुकृत।

पाठ से आगे –
1. चंबल नदी ने अपने जीवन के बारे में बताया है। आप भी अपने जीवन के बारे में लिखें और कक्षा में सुनाएँ।
उत्तर:
छात्र अपनी आत्मकथा लिखकर सुनायें।

यह भी करें –
1. आपके गाँव या शहर के पास कौनसी नदी बहती है? यह भी जानें कि इस नदी के पानी का उपयोग किस प्रकार किया जाता है? इस नदी को प्रदूषण से बचाने के लिए आप क्या करेंगे? उत्तर:
स्वयं करें।

2. पानी सीमित है। कई स्थानों पर आपने जल की बरबादी देखी होगी। आप इसे रोकने के लिए क्या-क्या उपाय सोचते हैं?
उत्तर:
स्वयं करें।

RBSE Class 6 Hindi चंबल की आत्मकथा अन्य महत्त्वपूर्ण प्रश्न

RBSE Class 6 Hindi चंबल की आत्मकथा वस्तुनिष्ठ प्रश्न

प्रश्न 1.
चंबल नदी निकलती है –
(क) चौरासीगढ़ से
(ख) भैंसरोडगढ़ से
(ग) हिमालय से
(घ) जनापाव पहाड़ी से।
उत्तर:
(घ) जनापाव पहाड़ी से।

प्रश्न 2.
चंबल नदी की सर्वप्रथम घेराबंदी की गई –
(क) चित्तौड़गढ़ जिले में
(ख) धौलपुर जिले में
(ग) मंदसौर जिले में
(घ) कोटा जिले में।
उत्तर:
(ग) मंदसौर जिले में

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 11 चंबल की आत्मकथा

प्रश्न 3.
परमाणु नगरी कहलाती है –
(क) चित्तौड़गढ़
(ख) रावतभाटा
(ग) सवाई माधोपुर
(घ) पालीधाम।
उत्तर:
(ख) रावतभाटा

प्रश्न 4.
केशवजी का मन्दिर स्थित है –
(क) धौलपुर में
(ख) पालीधाम में
(ग) केशोरायपाटन में।
(घ) कुदिन्ना गाँव में।
उत्तर:
(ग) केशोरायपाटन में।

प्रश्न 5.
चंबल सफारी स्थित है –
(क) पालीधाम में।
(ख) धौलपुर में
(ग) बूंदी में
(घ) भरतपुर में।
उत्तर:
(ख) धौलपुर में

रिक्त स्थानों की पूर्ति –
प्रश्न 6.
उचित शब्द से रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए –

  1. मैं यहाँ से निकली तो यह नहीं सोचा था कि रास्ता इतना ………. होगा। (सुगम / दुर्गम)
  2. मुख्यधारा से भटके जन मेरी …….. पाकर सात्विक जीवन में लौटे। (शीतलता / पावनता)
  3. बन्दूक की जगह ……….. देखकर मुझे खुशी होती (कलम / धर्म)
  4. मेरे खौफनाक जीवन पर ……….. आनन्द की विजय (सरलता / सरसता)
  5. उपकार करोगे तो उससे मैं सदैव …….. रहूँगी। (कृतज्ञ / कृतघ्न)

उत्तर:

  1. दुर्गम
  2. शीतलता
  3. कलम
  4. सरसता
  5. कृतज्ञ।

RBSE Class 6 Hindi चंबल की आत्मकथा अतिलघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 7.
जनापाव पहाड़ी कहाँ स्थित है?
उत्तर:
जनापाव पहाड़ी मध्यप्रदेश के इंदौर जिले में मऊ के पास स्थित है।

प्रश्न 8.
गाँधी सागर बाँध कहाँ स्थित है?
उत्तर:
गाँधी सागर बाँध मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में स्थित है।

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 11 चंबल की आत्मकथा

प्रश्न 9.
चंबल नदी राजस्थान में कहाँ से प्रवेश करती है?
उत्तर:
चंबल नदी राजस्थान में चित्तौड़गढ़ जिले के चौरासीगढ़ से प्रवेश करती है।

प्रश्न 10.
चंबल नदी ने अपने मार्ग में किनसे भय नहीं खाया?
उत्तर:
चंबल नदी ने अपने मार्ग में ऊबड़-खाबड़ धरातल व टेढ़े-मेढ़े रास्तों से कभी भय नहीं खाया।

