RBSE Class 6 Hindi व्याकरण विशेषण

RBSE Solutions for Class 6 Hindi

Rajasthan Board RBSE Class 6 Hindi व्याकरण विशेषण

प्रश्न 1.
विशेषण किसे कहते हैं? उदाहरण सहित लिखिए।
उत्तर:
जो शब्द संज्ञा या सर्वनाम आदि की विशेषता बताते हैं, उन्हें विशेषण कहते हैं। जैसे- सुन्दर, काली, सफेद, मोटा, चौथा, गजभर आदि।

RBSE Class 6 Hindi व्याकरण सर्वनाम

प्रश्न 2.
विशेष्य किसे कहते हैं। उदाहरण सहित लिखिए।
उत्तर:
जिस संज्ञा अथवा सर्वनाम की विशेषता बताई जाती है, उसे विशेष्य कहते हैं। जैसे-

  1. मनोहर परिश्रमी लड़का है।
  2. मुझे मीठे आम पसंद हैं। इन वाज्यों में मनोहर, आम विशेष्य शब्द हैं।

प्रश्न 3.
विशेषण के कितने भेद हैं?
उत्तर:
विशेषण के मुख्य रूप से चार भेद हैं-

  1. गुणवाचक
  2. संख्यावाचक
  3. परिमाणवाचक
  4. सार्वनामिक या संकेत्तवाचक विशेषण।

RBSE Class 6 Hindi व्याकरण सर्वनाम

प्रश्न 4.
गुणवाचक विशेषण किसे कहते हैं?
उत्तर:
जो शब्द संज्ञा या सर्वनाम के गुण, दोष, दशा, अवस्था, रंग, आकार आदि का बोध कराते हैं, उन्हें गुणवाचक विशेषण कहते हैं। जैसे-तगड़े बच्चे, बड़ा अंडा, अच्छा लड़का, सब्जी, दुर्बल आदमी, आकर्षक इमारत, खट्टा आम, धोरांवाली धरती, घिड़िया, ऊपरवाली खिड़की आदि।

प्रश्न 5.
संख्यावाचक विशेषण किसे कहते हैं?
उत्तर:
जिन विशेषण शब्दों से संज्ञा या सर्वनाम की संख्या का बोध होता है, उन्हें संख्यावाचक विशेषण कहते हैं। जैसे- दो, चार, कुछ, हजारों, कम आदि।

प्रश्न 6.
परिमाणवाचक विशेषण किसे कहते हैं?
उत्तर:
किसी वस्तु की नाप-तौल बताने वाले विशेषण परिमाणवाचक विशेषण कहलाते हैं। जैसे-एक गज, कुछ ग्राम, पाँच किलो, कम से कम आदि।

RBSE Class 6 Hindi व्याकरण सर्वनाम

प्रश्न 7.
सार्वनामिक या संकेतवाचक विशेषण किसे कहते हैं।
उत्तर:
जो विशेषण शब्द संज्ञा या सर्वनाम की विशेषता बनाने के लिए प्रयुक्त होते हैं, उन्हें सार्वनामिक या संकेतवाचक विशेषण कहते हैं। जैसे- यह, वह आदि।

प्रश्न 8.
प्रविशेषण किसे कहते हैं?
उत्तर:

  1. वे शब्द जो विशेषणों की विशेषता बतलाते हैं, प्रविशेषण कहलाते हैं। जैसे बकरी बहुत तेज दौड़ी।
  2. हाड़ा रानी अत्यन्त सुन्दर थी। यहाँ ‘बहुत’ व अत्यन्त’ प्रविशेषण हैं क्योंकि ये ‘तेज’ और ‘सुन्दर’ विशेषन शब्दों की विशेषता बतला रहे हैं।

RBSE Class 6 Hindi व्याकरण सर्वनाम

प्रश्न 9.
विशेषण को कितनी अवस्थाएं होती हैं? उदाहरण सहित लिखिए।
उत्तर:
विशेषण को तीन अवस्थाएं होती हैं। इनका ज्ञान गुणवाचक विशेषण में तुलना के आधार पर होता है। तीन अवस्थाएँ इस प्रकार हैं-

  1. मूलावस्था-श्रेष्ठ, लघु, चतुर आदि।
  2. उत्तरावस्था-श्रेष्ठतर, लपुर, चतुरतर आदि।
  3. उत्तमावस्था-श्रेष्ठतम, लघुतम, चतुरतम आदि।

प्रश्न 10.
परिमाणवाचक विशेषण है
(क) बनारसी
(ख) काला
(ग) चौथा
(घ) कल
उत्तर:
(ग) चौथा

RBSE Class 6 Hindi व्याकरण सर्वनाम

प्रश्न 11.
‘बाहरी’ किस प्रकार का विशेषण है
(क) संकेतवाचक
(ख) परिमाणवाचक
(ग) गुणवाचक
(घ) संख्यावाचक
उत्तर:
(ग) गुणवाचक

प्रश्न 12.
“यह कुत्ता काला है।” इसमें संकेतवाचक विशेषण है
(क) कुता
(ख) यह
(ग) काला
(घ) है
उत्तर:
(ख) यह

RBSE Class 6 Hindi व्याकरण विशेषण

Leave a Comment