प्रश्न 11.
राजस्थान का बिल्लौर कौन कहलाता है?
उत्तर:
राजस्थान का बिल्लौर भैंसरोडगढ़ का किला कहलाता

प्रश्न 12.
चंबल नदी के किनारे कौन-कौनसे स्थान बसे हुए हैं?
उत्तर:
चंबल नदी के किनारे भैंसरोडगढ़, कोट, केशोरायपाटन, पालीधाम, रामेश्वरधाम तथा धौलपुर बसे हुए हैं।

प्रश्न 13.
चंबल के पानी से लिफ्ट योजना द्वारा सिंचाई किन-किन जिलों में होती है?
उत्तर:
चंबल के पानी से लिफ्ट योजना द्वारा सिंचाई सवाई माधोपुर, करौली, भरतपुर व धौलपुर जिले में होती है।

प्रश्न 14.
राजस्थान व मध्यप्रदेश के बीच चंबल नदी कितनी सीमा में बहती है?
उत्तर:
राजस्थान व मध्यप्रदेश के बीच चंबल नदी 250 किलोमीटर सीमा के बीच बहती है।

प्रश्न 15.
हमारे शास्त्रों में क्या कहा गया है?
उत्तर:
हमारे शास्त्रों में कहा गया है कि जो धर्म की रक्षा करता है, धर्म उनकी रक्षा करता है।

प्रश्न 16.
चंबल यमुना नदी से कहाँ जाकर मिलती है?
उत्तर:
चंबल यमुना नदी से इटावा जिले के मुरादगंज में जाकर मिलती है।

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 11 चंबल की आत्मकथा

RBSE Class 6 Hindi चंबल की आत्मकथा लघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 17.
पहाड़ी मार्ग से निकलने के बाद चंबल को बहते देखकर लोगों की कैसी मनोवृत्ति बनी?
उत्तर:
पहाड़ी मार्ग से निकलने के बाद चंबल को बहते देखकर कुछ लोग अभावों की दुनिया में उसे प्यार और स्नेह के साथ देखकर उसका स्वागत किया, तो कुछ लोग उसके घरघराते प्रवाह को देखकर भयभीत हो गये।

प्रश्न 18.
चंबल नदी को अपने पिता की सीख कब याद आई? वह सीख क्या थी?
उत्तर:
चंबल नदी पर जब गाँधी सागर बाँध पर उसका जल रोका गया तब उसे अपने पिता की सीख याद आयी। वह सीख थी कि जीवन में हमेशा चलते रहो, आगे बढ़ते रहो, कभी भी हिम्मत न हारो।

प्रश्न 19.
चंबल नदी किन-किन नदियों की मदद करना चाहती है और क्यों?
उत्तर:
चंबल नदी बामनी, सीप, मेज, कुराल, घोड़ापछाड़, कुन्नू, पार्वती, परवन, आहू, कालीसिंध तथा बनास नदियों के उपकार को न भूलने के कारण मदद करना चाहती है, क्योंकि इन नदियों का जल गर्मियों में सूख जाता है।

RBSE Class 6 Hindi चंबल की आत्मकथा निबन्धात्मक प्रश्न

प्रश्न 20.
नदियाँ अहंकारी और अमर्यादित कब हो जाती हैं? इसका मानव जीवन पर क्या प्रभाव पड़ता है?
उत्तर:
कुछ नदियाँ वर्षा काल में जल स्तर के बढ़ जाने के कारण अहंकारी और अमर्यादित हो जाती हैं। परिणामस्वरूप उनमें बाढ़ आ जाती है। जिसके कारण किनारे बसे गाँवों में बाढ़ आ जाती है। खड़ी फसलें नष्ट हो जाती हैं। छानछप्पर, पशु, पक्षी, जन आदि बह जाते हैं और कच्चे मकान गिर जाते हैं। इससे अपार जन-धन की हानि होती है और मानव जीवन पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

प्रश्न 21.
चंबल नदी ने अपने जीवन में आए परिवर्तनों को किन-किन रूपों में देखा? वर्णित कीजिए।
उत्तर:
चंबल नदी ने अपनी आत्मकथा में बताया है कि कभी मैंने अपने जल पर बाँधों को बँधते देखा, तो कभी मैंने गरजती बन्दूकों की खौफनाक जिंदगियों से घिरते देखा, तो कभी बालीवुड की जमात से घिरा देखा तो कभी मुख्यधारा, से भटके जनों को सात्विक जीवन में लौटते देखा। इनके साथ ही मैंने अपने जीवन में ऊबड़-खाबड़, टेढ़े-मेढ़े रास्तों को भी देखा लेकिन धैर्य कभी नहीं छोड़ा। युग बदला, शासन बदला, पुल बने और मार्ग सुगम हुए। पठित गद्यांशनिम्नलिखित गद्यांशों को ध्यानपूर्वक पढ़कर पूछे गए प्रश्नों के उत्तर दीजिए

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 11 चंबल की आत्मकथा

(1) मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में सर्वप्रथम मेरी घेराबंदी की गई। नाम दिया-गाँधीसागर बाँध। लगा कि अब बस मेरी इतिश्री हो जाएगी, लेकिन मुझे अपने पिता विंध्याचल से मिली यह सीख याद आती है।
प्रश्न – (क) चंबल नदी की सबसे पहले घेराबंदी कहाँ की गयी?
(ख) मंदसौर जिला कहाँ स्थित है?
(ग) गाँधी सागर बाँध कहाँ बनाया गया है?
(घ) चंबल के पिता का क्या नाम है?
उत्तर:
(क) चंबल नदी की सबसे पहले घेराबंदी मंदसौर जिले में की गई।
(ख) मंदसौर जिला मध्य प्रदेश में स्थित है।
(ग) गाँधी सागर बाँध मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में बनाया गया है।
(घ) चंबल के पिता का नाम विंध्याचल है।

(2) मैंने रावतभाटा को परमाणु नगरी बनते देखा है। चित्तौड़गढ़ जिले की भैंसरोडगढ़ तहसील में मेरा जल राणा प्रताप का नाम पाकर धन्य हो गया। मुझे गर्व है कि यहाँ बना बाँध राजस्थान का सबसे बड़ा बाँध है। जवाहर सागर व कोटा बैराज भी मेरे अपने ही हैं। मैं जंगल की रानी थी, लेकिन भैंसरोड़गढ़ में मेरे तट पर सुन्दर जल दुर्ग बना तो मैं फूली नहीं समायी। भैंसरोडगढ़ किला राजस्थान का ‘बैल्लौर’ कहलाता है। मुझे राजस्थान के छह जिलों का अक्षुण्ण साथ मिला है। ये जिले हैं-चित्तौड़गढ़, बूंदी, कोटा, सवाईमाधोपुर, करौली व धौलपुर। इतने मित्रों को पाकर मैं अपना घर छोड़ने का दर्द भूल गई।
प्रश्न – (क) परमाणु नगरी किसे कहा जाता है?
(ख) राणा प्रताप सागर बाँध कहाँ बनाया गया?
(ग) राजस्थान का सबसे बड़ा बाँध कौनसा है?
(घ) चंबल के मित्र जिले कौन-कौनसे हैं?
उत्तर:
(क) परमाणु नगरी रावतभाटा को कहा जाता है।
(ख) राणा प्रताप बाँध चित्तौड़गढ़ जिले की भैंसरोडगढ़ तहसील में बनाया गया है।
(ग) राजस्थान का सबसे बड़ा बाँध राणा प्रताप सागर है।
(घ) चंबल के मित्र जिले चित्तौड़गढ़, बूंदी, कोटा, सवाईमाधोपुर, करौली व धौलपुर हैं।

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 11 चंबल की आत्मकथा

(3) धौलपुर जिले में कुदिन्ना गाँव में बाबू महाराज के थान की घण्टियों से मेरा मन भक्ति से आप्लावित हो उठता है। धौलपुर में चंबल सफारी में नौका विहार करते पर्यटक मेरे खौफनाक जीवन पर सरसता व आनंद की विजय है। आज भी अनेक गाँवों की सूखी धरती व प्यासे लोगों को देखकर मेरा गला भर आता है। सवाईमाधोपुर व भरतपुर जिले के अलावा करौली व धौलपुर जिलों में भी लिफ्ट योजना द्वारा मेरे जल से हरियाली आ जाए तो मैं इसे अपने जीवन की सार्थकता मानूँगी।
प्रश्न – (क) बाबू महाराज का थान कहाँ स्थित है?
(ख) धौलपुर में नौका विहार कहाँ होता है?
(ग) चंबल का गला क्यों भर आता है?
(घ) लिफ्ट योजना किन जिलों में प्रचलित है?
उत्तर:
(क) बाबू महाराज का थान धौलपुर जिले के कुदिन्ना गाँव में स्थित है।
(ख) धौलपुर में चंबल सफारी में नौका विहार होता है।
(ग) सूखे गाँवों और प्यासे लोगों को देखकर चंबल का गला भर आता है।
(घ) लिफ्ट योजना सवाईमाधोपुर, भरतपुर, करौली और धौलपुर जिलों में प्रचलित है।

(4) राजस्थान व मध्यप्रदेश के बीच लगभग 250 किलोमीटर की सीमा में मुझे जो प्यार व स्नेह मिला उसे मैं भुला नहीं सकती। मझे’चंबल मैया’ कहा जाता है। मैं माँ का दर्जा पाकर धन्य हो गई। मैं अपनी संतति के लिए सब कुछ देने को तैयार हैं। लिफ्ट लगाकर मेरा जल कहीं भी ले जाओ, बाँध बनाकर बिजली बनाओ या उद्योग, खेती और उद्यानों को सिंचित करो परन्तु माँ के अस्तित्व के लिए एक विनती है कि कल-कारखानों के अपशिष्ट पदार्थ, शहर के गंदे नाले, मृत जानवरों के शव आदि मुझमें मत फेंको। इनसे मेरा दम घुटता है।
प्रश्न – (क)चंबल नदी को ‘चंबल मैया’ कहाँ कहा जाता
(ख) माँ का दर्जा पाकर कौन धन्य हो गयी?
(ग) चम्बल या अन्य बड़ी नदियों का पानी दूसरी जगह कैसे ले जाया जाता है?
(घ) नदी के जल में क्या-क्या नहीं डालना चाहिए?
उत्तर:
(क) चंबल नदी को ‘चंबल मैया’ राजस्थान व मध्यप्रदेश में कहा जाता है।
(ख) माँ का दर्जा पाकर चंबल नदी धन्य हो गई।
(ग) चंबल या अन्य बड़ी नदियों का पानी लिफ्ट योजना द्वारा दूसरी जगह ले जाया जाता है।
(घ) नदी के जल में कल-कारखानों के अपशिष्ट पदार्थ, शहर के गंदे नाले, मृत जानवरों के शव आदि नहीं डालने चाहिए।

RBSE Solutions for Class 6 Hindi Chapter 11 चंबल की आत्मकथा

पाठ-परिचय:
यह पाठ चंबल नदी की आत्मकथा है। चंबल कहती है कि विंध्याचल पर्वत की जनापाव पहाड़ी मेरा घर है। मैं यहाँ से निकल कर मैदानों में आयी। मंदसौर जिले में मेरी घेराबंदी कर गाँधीसागर बाँध मुझ पर बनाया गया। मैंने आगे बढ़ते हुए चित्तौड़गढ़ जिले के चौरासीगढ़ में राजस्थान की पावन धरती को छुआ।

चित्तौड़गढ़ में भैंसरोडगढ़ में राजस्थान का सबसे बड़ा बाँध मुझ पर बनाया गया। राजस्थान के छह जिलों से मैं गुजरती हूँ। कोटा में मेरे लिए उद्यान बनाया गया और धौलपुर जिले.में.आकर कुदिन्वा गाँव में बाबू महाराज के थान का स्पर्श कर धन्य हो गई। राजस्थान और मध्यप्रदेश के बीच लगभग 250 किलोमीटर सीमा में बहती हूँ। लोग मुझे ‘चंबल मैया’ कहते हैं। उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के मुरादगंज में मैं यमुना बहिन से मिल जाती हूँ।

कठिन-शब्दार्थ:
दुर्गम = कठिन। निर्जनता = सूनापन। जमात = समूह। कुतूहल = आश्चर्य। अकूत = असीमित। विचलित = बेचैन। सदा नीरा = सदैव जल से युक्त। तरवर = वृक्ष। परकाज = दूसरे के कार्य। सम्पत्ति = धन। पर्यटक = भ्रमण करने वाले। सुलभ = आसानी से उपलब्ध होना। नित्यवाहिनी = रोजाना बहने वाली। संतति = संतान। अथाह = जिसकी कोई थाह न हो। अक्षुण्ण = कभी नष्ट न होने वाला। निर्मल = मलरहित, स्वच्छ।

Leave a Comment